सुनक का नया वीडियो: ब्रिटिश PM पद के दावेदार बोले- इस छिपे रुस्तम के पास खोने के लिए कुछ नहीं, पीछे नहीं हटूंगा

0
0


लंदन42 मिनट पहले

ब्रिटेन का अगला प्रधानमंत्री कौन होगा? दो नाम रेस में हैं। ऋषि सुनक और लिज ट्रस। कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया जा रहा है कि सुनक रेस में कुछ पिछड़ रहे हैं। शायद उन्हें भी इस बात का अहसास हो चुका है। यही वजह है कि उन्होंने एक वीडियो जारी किया और इसके कैप्शन में कहा- छिपे रुस्तम के पास कुछ खोने के लिए नहीं है। मैं आखिर तक मुकाबला करूंगा।

ब्रिटेन के नए प्रधानमंत्री का नाम 5 सितंबर को घोषित होगा। सुनक के अलावा लिज ट्रस PM पद की दौड़ में हैं। पहले रेस में 8 कैंडिडेट थे। पांच राउंड की सांसदों की वोटिंग के बाद ये दो नाम ही बचे। अब पार्टी के करीब 2 लाख मेंबर्स बैलेट वोटिंग से PM का नाम तय करेंगे।

सुनक ने क्या कहा
बोरिस जॉनसन अक्टूबर में पद छोड़ेंगे। इसके पहले ही नया प्रधानमंत्री तय हो जाएगा। ट्रस और सुनक में से कौन जीतेगा, इसको लेकर अलग-अलग दावे हैं। सुनक के समर्थक कह रहे हैं कि आखिरी मिनट पर सरप्राइज मिलेगा, क्योंकि सुनक ही जीतने जा रहे हैं। दूसरी तरफ, सुनक भी खुद को ‘अंडरडॉग’ यानी छिपा रुस्तम कह रहे हैं।

उन्होंने एक नए वीडियो में कहा- कहते हैं कि छिपे रुस्तम से सावधान रहना चाहिए, क्योंकि उसके पास खोने के लिए कुछ नहीं होता। वो आखिर तक जंग लड़ता है। सुनक का यह मैसेज वीडियो के कैप्शन में भी है और इसे एंकर ने भी आ‌वाज दी है।

कैसे चुना जाता है ब्रिटिश PM

  • ब्रिटेन PM बनने के लिए ऋषि सुनक के सामने सबसे बड़ी चुनौती कंजर्वेटिव पार्टी में अपनी लीडरशिप तैयार करने की है। दरअसल, कंजर्वेटिव पार्टी में नेता चुनने की प्रक्रिया में एक कमेटी शामिल होती है। इस कमेटी के सदस्य पार्टी के सांसद ही होते हैं।
  • प्रॉसेस में तीन फेज होते हैं। नॉमिनेशन, एलिमिनेशन और फाइनल सेलेक्शन। सुनक नॉमिनेशन राउंड में सबसे आगे रहे थे। एलिमिनेशन राउंड (फर्स्ट और सेकंड बैलेट) में भी वे टॉपर रहे।
  • अब पार्टी के करीब 2 लाख मेंबर्स बैलेट वोटिंग से PM का नाम तय करेंगे। इसका फैसला पांच सितंबर को आएगा। उसी दिन नए प्रधानमंत्री के नाम का ऐलान होगा। अक्टूबर में जब बोरिस पद छोड़ेंगे तो चुना गया नेता क्वीन के सामने शपथ ग्रहण करेगा।

सियासी सफर पर एक नजर
ऋषि को कंजर्वेटिव पार्टी का उभरता सितारा माना जाता है। ऋषि 2015 में पहली बार सांसद चुने गए। 2018 में स्थानीय सरकार में बतौर मंत्री शामिल हुए। 2019 में उन्हें ट्रेजरी का चीफ सेक्रेटरी बनाया गया। प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के चुनाव प्रचार कैम्पेन में ऋषि का अहम रोल रहा है। मीडिया इंटरव्यू के लिए सरकार अक्सर उन्हें ही आगे रखती है। इसके अलावा PM बोरिस जॉनसन के चुनाव प्रचार में भी उन्होंने अहम रोल दिखाया। कई मौकों पर टीवी डिबेट में बोरिस की जगह पर ऋषि ने हिस्सा लिया।

अलग अंदाज
नए वीडियो में सुनक एक बेंच पर झपकी लेते नजर आते हैं, उनके पीछे एंटी टैंक लॉन्चर है। सुनक कहते हैं- जमकर मेहनत करनी है, देर तक करनी है और सही तरीके से करनी है। छिपा रुस्तम कभी हार नहीं मानता। वो हालात से कभी नहीं घबराते। मैं हर वोट के लिए आखिर तक मेहनत करूंगा।

पिछले दिनों मैनचेस्टर की रैली में सुनक ने कहा था- महंगाई एक अभिशाप या तोहमत की तरह है। मैं अपने देश को इससे छुटकारा दिलाना चाहता हूं। लिज ट्रस सच्चाई से भागने की कोशिश कर रही हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link

पिछला लेखRishi Panchami 2022: महिलाओं के लिए बहुत खास है ऋषि पंचमी का व्रत, जानें ये कथा
अगला लेखखराब पोश्चर से गर्दन और कमर दर्द की हो सकती है समस्या, ऐसे मिलेगी राहत
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।