tik tok ban revokes in pakistan: पाकिस्तान का फिर आया चाइनीज ऐप TikTok पर दिल, तीसरी बार बैन हटा, जानें क्या है वजह – pakistan again revokes ban on chinese app tiktok over objectionable content, see details

0
1


हाइलाइट्स:

  • टिकटॉक के पाकिस्तान में करोड़ों यूजर
  • पाकिस्तान की अदालत ने हटाया बैन
  • पिछले 3 साल में 60 लाख वीडियो हटाए गए

नई दिल्ली।
Pakistan Revokes Ban On Chinese App TikTok:
पाकिस्तान का चाइना प्रेम एक बार फिर से जाहिर हो गया है। जी हां, पाकिस्तान में आपत्तिजनक कंटेंट का प्रसार करने के मामलें में प्रतिबंध झेल रहे टिकटॉक पर से प्रतिबंध पाकिस्तान की एक अदालत ने हटा दिया है, जिसके बाद फिर से अब पाकिस्तान की करोड़ों जनता टिकटॉक पर तरह-तरह के धांसू वीडियो बना सकेंगे और दुनियाभर का मनोरंजन कर सकेंगे। इससे पहले भी पाकिस्तान में टिकटॉक को कुछ समय के लिए बैन कर दिया गया था। हालांकि, बाद में बैन हटा भी दिया गया था।

ये भी पढ़ें-शानदार डिजाइन वाले Nokia Clarity Solo Buds+ और Nokia Go Earbuds+ होंगे लॉन्च, देखें खूबियां

अश्लील कंटेंट को बढ़ावा देने का मामला
शनिवार को पाकिस्तान के प्रोविंशल कोर्ट ने पॉपुलर सोशल मीडिया ऐप टिकटॉक पर लगे बैन को हटा दिया। बीते गुरुवार को पाकिस्तान टेलिकॉन अथॉरिटी ने तीसरी बार टिकटॉक पर बैन लगाते हुए कहा कि यह ऐप आपत्तिजनक और अश्लील कंटेंट को बढ़ावा देता है। बाद में सिंध प्रांत स्थित एक कोर्ट में इस मामले की सुनवाई हुई और जिरह के बाद टिकटॉक पर लगे बैन को हटा दिया गया। दरअसल, टिकटॉक पर बैन के बाद करोड़ों लोगों ने इसका विरोध किया और बैन हटाने की मांग की। ऐसी सूरत में लोगों की भावनाओं और चीन के साथ अपने रिश्ते को देखते हुए जरूर पाकिस्तानी कोर्ट ने इस बारे में टिकटॉक के फेवर में फैसला सुनाया।

ये भी पढ़ें-कम दाम में Samsung के 1 टन और 1.5 Ton inverter AC खरीदने का मौका, बचेंगे हजारों रुपये

पाकिस्तान समेत दुनियाभर में टिकटॉक पॉपुलर

बैन लगाने और हटाने का सिलसिला
आपको बता दें कि पाकिस्तान में इससे पहले भी दो बार बैन लगाया जा चुका है। आपत्तिजनक और अश्लील कंटेंट के मामले में इसपर बैन लगा था। हालांकि, बाद में नियम और शर्तों के साथ बैन हटा दिया गया था। बीते बुधवार को रिपोर्ट में एक बात सामने आई कि पिछले तीन महीने में टिकटॉक पाकिस्तान ने 60 लाख से ज्यादा वीडियो हटाए, जिनमें 15 फीसदी कंटेंट में न्यूडिटी और लैंगिक एक्टिविटी को बढ़ावा देने वाले थे। बीते साल भारत में प्राइवेसी और डेटा सिक्योरिटी का हवाला देते हुए टिकटॉक और पबजी समेत 200 से ज्यादा चाइनीज ऐप्स को बैन कर दिया गया था। भारत में 10 करोड़ से ज्यादा लोग टिकटॉक प्लैटफॉर्म पर थे। टिकटॉक बैन होने के बाद से लोगों को भारत में कई और शॉर्ट वीडियो शेयरिंग ऐप्स के विकल्प मिले।

ये भी पढ़ें-सैमसंग का सस्ता फोन Samsung Galaxy A03s होने वाला है लॉन्च, देखें संभावित खूबियां



Source link

पिछला लेखसफलता की कुजी: इन आदतों के कारण जीवन में देखना पड़ता है धन का संकट, ऐसे पाएं लक्ष्मी जी की कृपा
अगला लेखजब विश्व कप-2007 से बाहर होने के बाद राहुल द्रविड़ ने दिखाई थी धोनी-इरफान पठान को फिल्म
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।