सर्दियों में आपकी 5 गलतियां खून में बढ़ाता है गंदा कोलेस्ट्रॉल, हार्ट अटैक का भी खतरा, यह है कंट्रोल का तरीका

0
0


हाइलाइट्स

गलत लाइफस्टाइल, स्मोकिंग, शराब आदि बैड कोलेस्ट्रॉल के लिए जिम्मेदार होते हैं.
गलत खान-पान हाई कोलेस्ट्रॉल को बढ़ा देता है.

Heart attack and bad cholesterol: सर्दियों के मौसम में हार्ट से संबंधित परेशानियां बढ़ जाती है. जिन्हें पहले से ब्लड प्रेशर की शिकायत हैं, उनमें हार्ट अटैक का जोखिम भी बढ़ जाता है. यही कारण है कि सर्दियों में हार्ट अटैक के मामलों में तेजी आ जाती है. हार्ट अटैक के लिए मुख्य तौर पर गंदा कोलेस्ट्रॉल ही जिम्मेदार होता है. हालांकि कोलेस्ट्रॉल शरीर में एनर्जी के लिए बहुत जरूरी है. कोलेस्ट्रॉल दो तरह के होते हैं. एलडीएल (LDL) और एचडीएल (HLD). एचडीएल तो गुड कोलेस्ट्रॉल होता है लेकिन एलडीएल बैड कोलेस्ट्रॉल होता है. यह खून में चिपचिपा पदार्थ गंदगी की तरह बढ़ने लगता है.

बैड कोलेस्ट्रॉल ज्यादा होने पर यह खून की नलियों में जमा होने लगता है. धीरे-धीरे बैड कोलेस्ट्रॉल हार्ट में खून पहुंचाने वाली धमनियों में भी पहुंच जाता है और वहां जमा होने लगता है. इससे धमनियों में जगह कम हो जाती है और खून को हार्ट तक पहुंचने में दिक्कत होने लगती है. जब हार्ट में खून नहीं पहुंचता है तब हार्ट अटैक, स्ट्रोक यहां तक कि हार्ट फेल्योर का जोखिम भी बढ़ जाता है. दिलचस्प बात यह है शरीर में कोलेस्ट्रॉल बढ़ने के लिए हम खुद ही जिम्मेदार होते हैं. गलत खान-पान, गलत लाइफस्टाइल, स्मोकिंग, शराब आदि बैड कोलेस्ट्रॉल के लिए जिम्मेदार होते हैं.

इसे भी पढ़ें-क्या खाने के बाद आपका भी बढ़ जाता है शुगर ? 30 मिनट पहले लें सिर्फ एक चीज, गारंटी से कम होगा डायबिटीज

ये 5 गलतियां बैड कोलेस्ट्रॉल के लिए जिम्मेदार

गलत खान-पान-हेल्थ वेबसाइट मायो क्लिनिक के मुताबिक हमारा गलत खान-पान हाई कोलेस्ट्रॉल को बढ़ा देता है. सर्दियों में हम तली-भुनी चीजें, सैचुरेटेड और ट्रांस फैट वाली अनहेल्दी चीजों का सेवन ज्यादा करने लगते हैं. पैकेटबंद चीजों में ट्रांस फैट होता है. वहीं रेड मीट, डेयरी प्रोडक्टस में सैचुरेटेड फैट पाया जाता है. इन गलतियों के कारण शरीर में गंदा कोलेस्ट्रॉल जमा होने लगता है.

शारीरिक गतिविधियों में कमी-सर्दियों के मौसम हमारी शारीरिक गतिविधियां कम होने लगती हैं. एक्सरसाइज के अभाव के कारण गुड कोलेस्ट्रॉल घटने लगता है. जब गुड कोलेस्ट्रॉल घटेगा तो बैड कोलेस्ट्रॉल का बढ़ना तय है.

स्मोकिंग-कुछ लोग सर्दियों में स्मोकिंग की आदत को भी बढ़ा देते हैं. स्मोकिंग से भी एचडीएल यानी गुड कोलेस्ट्रॉल घटने लगता है.

अल्कोहल-सर्दियों में शराब की खपत बढ़ जाती है. अधिकांश लोग जो अल्कोहल का सेवन करते हैं सर्दियों में इसकी मात्रा बढ़ा देते हैं. ज्यादा अल्कोहल टोटल कोलेस्ट्रॉल लेवल को बढ़ा देता है.

मोटापा-वजन बढ़ना कई बीमारियों की जड़ है. मोटापा बढ़ने से इंसुलिन रेजिस्टेंस बढ़ने लगता है. इससे हार्ट पर अनावश्यक प्रेशर पड़ता है. जो लोग मोटापे के मुहाने पर होते हैं, सर्दियों में गलत और ज्यादा खान-पान की वजह से अपना वजन बढ़ा लेते हैं.

कैसे करें कंट्रोल
शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने के लिए मुख्य रूप से गलत खान-पान, एक्सरसाइज की कमी, अल्कोहल और स्मोकिंग जिम्मेदार होते हैं. इसलिए हर हाल में सर्दियों में अपनी डाइट को हेल्दी बनाएं. सीजनल हरी सब्जियों का सेवन बढ़ाएं. फलों और ड्राई फ्रूट को अपनी डाइट में शामिल कर लें. पैकेटबंद और प्रोसेस्ड फूड का इस्तेमाल न करें. रोजाना एक्सरसाइज करें. अगर संभव न हो जो हर रोज सीढ़ियों पर चढ़ें-उतरे. पर्याप्त पानी पीएं.

इसे भी पढ़ें-भूलकर भी रात को लाइट जलाकर न सोएं, मद्धिम रोशनी भी दे सकती दिल की बीमारियों को दावत, स्टडी में किया दावा

इसे भी पढ़ें-बेसन एक काम अनेक, 5 बेमिसाल फायदे जानकर हो जाएंगे हैरान, शुगर-कोलेस्ट्रॉल का है दुश्मन

Tags: Health, Health tips, Lifestyle



Source link

पिछला लेख​इंडियन कोस्ट गार्ड करेगा 71 पद पर भर्तियां, ऐसे कर पाएंगे आवेदन
अगला लेखInd vs Wi: स्मृति मंधाना और हरमनप्रीत कौर की तूफानी फिफ्टी, भारतीय महिला टीम की बड़ी जीत
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।