Tulsi की माला धारण करने के बाद जरूर करें इन नियमों का पालन, जानिए क्या हैं वो

0
0


tulsi puja : जो लोग एकबार तुलसी की माला पहन लेते हैं फिर सात्विक भोजन ही करते हैं.

Dharma news : हिन्दू धर्म में तुलसी के पौधे को भगवान का रूप दिया गया है. सुबह शाम इसमें जल चढ़ाना और दिया जलाना नियम है. इस पौधे को देवी लक्ष्मी का रूप माना जाता है. ऐसी मान्यता है कि इसका पौधा लगाने से घर से नकारात्मक ऊर्जा दूर रहती है. घर की तरक्की होती है. ये तो हो गई इसके पौधे के धार्मिक महत्व के बारे में. अब आपको बताते हैं इसकी लकड़ी से बनी माला के बारे में जिसको धारण करने के बाद कुछ नियमों का पालन करना चाहिए. 

यह भी पढ़ें

तुलसी माला पहनने के नियम | Rules for wearing Tulsi Mala

– जो लोग एक बार तुलसी की माला पहन लेते हैं फिर सात्विक भोजन ही करते हैं. मांस मदिरा को हाथ नहीं लगाते हैं. इसके धारण करने के बाद लहसुन प्याज का भी सेवन नहीं करना चाहिए.

– तुलसी की माला को एक बार पहनने के बाद बार-बार उतारना नहीं चाहिए. वहीं, इस माला को पहनने से पहले गंगाजल से धो लीजिए. फिर जब सूख जाए तो पहन लीजिए.

– जो लोग तुलसी की माला एक बार धारण कर लेते हैं वो रोजाना विष्णु मंत्र का जाप करते हैं. वहीं इसके साथ रुद्राक्ष नहीं पहनना चाहिए. यह अशुभ माना जाता है.

– अगर आपको तुलसी की माला गले में पहनने से परेशानी है तो दाएं हाथ में उसे लपेटकर भी पहन सकते हैं. वहीं, नित्य क्रिया करने से पहले इसे निकाल कर रख दीजिए. फिर उसे गंगाजल से धोकर पहनें.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. एनडीटीवी इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

Featured Video Of The Day

कुश्ती फेडरेशन से नाराज दिग्गज पहलवान, बजरंग पुनिया-साक्षी मलिक धरने पर बैठे



Source link

पिछला लेखशीतलहर में नहीं बढ़ेगा ब्लड प्रेशर, फ्री में बीपी को कंट्रोल करने का मिल गया तरीका, आज ही उठाएं लाभ
अगला लेखसुबह-सुबह खाली पेट खाएं 5 भीगे हुए सुपर फूड, इम्यूनिटी होगी बूस्ट, चेहरे पर भी आएगा निखार
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।