Management of Breast cancer: ब्रेस्ट कैंसर को मैनेज करने के लिए अपनाएं यह 4 इफेक्टिव टिप्स

0
0


हाइलाइट्स

अगर ब्रेस्ट कैंसर का शुरुआत में ही निदान हो जाए, तो इसका उपचार संभव है.
इसे मैनेज करने के इफेक्टिव टिप्स में नियमित मैमोग्राम्स, ब्रेस्ट की जांच, हेल्दी लाइफस्टाइल आदि शामिल है.

Management of Breast cancer: ब्रेस्ट कैंसर एक तरह का कैंसर है, जिसकी शुरुआत ब्रेस्ट में होती है. यह कैंसर एक या दोनों ब्रेस्ट्स में हो सकता है. यह कैंसर तब होता है, जब ब्रेस्ट में सेल्स अनकंट्रोल्ड तरीके से ग्रो और डिवाइड होना शुरू हो जाते हैं, जिससे ट्यूमर बनने की शुरुआत होती है. ब्रेस्ट कैंसर के लक्षणों में ब्रेस्ट में लम्प बनना, ब्रेस्ट साइज में बदलाव आदि शामिल हैं. अगर इस समस्या का शुरुआत में ही निदान हो जाए, तो इसका उपचार संभव है. यही नहीं, इसके बाद रोगी सामान्य जीवन भी जी सकता है. ब्रेस्ट कैंसर के लक्षणों को पहचानें और तुरंत निदान कराएं. ब्रेस्ट कैंसर को मैनेज करने के लिए इन इफेक्टिव टिप्स को भी अपनाया जा सकता है.

ये भी पढ़ें: Fingertip Peeling: फिंगरटिप पीलिंग के क्या हैं कारणजानिए इसके होम रेमेडीज

 ब्रेस्ट कैंसर को मैनेज करने के इफेक्टिव टिप्स
मायो क्लिनिक के अनुसार, स्किन कैंसर के बाद ब्रेस्ट कैंसर महिलाओं में डाइग्नोज होने वाला सबसे सामान्य कैंसर है. ब्रेस्ट कैंसर महिलाओं और पुरुषों दोनों को हो सकता है लेकिन महिलाओं में यह अधिक सामान्य है. ब्रेस्ट कैंसर को मैनेज करने के इफेक्टिव टिप्स इस प्रकार हैं:

नियमित मैमोग्राम्स कराएं- ब्रेस्ट कैंसर को मैनेज करने के लिए चालीस साल से अधिक के उम्र की महिलाओं को हर साल इस टेस्ट की सलाह दी जाती है, ताकि इसका निदान जल्दी हो सके.

ब्रेस्ट को एग्जामिन करें- बीस साल की उम्र के बाद हर महिलांए ब्रेस्ट एग्जामिन करनी चाहिए. इससे आप अपनी ब्रेस्ट की बनावट और अहसास से परिचित हो जाएंगी और किसी भी तरह के परिवर्तनों के प्रति अधिक सतर्क रहेंगी।

ये भी पढ़ें: महिलाओं में ज्यादा गंभीर होता है टाइप 2 डायबिटीज, जानें पुरुषों से कैसे अलग होते हैं इसके लक्षण

डॉक्टर से सलाह लें- बीस की उम्र के बाद हर तीन साल बाद डॉक्टर से ब्रेस्ट एग्जामिन कराएं और चालीस के बाद हर साल यह कराना जरूरी है. क्लिनिक ब्रेस्ट एग्जाम से लम्पस को डिटेक्ट किया जा सकता है.

लाइफस्टाइल फैक्टर्स- लाइफस्टाइल फैक्टर्स भी ब्रेस्ट कैंसर को प्रभावित करते हैं. जैसे जो लोग मोटापे से पीड़ित होते हैं उनमें ब्रेस्ट कैंसर के डेवलप होने की संभावना अधिक रहती है. ऐसे में वजन सही रखने के लिए सही आहार लें और नियमित व्यायाम करें.

Tags: Cancer, Health, Lifestyle, Women Health



Source link

पिछला लेख12वीं पास युवाओं के लिए निकली सहायक रेडियोग्राफर की बंपर भर्ती, यहां से करें अप्लाई 
अगला लेखLPG Price Hike: महंगाई से शुरू नया साल, LPG सिलेंडर के बढ़ गए दाम
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।