हाफिज सईद का बहनोई मक्की ग्लोबल टेररिस्ट घोषित: कश्मीर में हुए हमलों का मास्टरमाइंड, चीन ने इसी के लिए UN में वीटो लगाया था

0
0


13 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

अब्दुल रहमान मक्की की यह तस्वीर पाकिस्तान के लाहौर में एक सभा की है, जहां वह भारत विरोधी बयान दे रहा था।

संयुक्त राष्ट्र संघ की सुरक्षा परिषद, यानी UNSC ने सोमवार को अब्दुल रहमान मक्की को ग्लोबल आतंकी घोषित कर दिया है। अब्दुल रहमान मक्की भारत में हुए 26/11 हमले के मास्टरमांइड हाफिज सईद का बहनोई है।

संयुक्त राष्ट्र (UN) ने अपने बयान में कहा कि सुरक्षा परिषद समिति ने अब्दुल रहमान मक्की को ISIL (दाएश) और अल-कायदा प्रतिबंध समिति के तहत वैश्विक आतंकवादी घोषित किया है। इसके बाद आतंकी मक्की की संपत्ति जब्त होगी, उसकी यात्रा पर प्रतिबंध लगेगा।

UN में भारत के राजदूत बोले- अभी और आतंकियों को इस लिस्ट में शामिल कराएंगे
संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि और राजदूत सैयद अकबरुद्दीन ने अब्दुल रहमान मक्की के ग्लोबल आतंकी घोषित किए जाने के बाद अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा की इससे दुनिया में ये समझ बन रही है कि चीन भारत को रोक नहीं सकता है। चीन ने भारत के लोगों की न्याय की मांग में रोड़े अटकाए थे। उन्होंने कहा कि अभी कई और भी हैं जिन्हें ग्लोबल आतंकी घोषित करवाना है। अब्दुल रहमान को ग्लोबल आतंकी घोषित करने वाली कमिटी ने उसे भारत में कई हमलों के लिए जिम्मेदार ठहराया है। जिसमें 22 दिसंबर 2000 में लाल किले पर हुआ हमला भी शामिल है। लश्कर ए तैयबा के 6 आतंकियों ने लाल किले में घुसकर सुरक्षाबलों पर फायरिंग की थी। इस अटैक में सेना के दो जवान समेत तीन लोगों की मौत हो गई थी।

जून में चीन ने वैश्विक आतंकी घोषित होने से बचाया था
मक्की को वैश्विक आतंकी घोषित कराने में भारत और अमेरिका ने अहम भूमिका निभाई है। पिछले साल जून में चीन ने UNSC में वीटो के जरिए पाकिस्तान स्थित लश्कर आतंकी अब्दुल रहमान मक्की को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित होने से बचा लिया था। मक्की के खिलाफ भारत और अमेरिकी में ज्वाइंट प्रपोजल लाया गया था। हालांकि, इस बार चीन ऐसा नहीं कर पाया।

यह तस्वीर लाल किला पर आतंकी हमले के एक आरोपी को दिल्ली की कोर्ट से ले जाती हुई पुलिस की है।

यह तस्वीर लाल किला पर आतंकी हमले के एक आरोपी को दिल्ली की कोर्ट से ले जाती हुई पुलिस की है।

कश्मीर में हिंसा कराने का दोषी 74 साल का मक्की आतंकी संगठन लश्कर में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता रहा है। मक्की, भारत, खासकर जम्मू-कश्मीर में हिंसा और हमलों को अंजाम देने के लिए योजना बनाने, धन जुटाने, आतंकियों की भर्ती करने और युवकों का ब्रेनवॉश कर कट्ट्‌रपंथी बनाने के काम में शामिल रहा है। अमेरिका पहले ही अब्दुल रहमान मक्की को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित कर चुका है। भारत ने भी UAPA के तहत इसे आतंकी घोषित कर रखा है।

आतंकवाद से जुड़ी ये खबर भी पढ़ें..
भारत-अमेरिका की सारी कोशिशें बेकार:चीन ने पिछले 5 महीने में पाक के 5 खूंखार आतंकियों को बचाया

चीन ने दो दिन में दूसरी बार पाकिस्तानी आतंकी को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद यानी UNSC में ग्लोबल टेररिस्ट घोषित होने से बचा लिया है। चीन ने 18 अक्टूबर को लश्कर आतंकी शाहिद महमूद को ब्लैक लिस्ट होने से बचाया। इसके बाद 19 अक्टूबर को मुंबई 26/11 आतंकी हमले के मास्टर माइंड हाफिज सईद के बेटे हाफिज तलहा सईद को ग्लोबल टेररिस्ट घोषित होने से बचा लिया। इसके लिए चीन ने वीटो पावर का इस्तेमाल किया। पूरी खबर यहां पढे़ं..

खबरें और भी हैं…



Source link

पिछला लेखबिहार का खुंखार अपराधी लखनऊ में गिरफ्तार
अगला लेखदाऊद ने दूसरी शादी भी की थी: बहन हसीना के बेटे ने बताया- दूसरी पत्नी पाकिस्तानी पठान; कराची में ही रह रहा डॉन
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।