सावधान! कोरोना वायरस की इस दवा की हो रही कालाबाजारी, चुकानी पड़ सकती है मुंहमांगी कीमत

0
11


नई दिल्ली: कोरोना वायरस महामारी से निबटने के लिए भले आप हर संभव प्रयास कर रहे हों. लेकिन आए दिन कोई न कोई समस्या सामने आ ही जाती है. केंद्र सरकार ने माना है कि देश में कोरोना वायरस से लड़ने वाली दवा रेमडेसिविर की कालाबाजारी हो रही है. इस वजह से जरूरतमंद लोगों से इस दवा के लिए मनमुताबिक कीमत भी वसूली जा रही है. अब इसके लिए केंद्र सरकार ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को अलर्ट जारी किया है.

भारत के दवा नियामक (DCGI) ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के दवा नियंत्रकों को एंटी-वायरल टीके ‘रेमडेसिविर’ की कालाबाजारी रोकने के लिए कड़ी निगरानी रखने को कहा है. इस दवा को आपातकालीन और सीमित आधार पर कोविड-19 मरीजों के उपचार में इस्तेमाल के लिए मंजूरी दी गई है.

भारत के औषधि महानियंत्रक (DCGI) डॉ वीजी सोमानी ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के दवा नियंत्रको को भेजे एक पत्र में कहा कि उनके कार्यालय को एक पत्र प्राप्त हुआ है जिसमें चिंता जतायी गई है कि कुछ गलत लोग दवा को महंगे दाम पर बेचने और इसकी कालाबाजारी में संलिप्त हैं.

ये भी देखें-

ये भी पढ़ें: ये है वो नौजवान जिसे लगेगी देश की पहली कोरोना वैक्सीन, जानिए कौन है ये शख्स

उन्होंने कहा कि यह शिकायत सोशल मीडिया मंच ‘लोकल सर्किल्स’ से स्वास्थ्य मंत्रालय के जरिए प्राप्त हुई है. सोमानी ने पत्र में कहा, ‘ उपरोक्त के मद्देनजर आपसे अनुरोध है कि अपने सतर्कता अधिकारियों को रेमडेसिविर टीके को अधिकतम खुदरा मूल्य से अधिक पर बिक्री और इसकी कालाबाजारी को रोकने के लिए कड़ी निगरानी रखने के निर्देश दें.’

बताते चलें कि फिलहाल कोरोना वायरस से बचाव के लिए केंद्र सरकार ने रेमडेसिविर को असरदार माना है. कोरोना बिगड़ने पर मरीज के इस दवा से ठीक की संभावना भी ज्यादा बताई जा रही है. ऐसे में ज्यादातर राज्यों में इस दवा की सप्लाई कम है. यही कारण है कि कालाबाजारी करने वाले इस टीके के मनमाने रेट वसूल रहे हैं.





Source link

पिछला लेखSamsung Smart TV: सैमसंग लाई 32 से 75 इंच तक के नए स्मार्ट TV, कीमत ₹20,900 से शुरू – samsung announced 2020 smart tv lineup crystal 4k uhd and unbox magic 3.0 series
अगला लेख‘ब्रीद 2’ के साथ डिजिटल डेब्यू रहे अभिषेक ने कहा- ओटीटी में आपका ब्रैंड मायने नहीं रखता
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।