Sankashti Chaturthi Vrat 2022: संकष्टी गणेश चतुर्थी जुलाई में कब? जानें पूजा विधि और रोचक कथा

0
0


Sankashti Chaturthi in July 2022, Puja Vidhi:  संकटहर्ता विघ्नहर्ता भगवान गणेश की उपासना करने से मनुष्य के समस्त शारीरिक और मानसिक कष्ट दूर हो जाते हैं. हर महीने में दो बार चतुर्थी पड़ती है. एक बार शुक्ल पक्ष की चतुर्थी जिसे वैनायिकी चतुर्थी के नाम से जाना जाता है. दूसरी बार कृष्ण पक्ष की चतुर्थी जिसे संकष्टी चतुर्थी (Sankashti Chaturthi 2022) के नाम से जाना जाता है. ऐसी मान्यता है कि भगवान गणेश की विधिवत पूजा करने से संकटों से मुक्ति मिलती है. मनुष्य की समस्त मनोकामना पूरी होती है.

  1. जुलाई महीने में कृष्ण पक्ष के संकष्टी चतुर्थी (Sankashti Chaturthi 2022) रविवार 17 जुलाई 2022 को मनाई जाएगी
  2. चतुर्थी तिथि का प्रारंभ 16 जुलाई दिन शनिवार को दोपहर 1:27 से प्रारंभ होकर 17 जुलाई दिन रविवार को सुबह 10:49 तक रहेगा.

संकष्टी चतुर्थी की पूजा विधि और रोचक कथा (Sankashti Chaturthi Puja vidhi Katha)

संकष्टी चतुर्थी (Sankashti Chaturthi 2022) के दिन भगवान गणेश की पूजा अर्चना करने से विशेष लाभ प्राप्त होता है. प्रातः काल स्नान करके भगवान गणेश की प्रतिमा स्थापित करें. फूल, माला, अक्षत चढ़ाकर गणेश भगवान की पूजा करें, और आरती उतारे. भगवान को मोदक अत्यधिक प्रिय है. मोदक का भोग लगाएं और दूर्वा घास अर्पित करें. इससे भगवान गणेश की कृपा प्राप्त होती है. मनुष्य के सभी संकट दूर हो जाते हैं.

भगवान गणेश को संकटहर्ता क्यों कहा जाता है? इसके पीछे एक पौराणिक कथा है. एक बार भगवान शिव और माता पार्वती जंगल में चौपड़ का खेल खेल रहे थे. दोनों अकेले थे. इसलिए मां पार्वती ने कहा कि हार और जीत का निर्णय करने के लिए किसी तीसरे का होना आवश्यक है. इसलिए उन्होंने माटी की एक बालक की मूर्ति बनाई और उसमें प्राण फूंक दिए. चौपड़ के खेल में उस बालक ने निर्णायक की भूमिका दिखाई.

गलती से एक बार माता पार्वती को हारा हुआ घोषित कर दिया. जिससे क्रोधित होकर माता पार्वती ने उसे श्राप दे दिया और वह बालक लंगड़ा हो गया. बालक के क्षमा मांगने पर माता पार्वती ने कहा कि- दिया हुआ श्राप तो वापस नहीं हो सकता है. लेकिन अगर तुम गणेश की प्रार्थना करो तो तुम्हारे संकट जरूर दूर हो जाएंगे. तभी से ऐसी मान्यता है कि भगवान गणेश की प्रार्थना करने से शारीरिक और मानसिक संकट दूर हो जाते हैं.

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें.



Source link

पिछला लेखGautam Adani VS Mukesh Ambani, टेलीकॉम सेक्टर में उतरेंगे गौतम अडानी? मुकेश अंबानी की Jio को 5G की नीलामी में देंगे टक्कर! – gautam adani may enter in 5 spectrum auction against mukesh ambani jio airtel
अगला लेखCM योगी के भोज में पहुंचे अखिलेश के चाचा और सहयोगी, राष्ट्रपति उम्मीदवार द्रौपदी मूर्मु के पक्ष में करेंगे वोट
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।