रूस ने यूक्रेन के दो पॉवर प्लांट्स को निशाना बनाया: ओडेसा पर 30 से ज्यादा मिसाइलें दागीं, एक दिन पहले ही वर्ल्ड हैरिटेज बना था

0
0


  • Hindi News
  • International
  • Russians Fire More Than 30 Missiles, Two Energy Facilities Struck In Ukraine’s Southern Odessa Region

10 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

ये तस्वीर ओडेसा शहर की है। इस बंदरगाह शहर से माल की लदाई होती है।

रूस-यूक्रेन के बीच जंग अब भी जारी है। गुरुवार को रूसी सैनिकों यूक्रेन के ओडेसा शहर पर 30 से ज्यादा मिसाइलें दागी। इनमें से कुछ मिसाइलें यहां बने दो बड़े पावर प्लांट में गिरीं। 25 जनवरी के ही UNESCO ने इस शहर को वर्ल्ड हेरिटेज लिस्ट में शामिल करने की घोषणा की थी।

यूक्रेन एयरफोर्स के मुताबिक, इस हमले में कोई घायल नहीं हुआ है। एयरफोर्स के स्पोक्सपर्सन यूरी इहनाट ने कहा कि 6 रूसी एयरक्राफ्ट से 30 से ज्यादा मिसाइलें दागी गईं। इनमें से 15 राजधानी कीव पर दागी गईं। रूस अब इंफ्रास्ट्रचर को निशाना बना रहा है।

न्यूयॉर्क टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, रूसी सैनिक एनर्जी इन्फ्रास्ट्रक्चर तबाह करने में ईरानी ड्रोन्स का इस्तेमाल कर रहे हैं।

न्यूयॉर्क टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, रूसी सैनिक एनर्जी इन्फ्रास्ट्रक्चर तबाह करने में ईरानी ड्रोन्स का इस्तेमाल कर रहे हैं।

यूक्रेन की सेना ने हवाई हमलों का जवाब दिया
यूक्रेन की सेना भी रूस के हमलों का जवाब दे रही है। यूक्रेन की सेना के जनरल ओलेक्सी रेजनिकोव ने कहा था- हमें आशंका है कि रूस नए साल की शुरुआत में हमले तेज कर सकता है। वो आर्मी में 2 लाख सैनिक रिक्रूट करने जा रहा है। यूक्रेन एयरफोर्स के मुताबिक, गुरुवार (26 जनवरी) को एयर डिफेंस सिस्टम ने 24 रूसी मिलाइलें मार गिराई हैं।

जर्मनी के यूक्रेन को लेपर्ड-2 टैंक देने के बाद रूस ने हमला किया
हफ्तों से जारी उठापटक के बाद जर्मनी अपने लेपर्ड-2 टैंक्स यूक्रेन को देने पर राजी हो गया है। जर्मनी के चांसलर ने 25 जनवरी को कैबिनेट मीटिंग के बाद 14 लेपर्ड-2 टैंक देने की घोषणा की। यूक्रेन को उम्मीद है कि ये टैंक रूस के खिलाफ जंग में गेमचेंजर साबित होंगे। दूसरी तरफ रूस का कहना है कि ये टैंक्स भी बाकियों की तरह जलकर खाक हो जाएंगे। इसके बाद रूस ने गुरुवार को ये हमला किया है।

ओडेसा की यूनिवर्सल वैल्यू है- UNESCO
यूक्रेन की पोर्ट सिटी ओडेसा को यूनाइटेड नेशन की कल्चरल एजेंसी ने वर्ल्ड हेरिटेज साइट घोषित किया। UNESCO ने कहा कि इसकी यूनिवर्सल वैल्यू है। इसे ब्लैक सी का पर्ल यानी मोती भी कहा जाता है। हालांकि, रूस ने UNESCO के इस फैसले की निंदा की है। उसने कहा कि यह फैसला राजनीति से प्रेरित है।

