Delhi की सड़कों पर दौड़ सकेंगे प्रत‍िबंध‍ित 10, 15 साल पुराने डीजल-पट्रोल वाहन, केजरीवाल सरकार ने बनाया ये बड़ा प्‍लान

0
1


नई दिल्ली. दिल्ली सरकार (Delhi Government) परिवहन संबंधी सेवाओं को पूरी तरह से फेसलेस करने के बाद अब एक और ऐतिहासिक क़दम उठाने जा रही है. द‍िल्‍लीवालों को अब जल्द ही इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) रेट्रो फिटमेंट (Electric Vehicle Retro Fitment) सेवाएं भी पूरी तरह से फेसलेस (Faceless Services) उपलब्‍ध होंगी. इसके साथ ही दिल्ली देश का पहला ऐसा राज्‍य बन जाएगा जोक‍ि इस सेवा को फेसलेस मोड में ला रहा है. इससे बड़ी संख्या में डीजल वाहन (Diesel Vehicles) उपयोगकर्ताओं को भी लाभ होगा जो अपने वाहनों को इलेक्ट्रिक मोड में बदलना चाहते हैं.

बताते चलें क‍ि जून 2022 में, दिल्ली सरकार पहले ही पेट्रोल और डीजल वाहन मालिकों को रेट्रोफिटमेंट के माध्यम से अपने वाहनों को इलेक्ट्रिक वाहनों में बदलने की अनुमति देने का आदेश लेकर आई थी. ग्राहकों और एजेंसियों दोनों को इस सेवा से संबंध‍ित एक प्लेटफार्म प्रदान करने के लिए दिल्ली सरकार पहले ही पोर्टल लॉन्च कर चुकी है.

Delhi देहात में पब्‍ल‍िक ट्रांसपोर्ट को मजबूत करने की तैयारी, इन चार कैटेगरी में बंटेंगे बस रूट, जानें पूरा प्‍लान 

डीजल वाहनों में इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) किट के रेट्रोफिटमेंट के लिए मॉड्यूल को वाहन पोर्टल में ऑनलाइन किया गया है ताकि दिल्ली के नागरिक अपने पुराने डीजल वाहनों को रेट्रो फिटमेंट सेंटर के माध्यम से ईवी में बदल सकें.

इसके लिए वाहन मालिक :
1. अपनी डीजल कार में ईवी किट की स्थापना के लिए दिल्ली सरकार द्वारा अधिकृत रेट्रो फिटमेंट सेंटर (आरएफसी) पर जाएं.

2. आरएफसी डीजल कार में स्थापित ईवी किट की जानकारी वाहन पोर्टल पर अपलोड करेगा. इसे संबंधित क्षेत्र के क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय (आरटीओ) के अधिकारी द्वारा सत्यापित किया जाएगा.

3. वर्तमान में, नागरिक को आरटीओ कार्यालय में एक बार निरीक्षण के लिए वाहन ले जाना होगा. वाहन के सत्यापन के बाद, उसका विवरण अधिकारी द्वारा वाहन पोर्टल फॉर अल्टरेशन (ईवी किट एंडोर्समेंट) में अपडेट किया जाएगा. यह सेवा जल्द ही पूरी तरह से फेसलेस हो जाएगी, जिसके बाद उपयोगकर्ता को आरटीओ नहीं जाना पड़ेगा. रेट्रो फिटमेंट सेंटर द्वारा इस प्रक्रिया का ध्यान रखा जायेगा.

4. वाहन के परिवर्तन के लिए एक ऑनलाइन आवेदन भरना होगा जिसके बाद आवश्यक दस्तावेज अपलोड कर आवश्यक शुल्क का भुगतान करना होगा.

5. आवेदन एक बार स्वीकृत हो जाने पर, आपके घर पर ईवी किट समर्थित नई आरसी आपको डिलीवर कर दी जाएगी.

फेसलेस सेवाओं को 19 फरवरी 2021 को ट्रायल के तौर पर शुरू किया गया था और 11 अगस्त 2021 को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा आधिकारिक तौर पर इसे लॉन्च किया गया था. इसके बाद से दिल्लीवासी परिवहन विभाग के कार्यालयों में आए बिना अपने घरों में आराम से सभी परिवहन सेवाओं का लाभ उठा रहे हैं.

दिल्ली सरकार ने अब तक परिवहन विभाग के तहत आने वाली 47 सेवाओं को फेसलेस किया है. फरवरी 2021 में परीक्षण शुरू होने के बाद से 21 लाख से अधिक दिल्लीवासियों ने फेसलेस सेवाओं के तहत परिवहन विभाग की सेवाओं का लाभ उठाया है.

Delhi की इन 16 सड़कों को खूबसूरत बनाने की कवायद तेज, मनीष स‍िसोद‍िया हर सप्‍ताह करेंगे ऑन स्‍पॉट र‍िव्‍यू 

दिल्ली में इलेक्ट्रिक मोबिलिटी को बढ़ावा देने के लिए, केजरीवाल सरकार अब एक नई फेसलेस सेवा लाएगी जहां आप अपने डीजल वाहन को एक अधिकृत डीलर से अपने घर पर इलेक्ट्रिक वाहन किट के साथ पुनः प्राप्त कर सकते हैं. यह लोगों को 10 साल से पुराने (पहले डीजल) वाहनों को सड़कों पर चलाने में सक्षम बनाएगा, जिन्हें पहले एनजीटी ( NGT) के आदेशों का हवाला देते हुए प्रतिबंधित किया गया था.

दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा क‍ि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में, दिल्ली वाहनों के लिए ईवी रेट्रोफिटमेंट के लिए फेसलेस सेवा शुरू करने वाला पहला राज्य होगा. दिल्लीवासी जल्द ही अपने वाहनों को अपने घरों में आराम से इलेक्ट्रिक वाहनों में परिवर्तित करवा सकते हैं. दिल्ली को ईवी कैपिटल बनाने के लिए हम लगातार नए हस्तक्षेप और पहल कर रहे हैं जो इलेक्ट्रिक वाहनों को तेजी से अपनाने में मदद करेगा.

Tags: Auto News, Autofocus, Automobile, Delhi air pollution, Delhi Government, Delhi news, Electric Vehicles, NGT, Petrol-Diesel



Source link

पिछला लेखBritain एक साल की मंदी की चपेट में आएगा, अमेरिका समेत दुनिया के कई देश पर खतरा
अगला लेखतुलसी के पत्तों में होते हैं औषधीय गुण, स्किन और बालों के लिए बेहद फायदेमंद
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।