PFI के नेताओं और पदाधिकारियों पर बड़ा एक्शन, जब्त की जा रही संपत्तियां, पढ़िए पूरी डिटेल

0
0


Image Source : FILE
PFI के नेताओं और पदाधिकारियों पर बड़ा एक्शन

केरल हाई कोर्ट की फटकार के बाद राजस्व विभाग ने आज से प्रतिबंधित संगठन PFI के नेताओं और पदाधिकारियों की संपत्ति को जब्त करने का काम शुरू कर दिया है। केरल हाईकोर्ट ने सरकार से इस संगठन के राज्य सचिव अब्दुल सत्तार और अन्य पदाधिकारियों की संपत्ति को बिना नोटिस दिए जब्त करने का निर्देश दिया था। पिछले साल 23 सितंबर को इस संगठन पर प्रतिबंध लगाने के विरोध में केरल में हुई हड़ताल से सार्वजनिक संपत्ति का बहुत नुकसान हुआ था। 

आदेश के बाद भी रकम जमा नहीं हुई, तो दिया जब्ती का हुक्म

इससे संबंधित मामले की सुनवाई कर रही केरल हाई कोर्ट की डिविजन बेंच ने इस नुकसान के लिए 5 करोड़ रुपए जमा करने का आदेश दिया था लेकिन तय समय तक ये रकम जमा नहीं करवाई गई, जिसके बाद कोर्ट ने प्रतिबंधित संगठन PFI के राज्य सचिव सहित अन्य पदाधिकारियों की संपत्ति को जब्त करने का आदेश दिया।

23 जनवरी तक जब्ती की कार्रवाई पूरी करने की है मियाद

बुधवार को सुनवाई के दौरान कोर्ट ने राजस्व विभाग पर अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए इस काम को तत्काल शुरू करने और 23 जनवरी तक पूरा करने की हिदायत दी। इसके बाद राजस्व विभाग ने जब्ती की कार्रवाई का आदेश निकाला और 5 जिलों के जिलाधीशों ने आज ये कार्रवाई शुरू कर दी। 5 जिलों में PFI के 30 पदाधिकारियों की संपत्ति को जब्त करने का काम जारी है। राजस्व विभाग ने सम्बन्धित अधिकारियों को शनिवार तक इस काम को पूरा करने का निर्देश दिया है।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन





Source link

पिछला लेखGoogle Layoff: कर्मचारियों की छंटनी की लिस्ट में गूगल का नाम हुआ शामिल! करीब 12,000 लोगों की जाएगी नौकरी
अगला लेखMauni Amavasya 2023: मौनी अमावस्या कल, जानें स्नान-दान का मुहूर्त, मंत्र और पूजा विधि
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।