EV चार्जिंग स्टेशन लगाने की लाइसेंस फीस हुई कम, आप भी शुरू कर सकते हैं यह बिजनेस

0
2


हाइलाइट्स

दिल्ली में कुल वाहनों की बिक्री का लगभग 10 प्रतिशत इलेक्ट्रिक वाहनों के रूप में दर्ज किया है.
ज्यादा ईवी चार्जिंग स्टेशनों के साथ शहर में इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री बढ़ने की उम्मीद है.
मुंबई, चेन्नई और कोलकाता जैसे अन्य प्रमुख मेट्रो शहरों की तुलना में दिल्ली में ईवी ज्यादा हैं.

नई दिल्ली. राष्ट्रीय राजधानी में इलेक्ट्रिक वाहनों के बुनियादी ढांचे को बढ़ाने के लिए दिल्ली में इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने के लिए लाइसेंस फीस कम कर दी गई है. दिल्ली विकास प्राधिकरण ने उस प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है, जिससे राष्ट्रीय राजधानी में पेट्रोल डीजल पंपों और सीएनजी स्टेशनों पर ईवी चार्जिंग स्टेशन बनाए जा सकते हैं. इस कदम से दिल्ली की सड़कों पर इलेक्ट्रिक वाहनों की संख्या बढ़ाने में भी मदद मिलेगी. पिछली तिमाही में शहर ने कुल वाहनों की बिक्री का लगभग 10 प्रतिशत इलेक्ट्रिक वाहनों के रूप में दर्ज किया है.

दिल्ली में इलेक्ट्रिक वाहनों की पहुंच बढ़ाने के लिए मौजूदा बुनियादी ढांचे का उपयोग करने की पहल से भी लंबे समय में प्रदूषण पर अंकुश लगाने में मदद मिलने की उम्मीद है. ज्यादा ईवी चार्जिंग स्टेशनों के साथ शहर में इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री बढ़ने की उम्मीद है. डीडीए ने बुधवार को एक बयान जारी किया, जिसमें लिखा था, “ग्रीन फ्यूल को बढ़ावा देने और वायु प्रदूषण के खतरे से लड़ने के लिए प्राधिकरण ने पेट्रोल/डीजल पंप पर चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने की मंजूरी दे दी है. डीडीए ने इन साइटों/स्टेशनों के लिए कम लाइसेंस फीस लगाने का भी फैसला किया है.”

ये भी पढ़ें- Tiago, WagonR और Celerio में से कौन सी CNG कार है बेस्ट, देखें तीनों की कीमत में अंतर?

अब कितनी लगेगी लाइसेंस फीस?
डीडीए के अनुसार, इस वित्तीय वर्ष में ऐसे स्थानों पर ईवी चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने के लिए वार्षिक लाइसेंस फीस पेट्रोल पंप के लिए 53 लाख रुपये और सीएनजी स्टेशन के लिए 46.11 लाख रुपये है. सीएनजी स्टेशनों के लिए, जो पेट्रोल या डीजल भी बांटते हैं, उनके लिए लाइसेंस फीस ₹43.46 लाख और ₹47.70 लाख के बीच हो सकती है.

दिल्ली में किसी भी शहर से ज्यादा इलेक्ट्रिक व्हीकल
मुंबई, चेन्नई और कोलकाता जैसे अन्य प्रमुख मेट्रो शहरों की तुलना में दिल्ली में ईवी ज्यादा हैं. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पहले कहा था कि उन्हें उम्मीद है कि दिल्ली में इस साल इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री में 100 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि होगी. केजरीवाल ने कहा कि पिछले दो साल में दिल्ली में 60,846 इलेक्ट्रिक वाहन बिके, जिनमें से पिछले साल 25,809 यूनिट्स बिकी इलेक्ट्रिक व्हीकल की थी.

ये भी पढ़ें- भारत की ऑटो इंडस्‍ट्री भी नहीं रहेगी चीन-ताइवान जंग से अछूती, एक्‍सपर्ट से समझें कितना होगा असर?

इस साल जमकर हो रही इलेक्ट्रिक व्हीकल की बिक्री
दिल्ली में इस साल अब तक इलेक्ट्रिक वाहनों ने सीएनजी वाहनों की बिक्री को पीछे छोड़ दिया है. पहले सात महीनों के भीतर दिल्ली में पहले ही 29,845 इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री हो गई देखी है, ईवी बिक्री के मामले में अपना बेस्ट रिकॉर्ड बनाने की राह पर है. केजरीवाल को राष्ट्रीय राजधानी में ईवी की बिक्री में 115 प्रतिशत की वृद्धि की उम्मीद है, जो साल के अंत तक और बढ़ सकती है.

Tags: Auto News, Autofocus, Automobile, Car Bike News



Source link

पिछला लेखSweet Corn Recipes: स्वीट कॉर्न से बनने वाली इन 6 फूड रेसिपीज़ का लाजवाब है स्वाद
अगला लेखiPhone 13 Best Price, iPhone 14 के इंतजार की जरूरत नहीं! Xiaomi के फोन की जितनी हुई iPhone 13 की कीमत – iphone 13 price drop just before release of iphone 14 buy online
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।