Rajasthan News: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का दावा, राज्य में शिक्षा के क्षेत्र में हुआ बड़ा काम

0
1


Image Source : FILE PHOTO
Rajasthan Chief Minister Ashok Gehlot

Highlights

  • राजस्‍थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का दावा
  • ‘आजादी से लेकर 2018 तक राज्य में 250 कॉलेज ही थे’
  • ‘हमने तीन साल में 210 कॉलेज शुरू किए’

Rajasthan News: राजस्‍थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बृहस्पतिवार को कहा कि उनकी सरकार ने बीते तीन साल के अपने कार्यकाल में 210 कॉलेज शुरू किए, जो राज्‍य में उच्च शिक्षा के क्षेत्र में बड़ा कदम है। इसके साथ ही गहलोत ने कॉलेजों में आवेदन करने वाले विद्यार्थियों में छात्राओं की संख्या अधिक होने पर प्रसन्नता व्यक्त की। गहलोत ने ट्वीट किया, ‘मेरा लक्ष्य राजस्थान को शिक्षा एवं स्वास्थ्य में सर्वोत्तम बनाने का है। मुझे प्रसन्नता है कि जनता का इस कार्य में भरपूर सहयोग मुझे मिल रहा है। आजादी से लेकर 2018 तक प्रदेश में करीब 250 राजकीय कॉलेज ही थे। हमने तीन साल में 210 कॉलेज शुरू किए, जो उच्च शिक्षा के क्षेत्र में एक बड़ा कदम है। सरकार ने इनके लिए इमारत और फैकल्टी के स्थायी एवं अस्थायी इंतजाम किए हैं। इन इंतजामों को आगे और बेहतर किया जाएगा।’

अगस्त में 130 कॉलेजों का लोकार्पण एवं शिलान्यास 

उन्होंने कहा कि अगस्त में करीब 130 कॉलेजों के लोकार्पण एवं शिलान्यास किए जाएंगे। गहलोत ने कहा, ”यह बेहद प्रसन्नता की बात है कि हमारी सरकार द्वारा पिछले तीन सालों में खोले गए 210 राजकीय कॉलेजों की प्रथम वर्ष की 45,302 सीटों पर 59,356 आवेदन अभी तक आ चुके हैं एवं प्रवेश प्रक्रिया अब भी जारी है। खुशी की बात यह है कि आवेदन करने वाली लड़कियों की संख्या लड़कों से अधिक है।”

‘आजादी से लेकर 2018 तक 250 राजकीय कॉलेज थे’ 

मुख्यमंत्री ने कहा कि इससे बालिकाओं की पढ़ाई छोड़ने की दर कम होगी। उन्होंने कहा कि यह इन सभी कॉलेजों की लोकप्रियता को दिखाता है। उन्होंने कहा आजादी से लेकर 2018 तक प्रदेश में करीब 250 राजकीय कॉलेज ही थे। हमने तीन साल में 210 कॉलेज शुरू किए, जो उच्च शिक्षा के क्षेत्र में एक बड़ा कदम है। अगस्त में करीब 130 कॉलेजों के लोकार्पण एवं शिलान्यास किए जाएंगे।





Source link

पिछला लेखशमशेरा के फेल होने पर करण मल्होत्रा बोले: मैं इतनी नफरत संभाल नहीं पाया, शमशेरा मेरा है
अगला लेखआर्मी में निकली शॉर्ट सर्विस कमीशन के तहत बंपर पदों पर भर्ती, ऐसे करें आवेदन
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।