NEET PG 2021: यह काम करने वाले स्टूडेंट्स को परीक्षा में मिलेंगे एक्स्ट्रा मार्क्स! जानें सुप्रीम कोर्ट ने क्या कहा

0
4


हाइलाइट्स:

  • नीट पीजी अभ्यर्थियों पर सुप्रीम कोर्ट में चर्चा
  • परीक्षा में मिल सकते हैं ग्रेस मार्क्स
  • देश में डॉक्टर्स, नर्सेज़ की कमी पूरी करने के लिए कोर्ट की सलाह

How to get grace marks in NEET PG 2021: क्या आप इस बार नीट पीजी (NEET PG) की परीक्षा देने वाले हैं? तो आपके लिए काम की खबर है। आपको इस परीक्षा में अतिरिक्त अंक पाने का मौका मिल सकता है। इस बारे में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में सुनवाई हुई है। जानिये देश की शीर्ष अदालत में कोविड-19 (Covid-19), डॉक्टर्स व नर्सेज़ की कमी और नीट पीजी के मामले पर क्या हुआ?

जस्टिस चंद्रचूड़ की बेंच ने महामारी के मौजूदा हालात में देश में डॉक्टर्स, नर्स व अन्य हेल्थकेयर प्रोफेशनल्स की कमी का मुद्दा हाइलाइट किया। उन्होंने कहा कि मार्च 2020 से ही ये स्वास्थ्यकर्मी फ्रंटफुट पर काम कर रहे हैं। वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए जाहिर है कि डॉक्टर्स, नर्सेज़ व अन्य हेल्थकेयर वर्कर्स (Healthcare Workers) की डिमांड बढ़ेगी।

ऐसी परिस्थिति में सुप्रीम कोर्ट ने उन अभ्यर्थियों को कोविड ड्यूटी में लगाये जाने की सलाह दी है जो नीट पीजी 2021 परीक्षा में शामिल होने वाले हैं। सर्वोच्च न्यायालय (SC) ने कहा कि करीब 1.5 लाख डॉक्टर्स नीट पीजी परीक्षा का इंतजार कर रहे हैं, जो फिलहाल चार महीने टल चुकी है। इनके मेडिकल कोर्स पूरे हो चुके हैं और इंटर्नशिप्स (Medical Internship) भी।

लेकिन कोर्ट ने यह भी कहा कि अगर इन फ्रंटलाइन वर्कर्स को 15 से 20 हजार रुपये दिये जाएंगे, तो शायद बहुत से लोग आगे नहीं आयें। इसपर सॉलिसिटर जेनरल (Solicitor General) तुषार मेहता (Tushar Mehta) ने एक दूसरा तरीका सुझाया। उन्होंने कोर्ट से कहा कि जो अभ्यर्थी कोविड ड्यूटी करेंगे, उन्हें इंसेंटिव के तौर पर नीट पीजी परीक्षा में ग्रेस मार्क्स भी दिये जा सकते हैं।

ये भी पढ़ें : Govt Jobs: कोविड ड्यूटी में लगे इन लोगों को सरकारी नौकरियों में मिलेगी प्राथमिकता, केंद्र सरकार का फैसला

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने कुछ दिन पहले बैठक कर कोविड-19 परिस्थितियों की समीक्षा की थी। इसमें एमबीबीएस फाइनल ईयर स्टूडेंट्स और नर्स ट्रेनिंग पूरी कर चुके युवाओं को कोविड ड्यूटी में लगाये जाने की बात कही थी। साथ ही 100 दिन कोविड ड्यूटी पूरी करने वाले स्वास्थ्यकर्मियों को आने वाली सरकारी नौकरियों (Medical Govt Jobs) में प्राथमिकता और कोविड नेशनल सर्विस सम्मान देने की घोषणा की थी।

ये भी पढ़ें : Railway Jobs 2021: रेलवे में कोरोना वॉरियर्स की जरूरत, 10वीं पास भी करें अप्लाई

अब देखना है कि नीट पीजी में ग्रेस मार्क्स को इंसेंटिव के तौर पर इस्तेमाल करने की बात पर सरकार क्या फैसला लेती है। लेकिन अगर ऐसा होता है, तो यह उम्मीदवारों के लिए अच्छा अवसर साबित हो सकता है।



Source link

पिछला लेखस्टारकिड का जन्मदिन: 24 साल की हुई आमिर खान की बेटी आइरा, एक्टिंग में नहीं डायरेक्शन में बनाना चाहती हैं मुकाम, डिप्रेशन से भी जूझ चुकीं
अगला लेखदिल्ली में लगातार घट रही कोरोना का पॉजिटिविटी रेट, जानिए ताजा अपडेट
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।