Burps causes and remedies: क्यों आती है खट्टी डकार? जानें, इसे कैसे दूर करने के उपाय

0
1


नई दिल्ली: खाना खाने के बाद डकार आना (Burping) सामान्य सी बात है. जब आप कुछ खाते या पीते वक्त भोजन के साथ ही हवा को भी शरीर के अंदर ले लेते हैं तो इस हवा को शरीर से बाहर निकालने का तरीका है डकार आना. कई बार आपने महसूस किया होगा कि डकार के साथ ही ऐसा महसूस होता है कि आपने जो खाया है वह भोजन गले में वापस आ रहा है, मुंह में खट्टा पानी आ रहा है, गले में, पेट में और सीने में भी तेज जलन महसूस होने लगती है. इस स्थिति को खट्टी डकार (Acidic Burping) आना कहते हैं. आखिर इसका कारण क्या है और इसे दूर करने के कौन से उपाय है, यहां पढ़ें.

इन वजहों से आती है खट्टी डकार

1. एसिड रिफ्लक्स- जिन लोगों को एसिड रिफ्लक्स (Acid Reflux) की समस्या होती है वे भोजन करते समय और उसके अलावा भी बहुत ज्यादा मात्रा में हवा को शरीर के अंदर ले लेते हैं जिसकी वजह से बार-बार डकार आने लगती है.

ये भी पढ़ें- क्या डकार लेने से भी फैल सकता है कोरोना वायरस, जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

2. डाइट- अगर कोई व्यक्ति कार्बोनेटेड ड्रिंक, बीयर, कैफीन वाली चीजें या फिर फाइबर, स्टार्च या चीनी से भरपूर चीजें ज्यादा खाता या पीता है तो इसकी वजह से भी खट्टी डकार की समस्या हो सकती है. बीन्स, मटर, प्याज, मशरूम, पत्तागोभी, ब्रोकली, फूलगोभी, केला और साबुत अनाज जैसी चीजें ज्यादा खाने पर भी खट्टी डकार आती है.

3. रोजाना की आदतें- स्मोकिंग करना (Smoking), च्युइंग गम चबाना (Chewing gum), बहुत जल्दी-जल्दी भोजन करना, भोजन करते वक्त बातें करना या फिर कोई ड्रिंक पीने के लिए स्ट्रॉ का इस्तेमाल करना- इन सब आदतों की वजह से भी खट्टी डकार की समस्या हो सकती है.

4. बीमारियां- सीलिएक डिजीज, कब्ज, गैस्ट्राइटिस, गैस्ट्रोपैरेसिस, अपच और बदहजमी, इरिटेबल बाउल सिंड्रोम, लैक्टोज इन्टॉलरेंस और पेप्टिक अल्सर- ये कुछ ऐसी बीमारियां जिनकी वजह से बार-बार डकार आना या खट्टी डकार आने की समस्या हो सकती है.

ये भी पढ़ें- कई फायदों वाली है गुड़हल की चाय, बीपी कंट्रोल करने के साथ ही वेट लॉस में भी मददगार

खट्टी डकार दूर करने के उपाय

-खट्टी डकार या गैस की समस्या को दूर करने के लिए हींग का इस्तेमाल कर सकते हैं. हींग को पेट की समस्याओं के लिए फायदेमंद माना जाता है. आप चाहें तो चुटकी भर हींग को पानी में घोलकर पी सकते हैं.
-खट्टी डकार की समस्या दूर करने के लिए सौंफ और इलायची का सेवन भी फायदेमंद हो सकता है. इलायची और सौंफ दोनों ही पाचन को बेहतर बनाने में मदद करते हैं और इन दोनों के सेवन के कोई साइड इफेक्ट्स भी नहीं हैं.
-मेथी को रातभर पानी में भिगोकर रखें और सुबह खाली पेट इस पानी को पी लें. ऐसा करने से भी खट्टी डकार की समस्या दूर हो सकती है.

(नोट: किसी भी उपाय को करने से पहले हमेशा किसी विशेषज्ञ या चिकित्सक से परामर्श करें. Zee News इस जानकारी के लिए जिम्मेदारी का दावा नहीं करता है.)

सेहत से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें. 





Source link

पिछला लेखकोरोना वायरस से बचाव के लिए कौन सा मास्क है बेहतर, K95, N95 या कोई और?
अगला लेखशेयर बाजार में गिरावट, शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 400 अंक से अधिक गिरा, निफ्टी 14,800 से नीचे
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।