सुशांत सिंह राजपूत और सलमान खान के बीच नहीं था कोई कनेक्शन, फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े सूत्रों ने गिनाए ये 5 कारण…

0
6


सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) और सलमान खान (Salman Khan) की फाइल फोटो

नई दिल्ली:

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के निधन के बाद से ही सलमान खान (Salman Khan) सहित कई जाने-माने लोगों को निशाना बनाया जा रहा है. बॉलीवुड के कई सेलेब्स ने भी नेपोटिज्म को लेकर सवाल खड़े किए. बीते दिनों अभिनव कश्यप ने एक पोस्ट लिख सलमान खान और उनके परिवार पर निशाना साधा था. लेकिन इसी बीच फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े सूत्रों ने बताया कि वास्तव में सलमान खान और सुशांत सिंह राजपूत के बीच कोई संबंध नहीं था. इसलिए सलमान खान को कसूरवार ठहराना उचित नहीं है. उन्होंने इसके 5 कारण भी गिनाए हैं…

यह भी पढ़ें

1. सलमान खान और सुशांत सिंह राजपूत ने कभी भी ज्यादा घुल-मिलकर एक दूसरे से बातचीत नहीं की थी और यह एक ऐसा तथ्य है जिससे इंडस्ट्री में हर कोई वाकिफ रखता है.

2. जब भी उन्होंने बातचीत की, यह हमेशा सौहार्दपूर्ण था. सुशांत को बिग बॉस के सेट पर बुलाया गया था जहां सलमान ने उन्हें केदारनाथ के प्रचार में मदद की थी. सुशांत को उनके जन्मदिन की पार्टी में भी बुलाया गया था, जिसमें इंडस्ट्री के सभी लोगों ने शिरकत की थी.

3. सुशांत और सलमान को एक साथ शामिल करने वाली कोई फिल्म या कास्टिंग कभी नहीं हुई थी. आम तौर पर, अभिनेताओं के बीच प्रतिद्वंद्विता या एक दूसरे के प्रति नफरत तब आती है जब या तो वे एक साथ एक फिल्म कर रहे होते है या एक दूसरे की फिल्मों को छीनते हैं.

4. एसकेएफ, सलमान खान की प्रोडक्शन कंपनी कम फिल्में बनाती है, जो बड़े पैमाने पर मनोरंजक होती हैं. वे उस तरह की फिल्में नहीं बनाते है, जिसमें सुशांत ने अभिनय किया है. सुशांत की फिल्में अधिक बुद्धिमान और अनिवार्य रूप से महानगरीय सिनेमा का हिस्सा थीं. इसलिए, इस बात पर कोई सवाल ही नहीं उठता कि क्या एसकेएफ उनके साथ फिल्म का निर्माण करेगा क्योंकि उन दोनों का सिनेमा बहुत अलग था.

5. सलमान खान अपनी एक अलग दुनिया में रहते हैं. उन्होंने कभी भी उद्योग को नियंत्रित करने की महत्वाकांक्षाओं को बढ़ावा नहीं दिया है. वह खुद को ऐसे लोगों के समूह तक सीमित कर रखते है जिसमें उनके परिवार और दोस्त शामिल रहते हैं. भले ही यह कभी-कभी कैम्प के रूप में सामने आता है, लेकिन सलमान को सामान्य रूप से उद्योग के मामलों में ध्यान केंद्रित करने के लिए नहीं जाना जाता है क्योंकि प्रोफेशनल रूप से, उन्हें गलत एटीट्यूड के लिए नहीं जाना जाता है. वह ऐसे व्यक्ति नहीं है जो हर कीमत पर सफल होना चाहते हैं. वह आज भी बांद्रा में अपने एक बेड रूम हॉल फ्लैट में रहकर खुश हैं.

 





Source link

पिछला लेख15 अगस्त को भारत की पहली वैक्सीन लाने पर ICMR ने दी सफाई, जानिए क्या है पूरा मामला
अगला लेखमंगलयान ने मंगल के सबसे बड़े चंद्रमा फोबोस की फोटो खींची, यान इस उपग्रह से 4200 किमी दूर से गुजरा
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।