smartphone sale 2023, नए साल में नया फोन खरीदने वालों की मौज! बच गया तगड़ा स्टॉक, ऐसे सस्ते में करें खरीददारी – smartphone on huge discount in new year 2022 order online

0
0


नई दिल्ली। अगर आप नए साल में नया स्मार्टफोन खरीदने की सोच रहे हैं तो आपके लिए खुशखबरी है, क्योंकि नए साल में सस्ते में स्मार्टफोन खरीद पाएंगे। दरअसल पिछले साल स्मार्टफोन का बड़ा स्टॉक बच गया है। ऐसे में यूजर्स नए साल में बड़ी छूट की उम्मीद कर सकते हैं। मार्केट जानकारों की मानें, तो साल 2022 की आखिरी तिमाही में स्मार्टफोन ब्रांड की भारी इन्वेंट्री बच गई है। रिपोर्ट की मानें, तो साल की आखिरी तिमाही स्मार्टफोन इंडस्ट्री के लिए सबसे खराब तिमाही रही है। ऐसे में खासतौर पर एंट्री-लेवल और बजट स्मार्टफोन्स के लिए बड़ी छूट की उम्मीद की जा सकती है।

नहीं बिके स्मार्टफोन
साल 2022 में अक्टूबर से दिसंबर के त्योहारी सीजन में स्मार्टफोन की डिमांड कम रही। ऐसे में टॉप ब्रांड स्मार्टफोन अपनी ऑफिशिल साइट से स्मार्टफोन को भारी डिस्काउंट पर बेच रहे हैं।

रिपोर्ट की मानें, तो कम डिमांड और हाई इन्वेंट्री की वजह से हमें नवंबर में स्मार्टफोन शिपमेंट में माह दर माह तेज गिरावट रही। जानकार मानते हैं कि साल 2022 स्मार्टफोन ब्रांडों के लिए सबसे खराब तिमाही हो सकती है। अक्टूबर से इन्वेंट्री अभी भी पाइपलाइन में अटकी हुई है। ऐसे में चैनल पार्टनर, ऑफ़लाइन और ऑनलाइन मौजूदा इन्वेंट्री को समाप्त करने के लिए ज्यादा स्टॉक लेना बंद कर देंगे। ऐसे में स्मार्टफोन पर भारी छूट ऑफर की जाएगी।

मौजूदा वक्त में Xiaomi, Samsung और Realme सहित टॉप स्मार्टफोन ब्रांड अपनी ऑफिशियल वेबसाइटों पर मुख्य रूप से छूट ऑफर कर रहे हैं।

काउंटरप्वाइंट रिसर्च ने अपने स्मार्टफोन शिपमेंट के अपने अनुमान को घटाकर 163 मिलियन कर दिया है, जो इसके पहले के 175 मिलियन था। वही IDC इंडिया ने इस साल की शुरुआत में करीब 160 मिलियन स्मार्टफोन यूनिट शिपमेंट का अनुमान जाहिर किया था, जो 150 मिलियन यूनिट हो सकता है।

Counterpoint रिपोर्ट के मुताबिक 2023 की दूसरी छमाही में मार्केट में रौनक लौट सकती है। साल 2022 में 5 फीसद की सालाना गिरावट के बाद 2023 में मार्केट 175 मिलियन यूनिट शिपमेंट कर सकता है। काउंटरपॉइंट रिपोर्ट की मानें, तो साल 2023 में 5G स्मार्टफोन की डिमांड 4G स्मार्टफोन से ज्यादा होगी।



Source link

पिछला लेखVed Vaani: जटिल नहीं है वेद-पुराणों को समझना, इन विभाजन क्रम से समझें
अगला लेखदिल्ली के वृद्धाश्रम में आग लगने से दो लोगों की मौत, 13 घायल
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।