Yoga for Anger: रोजाना 2 मिनट करें ये योगासन, छूमंतर हो जाएगा गुस्सा, हमेशा रहेंगे खुशहाल

0
1


आज के समय में गुस्सा काफी बड़ी समस्या बन गया है. लोग छोटी-छोटी बातों पर अपना आपा खो देते हैं और खुद को या फिर सामने वाले को नुकसान पहुंचा बैठते हैं. जिसका बाद में उन्हें पछतावा भी होता है. इसलिए इस आर्टिकल में हम ऐसे योगासनों के बारे में जानेंगे, जो गुस्सा कंट्रोल करने में मदद कर सकते हैं. आइए जानते हैं कि गुस्सा कंट्रोल करने में योगा कैसे मदद कर सकता है और इसके लिए कौन-से योगासन करने चाहिए.

Yoga for Anger: गुस्सा कंट्रोल करने के लिए रोजाना करें ये योगासन
अत्यधिक गुस्सा आने के पीछे तनाव एक बहुत बड़ा कारण होता है और स्ट्रेस मैनेजमेंट के लिए योगा काफी महत्वपूर्ण होता है. अगर आपको भी बहुत ज्यादा गुस्सा आता है और आप इसे कंट्रोल करना चाहते हैं, तो रोजाना 2 मिनट इन योगासनों को कर सकते हैं.

1. सुखासन के फायदे
सुखासन सबसे आसान योगासनों में से एक है. इसे करने के लिए आप आरामदायक और शांत जगह पर योगा मैट बिछाकर बैठ जाएं. अब घुटनों को मोड़कर क्रॉस करके बैठ जाएं और हाथों को प्रणाम की मुद्रा में छाती के पास रखें. अपनी कमर सीधी रखते हुए आंखों को बंद करें और ध्यान लगाने की कोशिश करें. अपनी सांसों को गहरा और धीमा रखें. इस योगासन को 2 मिनट तक करें.

2. बालासन के फायदे
बालासन आपके दिमाग को शांत करने और गुस्सा कंट्रोल करने में मदद करता है. इसके साथ ही आपका शरीर लचीला बनता है. बालासन करने के लिए आप योगा मैट पर वज्रासन की मुद्रा में बैठ जाएं. इसके बाद गहरी सांस लेते हुए हाथों को ऊपर सीधा उठाएं और फिर धीरे-धीरे सांस छोड़ते हुए सिर को जमीन की तरफ लाएं. ध्यान रखें कि इस दौरान आपकी कमर सीधी रहे और हाथ सामने की तरफ जमीन पर फैले रहें. थोड़ी देर इसी स्थिति में रहने की कोशिश करें.

इन बीमारियों को दावत देता है गुस्सा
अगर आप गुस्सा कंट्रोल नहीं करते हैं, तो आपको इन समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है. जैसे-

  • हाई ब्लड प्रेशर
  • क्रॉनिक स्ट्रेस
  • ब्रेन स्ट्रोक
  • ब्रेन हेमरेज
  • हृदय रोग, आदि

Disclaimer:
इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है. हालांकि इसकी नैतिक जिम्मेदारी ज़ी न्यूज़ हिन्दी की नहीं है. हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें. हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है.





Source link

पिछला लेखPAK vs WI: रोहित-विराट को पीछे छोड़ने से चूके बाबर आजम, विंडीज ने पाक कप्तान को नहीं रचने दिया इतिहास
अगला लेखइंडोनेशिया ओपन में भारतीय चुनौती समाप्त, पीवी सिंधू और लक्ष्य सेन क्वार्टर फाइनल में हारकर टूर्नामेंट से हुए बाहर
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।