राज्य के सहकारी बैंकों पर RBI की निगरानी वापस ली जाए, ममता बनर्जी ने मोदी को लिखा पत्र

0
0


Image Source : PTI
Mamata Banerjee, West Bengal Chief Minister 

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार द्वारा राज्य सहकारी बैंकों की निगरानी की भूमिका को भारतीय रिजर्व बैंक को स्थानांतरित करने के कदम पर नाराजगी जताई है। उन्होंने कहा कि यह कदम सहकारी संघवाद की भावना के खिलाफ है। अभी तक रिजर्व बैंक इन बैंकों की पूंजी पर्याप्तता, जोखिम नियंत्रण और ऋण नियमों को देख रहा था, जबकि प्रबंधन पर निगाह रखने की जिम्मेदारी राज्य सरकार सहकारी समिति पंजीयक के पास थी।

बनर्जी ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे पत्र में कहा है कि निगरानी भूमिका और प्रबंधन का दायित्व केंद्र बैंक को स्थानांतरित किया गया है। इससे वापस पश्चिम बंगाल के सहकारी समितियों के पंजीयक को सौंपा जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र ने 26 जून को एक अध्यादेश के जरिये शहरी और बहु-राज्यीय सहकारी बैंकों की निगरानी का अधिकार एकतरफा तरीके से रिजर्व बैंक को स्थानांतरित कर दिया। उन्होंने कहा कि सहकारी समितियां राज्य सरकार का विषय हैं और यह संबंधित राज्य सरकारों के अधिकारों में दखल देना है। 

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन





Source link

पिछला लेखलॉकडाउन के दौरान स्कूल फीस माफी के लिए माता-पिता ने दायर की याचिकाएं
अगला लेखइरफान पठान बोले, नंबर-3 पर प्रमोट करने का आइडिया सचिन का था, ग्रेग चैपल का नहीं
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।