होम कॅरियर राजस्थान के सरकारी स्कूलों में पढ़ाएंगे प्राइवेट टीचर: गेस्ट फैकेल्टी के तौर...

राजस्थान के सरकारी स्कूलों में पढ़ाएंगे प्राइवेट टीचर: गेस्ट फैकेल्टी के तौर पर महात्मा गांधी स्कूल में मिलेगी नियुक्ति, 21,000 मिलेगी सैलरी

0
1



जयपुर10 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

राजस्थान के सरकारी स्कूलों में टीचर्स की कमी को दूर करने के लिए अब प्राइवेट टीचर्स को नियुक्त किया जाएगा। शिक्षा विभाग ने महात्मा गांधी इंग्लिश मीडियम स्कूल के लिए गेस्ट फैकल्टी योजना को शुरू किया है। जिसके तहत प्रदेश भर के 700 से ज्यादा स्कूलों में अब गेस्ट फैकेल्टी के तौर पर प्राइवेट टीचर को नियुक्त किया जाएगा। जिन्हें हर महीने 21,000 तक सैलरी दी जाएगी।

दरअसल, शिक्षा विभाग ने महात्मा गांधी इंग्लिश मीडियम स्कूल में 10 हजार टीचर्स की भर्ती के लिए वैकेंसी निकाली थी। लेकिन 3 महीने से ज्यादा का वक्त बीत जाने के बाद भी टीचर्स ने महात्मा गांधी इंग्लिश मीडियम स्कूल में पढ़ाने के लिए रुचि नहीं दिखाई। जिसकी बाद शिक्षा विभाग ने गेस्ट फैकल्टी के तौर पर टीचर्स की नियुक्ति करने का फैसला किया है। ऐसे में अब स्कूल स्तर पर आवेदन प्रक्रिया शुरू कर 2022 शैक्षणिक सत्र में ही टीचर्स को पोस्टिंग दी जाएगी।

बता दें कि सरकारी स्कूलों में इन दिनों जो टीचर पढ़ा रहे हैं। उनकी इंग्लिश अच्छी नहीं है। यही वजह है कि इन स्कूलों में टीचर के पद भरने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। वहीं शिक्षा विभाग का मानना है कि प्राइवेट इंग्लिश मीडियम स्कूलों में पढ़ाने वाले टीचर की इंग्लिश पर अच्छी पकड़ है। ऐसे में कम सैलरी में सरकारी स्कूल में अच्छे टीचर्स की नियुक्ति के लिए शिक्षा विभाग ने गेस्ट फेकल्टी योजना शुरू की है।

इन नियमों के आधार पर होगा गैस्ट फैकल्टी का सिलेक्शन

  • विभाग में पूर्व से कार्यरत शिक्षकों के महात्मा गाँधी / अंग्रेजी माध्यम विद्यालयों में साक्षात्कार के माध्यम से पदस्थापन उपरान्त स्वीकृत पदों में से रिक्त रहे पदों पर विद्या सम्बल योजना के तहत गैस्ट फैकल्टी निजी अभ्यर्थियों / सेवा निवृत्त शिक्षकों की नियुक्ति की जा सकेगी।
  • इन गैस्ट फैकल्टी निजी अभ्यर्थियों की नियुक्ति प्रक्रिया प्रधानाचार्य की अध्यक्षता में उनके अतिरिक्त 02 वरिष्ठतम शिक्षकों की कमेटी द्वारा महात्मा गाँधी / अंग्रेजी माध्यम विद्यालय के स्तर पर की जाएगी। दो वरिष्ठतम शिक्षक उपलब्ध नहीं हो तो समिति में संबंधित CBEO ब्लॉक के अन्य MGGES विद्यालयों में से दो वरिष्ठ सदस्यों की नियुक्ति करेंगे।
  • संस्था-प्रधान द्वारा विभागीय वेबसाईट एवं विद्यालय नोटिस बोर्ड एवं अन्य सार्वजनिक प्लेट फार्म पर किया जाकर योग्य आशार्थियों के आवेदन पत्र विद्यालय स्तर पर आमंत्रित किए जाएगें। उक्त प्रकाशन के लिए कलैण्डर निदेशालय से जारी होगा।
  • किसी भी रिक्त पद पर रिक्तियों से अधिक आवेदन प्राप्त होने पर वरीयता सूची तैयार कर वरीयतानुसार नियुक्ति दी जाएगी।
  • सेवा निवृत्त अध्यापक यदि B.Ed उत्तीर्ण है। तो अध्यापक लेवल द्वितीय के लिए संबंधित विषय अनुसार एवं यदि BSTC/D.El.Ed उत्तीर्ण है। तो अध्यापक लेवल प्रथम के लिए पात्र होंगे।
  • वरीयता सूची का निर्माण पद की न्यूनतम वांछित योग्यताओं में शैक्षणिक योग्यता व प्रशैक्षणिक योग्यता का अंकभार क्रमशः 75% व 25% लिया जाकर कुल प्राप्तांकों के आधार पर किया जाएगा।
  • एक जैसे नंबर होने की स्थिति में अधिक आयु के अभ्यर्थी को वरीयता में कम आयु के अभ्यार्थी से ऊपर रखा जाएगा।
  • आवेदन प्राप्त करने की अवधि व नियुक्ति जारी करने का कलैण्डर निदेशालय से जारी किया जाएगा।
  • चयनित अभ्यर्थी को गैस्ट फैकल्टी के पद हेतु दिये गये प्रस्ताव पर सात दिवस में सहमति प्रदान करनी होगी। इसके साथ ही संस्था प्रधान द्वारा तय किये गये समय पर वे कार्य करने आएंगे।
  • गैस्ट फैकल्टी को पूरी तरह ट्रेम्परेरी बेस पर रखा जाएगा।
  • गैस्ट फैकल्टी के रूप में निजी अभ्यर्थियों / सेवा निवृत्त शिक्षकों को उन्हीं दिशा-निर्देशों के अध्यधीन रखा जाएगा। जो वित्त विभाग के परिपत्र दिनांक: 30.03.2021 में वर्णित है।

शिक्षा विभाग का नोटिफिकेशन देखने के लिए क्लिक करें

खबरें और भी हैं…



Source link