Maruti Suzuki के ग्राहकों को अब नहीं करना होगा वेटिंग का सामना, कंपनी कर रही इस मास्टर प्लान पर काम

0
1


Photo:PTI Maruti suzuki

Highlights

  • हर हाल में ऑर्डर डिलीवर करने पर ध्यान
  • कंपनी की मार्केट में हिस्सेदारी हुई कम
  • 11,000 करोड़ रुपये निवेश करने की तैयारी

Maruti Suzuki: देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (Maruti Suzuki India) ने सेमीकंडक्टर (Semiconductor) की आपूर्ति में सुधार से चालू वित्त वर्ष में करीब 20 लाख इकाइयों के उत्पादन का लक्ष्य रखा हुआ है, जिसके लिए वह अपने उत्पादन में बढ़ोतरी भी करेगी। कंपनी के चेयरमैन आर सी भार्गव ने वित्त वर्ष 2021-22 की वार्षिक रिपोर्ट में शेयरधारकों को संदेश देते हुए इस बात की जानकारी दी है।

हर हाल में ऑर्डर डिलीवर करने पर ध्यान

उन्होनें कहा है कि चालू वित्त वर्ष में 20 लाख इकाइयों के उत्पादन लक्ष्य को हासिल करने में नया एसयूवी मॉडल ग्रैंड विटारा एक अहम भूमिका निभाएगा। पिछले वित्त वर्ष में मारुति सुजुकी का उत्पादन 13.4 प्रतिशत बढ़कर 16.52 लाख इकाई रहा था। अप्रैल-जून 2021 में महामारी की दूसरी लहर के कारण उत्पादन गतिविधियों पर पड़े प्रतिकूल प्रभाव के बावजूद कंपनी ने यह उत्पादन आंकड़ा हासिल किया था। इसके अलावा सेमीकंडक्टर की आपूर्ति बाधित होने से भी कंपनी मांग के अनुरूप वाहनों की बिक्री नहीं कर पाई थी। वित्त वर्ष 2021-22 के अंत में हम बुकिंग के बावजूद करीब 2.7 लाख वाहनों की आपूर्ति नहीं कर पाए थे, लेकिन इस बार हमें आपूर्ति के लिए तैयार रहना होगा।

कंपनी की मार्केट में हिस्सेदारी हुई कम

घरेलू बाजार में आपूर्ति कम होने की वजह से इसकी बाजार में हिस्सेदारी करीब 50 फीसदी से कम होकर 43.4 फीसदी पर आ गई थी। भारतीय वाहन निर्माताओं के संगठन सियाम के आंकड़ों के मुताबिक, घरेलू बाजार में वर्ष 2021-22 में कुल 30,69,499 यात्री वाहनों की बिक्री हुई थी जबकि एक साल पहले 27,11,457 इकाई की बिक्री हुई थी। 

भार्गव ने वित्त वर्ष 2022-23 के लिए अपना आकलन पेश करते हुए कहा, “सेमीकंडक्टर की उपलब्धता बेहतर होने से वाहन उत्पादन की स्थिति बेहतर होगी। अपना उत्पादन बढ़ाने के लिए हमने कुछ कदम भी उठाए हैं। हमने इस आंकड़े को 20 लाख इकाई तक पहुंचाने का लक्ष्य रखा है। वैसे इसे हासिल कर पाना एक चुनौती होगी।” हालांकि उन्होंने आगे ये भी कहा कि ग्रैंड विटारा मॉडल का उत्पादन टोयोटा के संयंत्र में होने से मारुति सुजुकी के लिए उत्पादन बढ़ाने की चुनौती को पूरा करने की उम्मीद सही हो सकती है। 

11,000 करोड़ निवेश करने की तैयारी

उन्होंने कहा कि ग्रैंड विटारा मॉडल के आने से एसयूवी मॉडल में कंपनी की स्थिति मजबूत होगी। इसके अलावा कंपनी ने हाल ही में अपनी पुरानी एसयूवी ब्रेजा को नए अवतार में उतारा है। इलेक्ट्रिक वाहनों के संदर्भ में कंपनी के चेयरमैन ने कहा है कि वित्त वर्ष 2024-25 से सुजुकी मोटर कॉरपोरेशन के गुजरात संयंत्र में इलेक्ट्रिक मॉडलों का उत्पादन शुरू हो जाएगा और मारुति इनकी बिक्री करेगी। ईवी मॉडल के कार बाजार में अहम स्थान लेने में अभी और वक्त लगेगा। उन्होंने कहा कि मारुति सुजुकी ने अपनी जरूरतों को ध्यान में रखते हुए हरियाणा के खरखोडा में नया उत्पादन संयंत्र लगाने की तैयारी शुरू कर दी है। इस संयंत्र के पहले चरण में 11,000 करोड़ रुपये निवेश किए जाएंगे। 

Latest Business News





Source link

पिछला लेख29 हजार सस्ता हुआ SAMSUNG Galaxy Tab S7+, Discount पाने के लिए अपनाएं ये ट्रिक – samsung galaxy tab s7 discount offer flipkart with 29 thousand order now
अगला लेखBIS Recruitment 2022: बीआईएस में ग्रेजुएट इंजीनियर की भर्ती, यहां चेक करें पूरी डिटेल्स
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।