College Admission: 12वीं के बाद ऐसे करें बेस्‍ट कॉलेज और कोर्स का चुनाव, मिलेगा फायदा

0
0


How To Select College After 12th: कॉलेज में दाखिले की दौड़ शुरू हो गई है। 12वीं पास करने वाले छात्रों के लिए अच्छे कॉलेज का चयन करने का समय आ गया है। यह एक ऐसा समय होता है जो छात्रों के पूरे जीवन पर असर डालता है। इसलिए कॉलेज और कोर्स का चुनाव करते समय कई बातों को ध्‍यान रखना पड़ता है, ताकि भविष्य उज्जवल रहे।

पहले अपने इंट्रेस्ट को जानें
किसी भी कॉलेज में एडमिशन लेने से पहले यह सुनिश्चित कर लें कि आप भविष्य में क्या काम करना चाहते हैं। जिस भी फील्ड में आप अपना करियर बनाना चाहते हैं। एक बार उससे संबंधित कोर्स का चुनाव करने के बाद ही कॉलेज में एडमिशन की प्रक्रिया का शुरू करें। हम सभी जानते हैं कि करियर का चुनाव करना आसान नहीं है और कक्षा 12वीं के बाद प्रवेश के लिए बेस्‍ट कॉलेजों को चुनने वाले छात्रों के लिए यह सबसे कठिन काम होता है। इसके पीछे सबसे बड़ा कारण असफलता का डर, साथियों और माता-पिता का दबाव है। दूसरी ओर, कुछ छात्रों को पहले से ही पता होता है कि वे किस फील्‍ड में करियर बनाने व कॉलेज या कोर्स करना चाहते हैं।

जान लें कोर्स का स्कोप
अपने कोर्स के बारे में सोच लेने के बाद यह जानना जरूरी है कि फील्ड में जॉब या करियर ऑप्शन क्या है। उस फील्ड में नौकरियां मिल रही है या नहीं अथवा आने वाले समय में उसका क्या स्कॉप रह सकता है। क्योंकि बदलते परिवेश के कारण कई तरह की नौकरियां खत्म हो रही है। आज के समय में करियर के असंख्य विकल्प उपलब्ध हैं। इसमें नियमित यूजी डिग्री कोर्स, डिप्लोमा, डेली कोर्स, वीकली कोर्स और डिस्टेंस एजुकेशन भी शामिल है। इसके अलावा टेक्‍नोलॉजी से प्रभावित नए करियर विकल्प भी हैं। जैसे- डेटा विश्लेषक, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, आईओटी, मशीन लर्निंग या ब्लॉकचैन विशेषज्ञ, वेबसाइट डेवलपर, डिजिटल मार्केटिंग विशेषज्ञ आदि। वहीं, कई तरह की नई नौकरियां आ रही है। इस वजह से मार्केट में अच्छे से रिसर्च कर उस कोर्स के स्‍कोप के बारे में पता कर लें।
इसे भी पढ़ें: Career Options: साइबर की दुनिया में बनाना है बेहतर करियर, तो एथिकल हैकिंग है बेस्ट ऑप्शन

भविष्य की संभावनाओं को जानें
भविष्य की संभावनाओं के आधार पर कोर्स का मूल्यांकन करना एक महत्वपूर्ण युक्ति है जो छात्रों को 12वीं के बाद सही कॉलेज या पाठ्यक्रम चुनने में मदद कर सकती है। छात्रों को यह समझना चाहिए कि इस डिजिटल दौर में आज की 65 प्रतिशत नौकरियां 10 साल बाद मौजूद नहीं रहेंगी। इसलिए, कोर्स का चुनाव करते हुए उसका भविष्य, बाजार की मांग और फाइनेंस सिक्योरिटी को ध्‍यान में रखें।

कंफ्यूजन हो तो करियर काउंसलर की मदद लें
सभी छात्र के पास अपनी ताकत और कमजोरियां होती हैं, जो सही करियर पथ चुनने का अभिन्न अंग हैं। एक गलत विकल्प छात्र के समय, धन और स्कूली शिक्षा में निवेश की गई वर्षों की कड़ी मेहनत को खत्‍म कर सकता है। जिन छात्रों और अभिभावकों को सही करियर का चुनाव करने में परेशानी हो, उन्‍हें हमेशा एक प्रोफेशनल करियर काउंसलर की मदद लेनी चाहिए। वे छात्रों के हितों, योग्यता और कौशल का आकलन करने में विशेषज्ञ होते हैं। वे आपकी क्षमता के अनुसार आपको सही कोर्स, कॉलेज और करियर चुनने में पूरी मदद करेंगे।
इसे भी पढ़ें: Job Tips: सरकारी नौकरी के लिए देना इंटरव्‍यू तो जरूर रखें इन बातों का ध्यान

लिस्ट बनाकर करें कॉलेज की चेकिंग
फील्ड और कोर्स का चुनाव करने के बाद आप कॉलेज ढूंढने की प्रोसेस शुरू करें। अपने कोर्स के अनुसार सरकारी कॉलेज और प्राइवेट कॉलेज की लिस्ट बनाएं। उन कॉलेज की फीस, प्लेसमेंट आदि के बारे में जानकारी प्राप्त करें। कॉलेज चयन के वक्त हमेशा अपने स्थान को प्राथमिकता जरूर दें। इनमें से पहले 5 कॉलेज फाइनल करें और वहां जाकर अच्छी तरह से जानकारी लें। यह भी पता करें कि कॉलेज आपके बजट में है या नहीं। वहीं, यह भी पता करें कि कॉलेज आपके शहर से कितना दूर है साथ ही यह भी जान लें कि रहने और खाने का इंतजाम कैसे होगा।

कॉलेज की मान्यता की करें जांच
आप जिस भी कॉलेज में दाखिला लेने जा रहे हैं, उसकी सरकारी मान्यता के बारे में जरूर पता करें, क्योंकि जानकारी के अभाव में आपके साथ धोखा हो सकता है।



Source link

पिछला लेखIPL 2021: कोच रिकी पॉन्टिंग ने खोला राज, क्यों केकेआर के खिलाफ दिल्ली को मिली हार
अगला लेखDurga Puja 2021: दुर्गा पूजा में देवी को चढाएं घर का बना स्‍पेशल मिष्‍टी ‘संदेश’, ये है बनाने का आसान तरीका
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।