Elon Musk को Michael Saylor ने दी और Bitcoin खरीदने की दी सलाह!

0
0


Elon Musk ने सबको हैरानी में डाल दिया था कि वो Manchester United फुटबाल टीम को खरीदने जा रहे हैं। 

खास बातें

  • Musk के ट्वीट पर Michael Saylor की भी प्रतिक्रिया आई
  • Saylor ने घोषणा की थी कि वह अब MicroStrategy CEO नहीं रहेंगे
  • फरवरी 2021 में Tesla ने 1.5 खरब डॉलर के बिटकॉइन खरीदे थे

Michael Saylor ने Elon Musk को एक खास सलाह दी है. दरअसल, Elon Musk ने अपने एक ट्वीट के जरिए लोगों को हैरानी में डाल दिया था कि वो Manchester United फुटबाल टीम को खरीदने जा रहे हैं. Twitter खरीदने की डील को लेकर ट्विटर और एलन मस्क के बीच अभी भी मामला उलझा हुआ है. खरीद के बारे में एक और ट्वीट करके मस्क ने सबको हैरानी में डाल दिया कि अब वो Manchester United फुटबाल टीम को खरीदने जा रहे हैं. 

Elon Musk के फुटबाल टीम को खरीदे जाने के ट्वीट के बाद जब फैन्स ने इस पर प्रतिक्रिया देना शुरू किया तो मस्क ने कहा कि वो तो मजाक कर रहे थे. उनके इस ट्वीट पर Michael Saylor की भी प्रतिक्रिया आई, जिन्होंने हाल ही में कहा था कि वो अब MicroStrategy के सीईओ के पद पर काम नहीं करेंगे. Manchester United फुटबाल टीम को खरीदने की बात पर माइकल ने एलन मस्क को बिटकॉइन खरीदने की सलाह दे डाली. माइकल ने मस्क से कहा कि उनको कुछ बिटकॉइन खरीदने चाहिएं. 

यह भी पढ़ें


Michael Saylor ने पिछले दिनों ही घोषणा की थी कि वह अब MicroStrategy CEO पद को छोड़ने जा रहे हैं. उनकी जगह अब कंपनी के टॉप एक्जिक्यूटिव Phong Le लेने जा रहे हैं. वहीं, माइकल ने पायदान नीचे जाते हुए एक्जिक्यूटिव चेयरमेन का भार संभालने की बात कही. Michael Saylor पिछले तीन दशकों से कंपनी के सीईओ रहे हैं. इस दौरान उन्होंने कंपनी के साथ कई उतार-चढ़ाव भी देखे हैं. MicroStrategy में उनका काम अब बिटकॉइन खजाने को बढ़ाने की रणनीति को लेकर होगा, इसके साथ ही वे बिटकॉइन से जुड़ी दूसरी कई पहल पर भी काम करेंगे. कंपनी अगस्त 2020 में सुर्खियों में आ गई थी जब इसने बिटकॉइन को रिजर्व के रूप में अपनाया था. माइक्रोस्ट्रेट्जी दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी Bitcoin की सबसे बड़ी होल्डर है. 

दूसरी ओर, अगर मस्क की कंपनी Tesla की बात करें तो, फरवरी 2021 में मस्क ने घोषणा की थी कि Tesla ने 1.5 खरब डॉलर के बिटकॉइन खरीदे हैं. उसी वक्त टेस्ला में बिटकॉइन को पेमेंट ऑप्शन के रूप में स्वीकार करने की भी घोषणा की गई थी. फिर अप्रैल में बिटकॉइन को पेमेंट ऑप्शन के रूप में बंद कर दिया गया जिसका कारण बिटकॉइन माइनिंग के चलते पर पर्यावरण पर पड़ रहे बुरे प्रभाव को बताया गया. 2022 तक भी कंपनी के पास बड़ी बिटकॉइन होल्डिंग थी, लेकिन दूसरी तिमाही में टेस्ला ने इसकी 75% बिटकॉइन होल्डिंग को बेच दिया. कंपनी ने बिटकॉइन को 31,620 डॉलर के रेट पर खरीदा था लेकिन 29,000 डॉलर पर बेचा. 

एलन मस्क ने मार्च में घोषणा कर कहा था कि वे अपने क्रिप्टो रिजर्व को नहीं बेचेंगे. मस्क के पास क्रिप्टो खजाने में बिटकॉइन, इथेरियम और डॉजकॉइन की होल्डिंग है. हालांकि, अभी तक यह स्पष्ट नहीं है कि उन्होंने अपने क्रिप्टो रिजर्व में से बिटकॉइन को बेचा है या नहीं, और अगर बेचा है तो उसका कितना हिस्सा बेचा है. बहरहाल, बिटकॉइन की कीमत में खास सुधार नहीं दिख रहा है. खबर लिखे जाने तक भारत में बिटकॉइन की कीमत 18.67 लाख रुपये पर थी, जो कि पिछले 24 घंटों में 2% की गिरावट है. 

 



Source link

पिछला लेखपेट में बहुत अधिक बनती है गैस तो आपके लिए हैं ये एकदम आसान से योगासन
अगला लेखJanmashtami 2022 Dahi Handi: दही हांडी प्रतियोगिता कब? जानें कैसे हुई शुरु और महत्व
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।