2022 में रूसी हमलों से बचाने के लिए ओडेसा में रहने वाले लोगों ने एक स्टैच्यू को सैंडबैग से ढ़क दिया था। जिसका फोटो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था।

ये तस्वीर मार्च 2022 की है। ओडेसा में डुक डी रिचल्यू की मूर्ति को सैंडबैग से ढ़क दिया था।

ये तस्वीर मार्च 2022 की है। ओडेसा में डुक डी रिचल्यू की मूर्ति को सैंडबैग से ढ़क दिया था।

8 अक्टूबर 2022 के बाद तेज हुए रूसी हमले

  • 8 अक्टूबर 2022 को यूक्रेन ने रूस का कर्च ब्रिज उड़ा दिया था। ये ब्रिज रूस को क्रीमिया से जोड़ता है। इसके बाद रूस ने 10 अक्टूबर को राजधानी कीव समेत 9 शहरों पर 83 मिसाइलें बरसाई थीं। इसमें 12 लोग मारे गए थे। रूस ने ये बड़ा हमला कर्च ब्रिज पर हुए धमाके के बदले में किया था।
  • 16 दिसंबर 2022 को 70 मिसाइलें दागकर यूक्रेन के तीन शहरों को तबाह कर दिए थे। क्रिवी रिह इलाके में मिसाइल अटैक से एक रहवासी इमारत गिरने से तीन लोगों की मौत हुई थी। खेरसोन में भी कई लोग मारे गए थे।​
  • 15 नवंबर 2022 को रूस ने यूक्रेन पर 100 मिसाइलें दागी थीं। इनमें से दो पोलैंड में गिरीं थीं। तब कीव के मेयर ने लोगों से बंकरों में ही रहने को कहा था।
  • 29 दिसंबर 2022 को यूक्रेन पर सबसे बड़ा हमला करते हुए समुद्र और आसमान से 120 मिसाइलें दागी थीं। राजधानी कीव समेत 7 शहरों पर ये हमले किए गए थे। इनमें 14 साल की बच्ची समेत 3 लोग घायल हुए थे।
  • 14 जनवरी 2023 को रूस ने यूक्रेन पर 33 मिसाइलें दागी थीं। कुछ मिसाइलें निप्रो शहर में गिरीं। यहां नौ मंजिला इमारत पर मिसाइल गिरने से 20 लोगों की मौत हो गई थी। 73 लोग घायल हो गए थे।
ये यूक्रेन के निप्रो शहर का वीडियो है। यहां रूसी मिसाइल गिरने के बाद कई बड़ी इमारतें पूरी तरह तबाह हो गईं।

ये यूक्रेन के निप्रो शहर का वीडियो है। यहां रूसी मिसाइल गिरने के बाद कई बड़ी इमारतें पूरी तरह तबाह हो गईं।

यूक्रेन ने मांगे F-16 फाइटर जेट
यूक्रेन के रक्षा मंत्री के सलाहकार यूरी साक ने एक बयान दिया। उन्होंने कहा कि यूक्रेन की अगली चुनौती फाइटर जेट्स हासिल करना है। अगर हमें वो मिल जाते हैं तो यकीनन जंग के मैदान में हमें बड़ा फायदा होगा। हालांकि जर्मनी ने यूक्रेन को फाइटर जेट्स देने से इनकार कर दिया है। यूक्रेन का कहना है कि उसे कोई मामूली फाइटर जेट्स नहीं चाहिए, बल्कि अमेरिका का फोर्थ जेनरेशन F-16 लड़ाकू विमान चाहिए।

खबरें और भी हैं…



Source link

पिछला लेखITTF Rankings: मनिका बत्रा को फायदा, करियर की बेस्ट रैंकिंग पर पहुंचीं
अगला लेखशाहरुख खान के हमशक्ल ने शेयर किया डांस वीडियो: इब्राहिम कादरी ने झूमे जो पठान पर बनाई रील, फैंस बोले- ये तो हूबहू SRK है
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।