Benefits of Balasan: तनाव दूर करने के अलावा इन बीमारियों से बचाता है बालासन, जानिए करने की आसान विधि और जबरदस्त फायदे

0
1


Benefits of Balasan: आज हम आपके लिए लेकर आए हैं बालासन के फायदे. बालासन के अभ्यास से घुटने में भी खिंचाव आता है और राहत मिलती है. इसके अभ्यास से पैरों की मांसपेशियों के साथ ही जोड़ भी हील होते हैं और उन्हें आराम से चलाने में मदद मिलती है. यह आसन, शरीर की खोई हुई ऊर्जा को वापस लौटाने वाला और शांति देने वाला है, जो, शरीर को आराम और ताजगी देता है.

क्या है बालासन (what is balasan)
बालासन संस्कृत का शब्द है, जहां बाल का अर्थ बच्चे हैं. इस आसन को करते समय जमीन पर लेटे बच्चे की तरह आकृति बनती है और कूल्हे जमीन से ऊपर उठे हुए एवं घुटने जमीन से चिपके होते हैं. इसलिए इस आसन को बालासन पोज कहा जाता है. बालासन का अभ्यास सही तरीके से करने से यह शरीर के कई विकारों को दूर करने में मदद करता है.

बालासन की विधि (Balasana’s method)

  1. बालासन का अभ्यास करने के लिए सबसे पहले वज्रासन में बैठ जाएं.
  2. अब दोनों हाथों को आगे की ओर करें और सिर को जितना हो सके नीचे की ओर झुकाएं.
  3. अपने हाथों को सिर से लगाते हुए आगे की ओर सीधा रखें और हथेलियां जमीन रखें.
  4. शुरुआत में 15 से 20 सेकेंड इस आसन का अभ्यास करें, बाद में समय बढ़ा सकते हैं.

बालासन करने के फायदे (Benefits of Balasan)

  • इस आसन के अभ्यास के दौरान रीढ़ की हड्डी या स्पाइनल कॉलम में राहत मिलती है.
  • बालासन शरीर में मांसपेशियों को राहत देता है और पीठ दर्द को दूर करने में मदद करता है.
  • बालासन करने के शरीर के अंदरूनी अंगों में लचीलापन आता है.
  • कमर दर्द, कंधे, गर्दन, पीठ तथा जोड़ों के दर्द और मांसपेशियों के दर्द में यह बहुत लाभकारी है.
  • बालासन करने से दिमाग शांत होता है तथा गुस्सा कम होता है.
  • महिलाओं को पीरियड्स के दौरान होने वाला दर्द खत्म होता है.
  • बलासन का नियमित अभ्यास दिमाग का तनाव दूर शांति देता है.

बालासन के दौरान रखें ये सावधानियां (Keep these precautions during Balasan)

  1. घुटनों में किसी तरह की चोट लगी हो तो बालासन का अभ्यास न करें.
  2. डायरिया से पीड़ित लोगों को बालासन करने से परहेज करना चाहिए.
  3. प्रेगनेंट महिलाएं इस आसन का अभ्यास न करें.

ये भी पढ़ें; Brisk Walking Benefits: हमेशा स्वस्थ रहना है तो इस तरह पैदल चलना बेहद जरूरी, जानिए जबरदस्त फायदे

यहां दी गई जानकारी किसी भी चिकित्सीय सलाह का विकल्प नहीं है. यह सिर्फ शिक्षित करने के उद्देश्य से दी जा रही है.





Source link

पिछला लेख‘Bhabi Ji Ghar Par Hai’ की नई अंगूरी भाभी आपने देखी क्या? तस्वीरें देख हिल जाएगा दिमाग!
अगला लेखउल्टी की दवा कुछ कैंसर रोगियों को लंबे समय तक जीवित रखने में है मददगार- रिसर्च
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।