श्रीनगर: लाल चौक में कृष्ण जन्माष्टमी की धूम, ‘जय कन्हैयालाल’ से गूंजा शहर

0
0


Image Source : PTI
जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद कितना बदलाव हुआ है इसका उदाहरण लाल चौक से आईं तस्वीरे हैं।

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद कितना बदलाव हुआ है इसका ताजा उदाहरण सोमवार को श्रीनगर के लाल चौक से आईं तस्वीरे हैं। सोमवार को पूरा देश भगवान श्रीकृष्ण के जन्मदिन कृष्ण जन्माष्टमी को मना रहा है और श्रीनगर का लाल चौक भी इससे अछूता नहीं रहा। लाल चौक में सोमवार को कृष्ण जन्माष्टमी के मौके पर झांकियां निकाली गईं और उन झांकियों की तस्वीरें सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही हैं। बता दें कि कश्मीरी पंडितों ने दो साल के अंतराल के बाद यहां भगवान कृष्ण का जन्मदिन मनाने के लिए जन्माष्टमी जुलूस निकाला।

अधिकारियों ने बताया कि कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच जुलूस शहर के हब्बा कदल इलाके के गणपतियार मंदिर से शुरू हुआ और बरबरशाह के क्रालखुद से होते हुए ऐतिहासिक लाल चौक स्थित घंटाघर तक पहुंचा। उन्होंने कहा कि जुलूस अमीरकदल पुल को पार कर जहांगीर चौक से गुजरा और मंदिर लौट आया। पुरुषों, महिलाओं और बच्चों सहित भक्तों ने रथ के साथ नृत्य किया और लोगों के बीच मिठाई बांटी। 

srinagar lal chowk shri krishna janmashtami celebration images

Image Source : PTI

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद कितना बदलाव हुआ है इसका उदाहरण लाल चौक से आईं तस्वीरे हैं।

श्रद्धालुओं में से एक वरिष्ठ नागरिक ने कहा कि दो साल बाद उन्हें श्रीनगर में जन्माष्टमी का जुलूस निकालने की अनुमति मिली। कोविड-19 के कारण 2020 में कोई जुलूस नहीं निकाला गया था, जबकि अगस्त 2019 में जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को निरस्त करने के मद्देनजर लगाए गए लॉकडाउन के कारण इस आयोजन को रद्द कर दिया गया था।

srinagar lal chowk shri krishna janmashtami celebration images

Image Source : PTI

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद कितना बदलाव हुआ है इसका उदाहरण लाल चौक से आईं तस्वीरे हैं।

देशभर में आज श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का त्यौहार धूमधाम से मनाया जा रहा है, देश की राजधानी दिल्ली में भी कृष्ण जन्माष्टमी की धूम है। हालांकि दिल्ली में कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए निवारक उपायों के तहत इस साल जन्माष्टमी के मौके पर भक्तों को धार्मिक स्थलों पर जाने की अनुमति नहीं है।

srinagar lal chowk shri krishna janmashtami celebration images

Image Source : PTI

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद कितना बदलाव हुआ है इसका उदाहरण लाल चौक से आईं तस्वीरे हैं।

किसी भी आगंतुक की अनुपस्थिति में कालकाजी मंदिर, छतरपुर मंदिर और बिड़ला मंदिर सहित धार्मिक स्थलों पर समारोह बड़े स्तर पर आयोजित नहीं किये जा रहे है और केवल उन अनुष्ठानों पर ध्यान केंद्रित किया जा रहा है जो भगवान कृष्ण के जन्म को चिह्नित करते हैं। 

ये भी पढ़ें





Source link

पिछला लेखविश्वमित्र चोंगथाम ने एशियाई युवा मुक्केबाजी में जीता गोल्ड मेडल, भारत ने टूर्नामेंट में जीते कुल 8 गोल्ड  
अगला लेखग्रेजुएट युवाओं के पास एडमिनिस्ट्रेटिव ऑफिसर बनने का सुनहरा मौका, ऐसे करें आवेदन
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।