Hooch Tragedy: गुजरात में जहरीली शराब पीने से 19 की मौत, कई गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती

0
0


ख़बर सुनें

गुजरात के बोतड़ जिले के रोजिद गांव में नकली शराब पीने से कम से कम 19 लोगों की मौत हो गई है। वहीं, एक दर्जन से ज्यादा लोगों को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस के मुताबिक, मामले की जांच के दौरान तीन लोगों को हिरासत में लिया गया है। उन पर नकली शराब बनाने और बेचने का आरोप है। 

गुजरात के डीजीपी आशीष भाटिया ने कहा, “हिरासत में रखे गए तीनों लोगों से पूछताछ की जा रही है।” इससे पहले एक मृतक की पत्नी ने कहा था कि उसके पति की तबियत रविवार रात को नकली शराब पीने के बाद ही बिगड़नी शुरू हुई। नकली शराब पीने की वजह से अस्पताल में भर्ती हिम्मतभाई नाम के एक शख्स ने कहा कि दो दर्जन से ज्यादा लोग बीमार हुए हैं।

भावनगर रेंज के आईजी अशोक कुमार यादव ने शाम को ही बोतड़ के सिविल अस्पताल का दौरा किया। उन्होने कहा कि मामले की जांच के लिए एक एसआईटी का गठन किया गया है, जो कि डीएसपी रैंक की अफसर की निगरानी में काम करेगी। 

गौरतलब है कि गुजरात में शराब पर पूरी तरह बैन लागू है। यहां बॉम्बे प्रोहिबिशन एक्ट, 1949 के तहत पुलिस शराब खरीदने, पीने और इसे रखने वालों पर कार्रवाई कर सकती है। दोषी पाए गए लोगों को तीन महीने से लेकर पांच साल तक की जेल की सजा का भी प्रावधान है। 

केजरीवाल का तंज- जहरीली शराब की बिक्री से मिले पैसे जाते कहां हैं?
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को गुजरात में जहरीली शराब त्रासदी को ‘‘दुर्भाग्यपूर्ण’’ करार दिया और कहा कि इस ‘शुष्क’ राज्य में जो लोग शराब बेच रहे हैं, उन्हें राजनीतिक संरक्षण प्राप्त है। उन्होंने इस बात की जांच की भी मांग की कि जहरीली शराब की बिक्री से मिलने वाले पैसे ‘कहां जाते हैं। केजरीवाल ने कहा, ‘‘यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि गुजरात में शराबबंदी के बाद भी भारी मात्रा में अवैध शराब बेची जाती है। ये कौन लोग हैं जो शराब बेचते हैं? उन्हें राजनीतिक संरक्षण प्राप्त है। (शराब की बिक्री से जो) पैसे आते हैं, वे कहां जाते हैं। इसकी जांच की जरूरत है।’’ आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक केजरीवाल सोमवार को गुजरात के पोरबंदर हवाई अड्डे पर पहुंचे जहां से वह सोमनाथ गए।

विस्तार

गुजरात के बोतड़ जिले के रोजिद गांव में नकली शराब पीने से कम से कम 19 लोगों की मौत हो गई है। वहीं, एक दर्जन से ज्यादा लोगों को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस के मुताबिक, मामले की जांच के दौरान तीन लोगों को हिरासत में लिया गया है। उन पर नकली शराब बनाने और बेचने का आरोप है। 

गुजरात के डीजीपी आशीष भाटिया ने कहा, “हिरासत में रखे गए तीनों लोगों से पूछताछ की जा रही है।” इससे पहले एक मृतक की पत्नी ने कहा था कि उसके पति की तबियत रविवार रात को नकली शराब पीने के बाद ही बिगड़नी शुरू हुई। नकली शराब पीने की वजह से अस्पताल में भर्ती हिम्मतभाई नाम के एक शख्स ने कहा कि दो दर्जन से ज्यादा लोग बीमार हुए हैं।

भावनगर रेंज के आईजी अशोक कुमार यादव ने शाम को ही बोतड़ के सिविल अस्पताल का दौरा किया। उन्होने कहा कि मामले की जांच के लिए एक एसआईटी का गठन किया गया है, जो कि डीएसपी रैंक की अफसर की निगरानी में काम करेगी। 

गौरतलब है कि गुजरात में शराब पर पूरी तरह बैन लागू है। यहां बॉम्बे प्रोहिबिशन एक्ट, 1949 के तहत पुलिस शराब खरीदने, पीने और इसे रखने वालों पर कार्रवाई कर सकती है। दोषी पाए गए लोगों को तीन महीने से लेकर पांच साल तक की जेल की सजा का भी प्रावधान है। 

केजरीवाल का तंज- जहरीली शराब की बिक्री से मिले पैसे जाते कहां हैं?

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को गुजरात में जहरीली शराब त्रासदी को ‘‘दुर्भाग्यपूर्ण’’ करार दिया और कहा कि इस ‘शुष्क’ राज्य में जो लोग शराब बेच रहे हैं, उन्हें राजनीतिक संरक्षण प्राप्त है। उन्होंने इस बात की जांच की भी मांग की कि जहरीली शराब की बिक्री से मिलने वाले पैसे ‘कहां जाते हैं। केजरीवाल ने कहा, ‘‘यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि गुजरात में शराबबंदी के बाद भी भारी मात्रा में अवैध शराब बेची जाती है। ये कौन लोग हैं जो शराब बेचते हैं? उन्हें राजनीतिक संरक्षण प्राप्त है। (शराब की बिक्री से जो) पैसे आते हैं, वे कहां जाते हैं। इसकी जांच की जरूरत है।’’ आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक केजरीवाल सोमवार को गुजरात के पोरबंदर हवाई अड्डे पर पहुंचे जहां से वह सोमनाथ गए।



Source link

पिछला लेखKargil Vijay Diwas : कारगिल विजय दिवस के 23 साल पूरे, जानें इस युद्ध से जुड़े कई राज
अगला लेखSimple One Electric Scooter: 203 KM की लंबी रेंज, टॉप स्पीड और परफॉर्मेंस की पूरी डिटेल
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।