Auto Industry में रौनक लौटने की उम्मीद, कंपनियों ने शुरु कर दी तैयारी

0
0


Photo:AP Auto Industry में रौनक लौटने की उम्मीद

Highlights

  • त्योहारी सीजन 11 अगस्त को रक्षाबंधन से शुरू होकर 25 अक्टूबर को दिवाली तक चलेगा
  • कार उत्पादन में आई बढ़ोतरी
  • Maruti का हर हाल में ऑर्डर डिलीवर करने पर ध्यान

Automobile Companies: ऑटो इंडस्ट्री (Auto Industry) को उम्मीद है कि इस त्योहारी सीजन में नई पेशकश और उत्पादन बढ़ने से कारों की बिक्री तेजी दिखेगी। हालांकि, त्योहारों के बाद उद्योग कारोबार को लेकर सतर्क रूप से आशावादी है। त्योहारी सत्र में आमतौर पर ऑटोमोबाइल की बिक्री में बढ़ोतरी होती है। इस साल त्योहारी सत्र 11 अगस्त को रक्षाबंधन से शुरू होकर 25 अक्टूबर को दिवाली तक चलेगा। 

उत्पादन में आई बढ़ोतरी

ऑटोमोबाइल डीलरों के निकाय के अध्यक्ष विंकेश गुलाटी ने कहा है कि हमें उम्मीद है कि नई पेशकश और बेहतर उत्पादन गतिविधियों के चलते इस साल त्योहारी सत्र यात्री वाहनों की बिक्री के लिहाज से सबसे अच्छा रहेगा। उद्योग पिछले 4-5 महीनों में औसतन तीन लाख से अधिक इकाइयों का उत्पादन कर रहा है। इससे खुदरा विक्रेताओं को मदद मिली है। आने वाले दिनों में कुछ चुनौतियों के बारे में पूछने पर उन्होंने देश के कुछ हिस्सों में अनिश्चित मानसून, महंगाई के दबाव और चीन-ताइवान युद्ध के आसन्न खतरे का जिक्र किया। फाडा देश भर में 15,000 से अधिक ऑटोमोबाइल डीलरों का प्रतिनिधित्व करता है।

सेमीकंडक्टर की उपलब्धता से आपूर्ति में होगी आसानी 

टाटा मोटर्स के अध्यक्ष (यात्री वाहन और इलेक्ट्रिक वाहन) शैलेश चंद्र ने कहा कि कंपनी को त्योहारी सीजन के अंत तक ग्राहकों की मांग के बारे में कोई चिंता नहीं है। उन्होंने कहा कि कंपनी को उम्मीद है कि दूसरी तिमाही में बेहतर सेमीकंडक्टर उपलब्धता के साथ वाहनों की आपूर्ति में सुधार होगा। उन्होंने साथ ही जोड़ा कि बढ़ती महंगाई और ब्याज दर ऑटो मांग को प्रभावित कर सकती है।

Maruti का हर हाल में ऑर्डर डिलीवर करने पर ध्यान

उन्होनें कहा है कि चालू वित्त वर्ष में 20 लाख इकाइयों के उत्पादन लक्ष्य को हासिल करने में नया एसयूवी मॉडल ग्रैंड विटारा एक अहम भूमिका निभाएगा। पिछले वित्त वर्ष में मारुति सुजुकी का उत्पादन 13.4 प्रतिशत बढ़कर 16.52 लाख इकाई रहा था। अप्रैल-जून 2021 में महामारी की दूसरी लहर के कारण उत्पादन गतिविधियों पर पड़े प्रतिकूल प्रभाव के बावजूद कंपनी ने यह उत्पादन आंकड़ा हासिल किया था। इसके अलावा सेमीकंडक्टर की आपूर्ति बाधित होने से भी कंपनी मांग के अनुरूप वाहनों की बिक्री नहीं कर पाई थी। वित्त वर्ष 2021-22 के अंत में हम बुकिंग के बावजूद करीब 2.7 लाख वाहनों की आपूर्ति नहीं कर पाए थे, लेकिन इस बार हमें आपूर्ति के लिए तैयार रहना होगा।

Latest Business News





Source link

पिछला लेखWomen’s Health Tips: महिलाएं डेली लाइफस्टाइल में फॉलो करें ये 5 आदतें, बढ़ती उम्र के साथ रहेंगी हेल्दी और फिट
अगला लेखहाई कोलेस्ट्रॉल से बचने के लिए लाइफस्टाइल में करें ये 5 बदलाव, मिलेगा पूरा फायदा
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।