शारदीय नवरात्र 2022 कब? जानें घटस्थापना का शुभ मुहूर्त और पूजन विधि

0
1


Shardiya Navratri 2022: शक्ति की आराधना का पर्व शारदीय नवरात्र 26 सितंबर 2022 (Shardiya Navratri 2022 date) से शुरु हो रहे हैं. इसका समापन 5 अक्टूबर 2022 को होगा. साल में चार नवरात्रि होती है दो गुप्त और दो प्रत्यक्ष. हिंदू पंचांग के अनुसार अश्विन माह के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि से शारदीय नवरात्रि आरंभ हो जाती है. नौ दिन तक चलने वाले शारदीय नवरात्रि में देवी दुर्गा (Devi durga) के नौ रूपों की पूजा की जाती है औऱ दशमी तिथि के दिन दशहरा (Dusshera 2022) मनाया जाता है. नवरात्रि के पहले दिन शुभ मुहूर्त में घटस्थापना का विधान है. शुभ मुहूर्त में मां दुर्गा की पूजा-अर्चना से विशेष फल प्राप्त होता है.  आइए जानते हैं घटस्थापना मुहूर्त औऱ विधि

शारदीय नवरात्रि 2022 मुहूर्त (Shardiya Navratri 2022 Muhurat)

  • शारदीय नवरात्रि – 26 सितंबर से 5 अक्टूबर तक
  • अश्विन शुक्ल पक्ष प्रतिपदा प्रांरभ – 26 सितंबर  2022, 3.24 AM
  • अश्विन शुक्ल पक्ष प्रतिपदा समापन- 27 सितंबर 2022, 03.08 AM
  • अभिजीत मुहूर्त- 26 सितंबर सुबह 11.54 से दोपहर 12.42 मिनट तक
  • घटस्थापना मुहूर्त – 26 सितंबर 2022, 06.20 AM – 10.19 AM

नवरात्रि में घटस्थापन की विधि: (Navratri Ghat Isthapana Vidhi)

  • नवरात्रि में देवी की पूजा का फल तभी मिलता है जब नियमों का ध्यान रखा जाए. नवरात्र के पहले दिन शुभ मुहूर्त में कलश स्थापना करें.
  • कलश स्थापना के लिए एक मिट्‌टी के पात्र में पवित्र मिट्‌टी रखें और उसमें जौ बोएं.
  • पूजा स्थान या ईशान कोण में कलश स्थापन शुभ मानी जाती है. यहां गंगाजल छिड़कर साफ सफाई कर लें. पूजा की चौकी पर लाल कपड़ा बिछाएं. इस पर मां दुर्गा की तस्वीर स्थापित करें.
  • एक तांबे या मिट्‌टी के कलश में गंगा जल या स्वच्छ जल भरकर इसमें सिक्का, अक्षत सुपारी, लौंग के जोड़ा, दूर्वा घास, डालें. कलश के मुख पर मौली बांधें
  • एक नारियल पर लाल चुनरी को मौली से बांध दें. कलश में आम के पत्ते लगाकर उसपर ये नारियल रखे दें.
  • अब जौ वाले पात्र और कलश को मां दुर्गा की फोटो के दायीं ओर स्थापित कर दें. कलश स्थापना पूरी कर मां जगदंबा की पूजा करें.

शारदीय नवरात्रि 2022 तिथि














        दिनांक                मां दुर्गा के नौ रूप और तिथि
26 सितंबर 2022              मां शैलपुत्री (पहला दिन) प्रतिपदा तिथि
27 सितंबर 2022              मां ब्रह्मचारिणी (दूसरा दिन) द्वितीय तिथि
28 सितंबर 2022              मां चंद्रघंटा (तीसरा दिन) तृतीया तिथि
29 सितंबर 2022              मां कुष्मांडा (चौथा दिन) चतुर्थी तिथि
30 सितंबर 2022              मां स्कंदमाता (पांचवा दिन) पंचमी तिथि
1 अक्टूबर 2022              मां कात्यायनी (छठा दिन) षष्ठी तिथि
2 अक्टूबर 2022              मां कालरात्रि (सातवां दिन) सप्तमी तिथि
3 अक्टूबर 2022              मां महागौरी (आठवां दिन) दुर्गा अष्टमी           
4 अक्टूबर 2022              महानवमी, (नौवां दिन) शरद नवरात्र व्रत पारण
5 अक्टूब 2022              मां दुर्गा विसर्जन, दशमी तिथि (दशहरा)

Omkareshwar Jyotirlinga: इस ज्योतिर्लिंग में शयन के लिए आते हैं भोलेनाथ, जानें शिव-पार्वती के यहां चौसर पांसे खेलने का रहस्य

Laxmi ji: लक्ष्मी जी को पसंद नहीं ये 4 काम, घर में लाते हैं दरिद्रता

Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. यहां यह बताना जरूरी है कि ABPLive.com किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है. किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें.



Source link

पिछला लेखRBI Policy: रियल्टी सेक्टर को लगा झटका, Repo Rate बढ़ाने से घरों की बिक्री घटेगी
अगला लेखJanmashtami 2022: जन्माष्टमी पर श्रीकृष्ण का इन 6 चीजों से करें श्रृंगार
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।