सफलता की कुंजी: निराशा और हताशा से बचने के लिए इन बातों का रखें ध्यान

0
0


Safalta Ki Kunji: सफलता की कुंजी कहती है कि जो व्यक्ति दुख या संकट आने पर हताश और निराश हो जाते हैं, वे सफलता से वंचित रहते हैं. जीवन में सुख और दुख आते रहते हैं. व्यक्ति को इन दोनों ही स्थितियों के लिए तैयार रहना चाहिए.

गीता के उपदेश में भगवान श्रीकृष्ण कहते हैं कि दुख सभी के जीवन में आते हैं. विद्वानों के मामले में तो संकट या फिर दुख आने पर व्यक्ति को अपने प्रयासों को नहीं रोकना चाहिए. कर्म करते रहते रहना चाहिए. कर्म प्रधान व्यक्ति कभी परेशान नहीं होता है. 

गलतियां सभी से होती हैं, इन गलितयों को शोक नहीं मानना चाहिए. बल्कि गलतियों से सीख लेते हुए आगे बढ़ना चाहिए. जीवन में आगे बढ़ना है तो इन बातों का कभी न भूलें.

परिश्रम- विद्वानों की मानें तो परिश्रम से कभी नहीं घबराना चाहिए. परिश्रम में ही सफलता का रहस्य छिपा होता है. कार्य करने पर अच्छे और खराब दोनों ही परिणाम आ सकते हैं. ऐसा नहीं होता है कि हर परिणाम सही आएं. इसलिए घबराना नहीं चाहिए. जीवन में उतार चढ़ाव की स्थिति बनी रहती है. परिश्रम करते रहना चाहिए. परिश्रम से ही सफलता प्राप्त होती है.

सकारात्मकता- कार्य करते समय हताशा और निराशा होना स्वभाविक है. लेकिन इसमें डूबना नहीं चाहिए. हताशा और निराशा से तभी बाहर निकला जा सकता है, जब व्यक्ति सकारात्मक विचारों को अपनाता है. जीवन में यदि सफल होना चाहते हैं तो नकारात्मकता से हमेशा दूर रहें. नकारात्मक सोच और ऊर्जा सदैव बाधा बनती है. इसलिए सकारात्मक बनें. हर चीज को सकारात्मक दृष्टि से देखना चाहिए. इसी से सफलता प्राप्त होती है.

गलत कार्यों से दूर रहें- विद्वानों की मानें तो गलत कार्यों से दूर रहना चाहिए. गलत कार्य करने से आत्मविश्वास में कमी आती है. आत्मविश्वास में जब कमी आने लगती है तो लक्ष्य दूर होने लगता है.

यह भी पढ़ें:
Karva Chauth 2021: कार्तिक मास में करवा चौथ का पर्व कब है? आइए जानते हैं तिथि, डेट और शुभ मुहूर्त

Transit 2021: सावन जिस दिन आरंभ हो रहा है, उसी दिन कर्क राशि में बुध का गोचर, सूर्य के साथ बनाएंगे ये बड़ा ‘राजयोग’



Source link

पिछला लेखसंसद में आया बिन बुलाया मेहमान: स्पेन की पार्लियामेंट में कामकाज चल रहा था, अचानक चूहा घुसने से कुर्सियों से उछल पड़े सांसद
अगला लेखशूटिंग में लगी चोट: एक्शन सीक्वेंस की शूटिंग के दौरान विशाल को लगी पीठ में चोट, दो बार दीवार से टकराते हुए दिखे
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।