यूएस ने कहा- स्टूडेंट वीजा पर फैसले का असर भारतीयों पर कम पड़े, इसका ध्यान रखेंगे; ब्राजील के राष्ट्रपति भी पॉजिटिव; दुनिया में 1.17 करोड़ केस

0
6


  • दुनियाभर में अब तक 5.40 लाख लोगों की जान गई, 66.41 लाख लोग ठीक हुए
  • सबसे ज्यादा प्रभावित अमेरिका में 30.40 लाख संक्रमित, जबकि 1 लाख 32 हजार 979 मौतें
  • ब्राजील कोरोना से दूसरा सबसे ज्यादा प्रभावित देश, 16 लाख से ज्यादा संक्रमित हैं; अब तक 65,556 लोगों की जान गई

दैनिक भास्कर

Jul 07, 2020, 09:54 PM IST

वॉशिंगटन. दुनिया में कोरोनावायरस से अब तक 1 करोड़ 17 लाख 56 हजार 373 संक्रमित हो चुके हैं। इनमें 67 लाख 52 हजार 819 लोग ठीक हो चुके हैं। वहीं, 5 लाख 40 हजार 660 की मौत हो चुकी है। अमेरिका में जिन स्टूडेंट्स की सभी क्लासेस ऑनलाइन शिफ्ट हो गईं हैं, उन्हें देश लौटना होगा। डोनाल्ड ट्रम्प प्रशासन के इस फैसले से कुल 10 लाख स्टूडेंट्स पर असर पड़ेगा। इनमें 2 लाख से ज्यादा भारतीय हैं। हालांकि, मंगलवार देर शाम ट्रम्प प्रशासन ने कहा कि इस फैसले को लागू करते वक्त भारतीयों के हितों का पूरा ध्यान रखा जाएगा।

ब्राजील से खबर है कि वहां के राष्ट्रपति कोरोना से संक्रमित हो गए हैं। इससे पहले राष्ट्रपति जैर बोल्सोनारो ने महामारी को नजरंदाज किया था और सोशल डिस्टेंसिंग का भी मजाक उड़ाया था। ब्राजील कोरोना से दूसरा सबसे ज्यादा प्रभावित देश है। यहां 16 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हैं और अब तक 65,556 लोगों की जान गई है।

वहीं, संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने विदेशी पर्यटकों को आने की मंजूरी दे दी है। हालांकि, यूएई में आने वालों को कोरोना से बचाव के कुछ नियम मानने होंगे। यहां पहुंचने पर उनकी पूरी जांच की जाएगी। पर्यटकों को कहीं आने-जाने से पहले फेस मास्क लगाना होगा और सैनिटाइजर अपने साथ रखना होगा। यहां मार्च में संक्रमण के मामले बढ़ने पर विदेशी पर्यटकों के आने पर रोक लगाई गई थी।

ईरान में घर से बाहर निकलने पर फेस मास्क लगाना जरूरी कर दिया गया है। ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने शनिवार को इस नए नियम की घोषणा की थी। अब इसे लागू कर दिया गया है। नए नियम के मुताबिक, कोरोना से बचाव के नियमों का पालन करने और मास्क लगाने पर ही लोगों को सरकारी सेवाएं मिल सकेंगी। प्राइवेट और सरकारी कर्मचारियों के लिए भी इसका पालन करना जरूरी होगा।  

10 देश जहां कोरोना का असर सबसे ज्यादा

देश

कितने संक्रमित कितनी मौतें कितने ठीक हुए
अमेरिका 30,40,833 1,32,979     13,24,947
ब्राजील 16,26,071 65,556 9,78,615    
भारत 7,20,346 20,174 4,40,150   
रूस 6,87,862 10,296 4,54,329    
पेरू 3,05,703 10,772 1,97,619
स्पेन 2,98,869 28,388  उपलब्ध नहीं    
चिली 2,98,557 6,384 2,64,371
ब्रिटेन 2,85,768 44,236 उपलब्ध नहीं
मैक्सिको  2,61,750 31,119 1,59,657
इटली 2,41,819 34,869 1,92,241

ब्रिटेन: केयर होम्स पर प्रधानमंत्री के बयान की आलोचना
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने मंगलवार को कहा कि देश के केयर होम्स संक्रमण रोकने के दिशा-निर्देशों का पालन नहीं कर रहे। इस पर विपक्षी पार्टियों का कहना है कि सरकार केयर होम्स में संक्रमण से बचाव के लिए सही कपड़े और अन्य जरूरी सामान नहीं दे रही। केयर होम्स के बारे में कही गई उनकी बात गलत है। ब्रिटेन में कोरोना से अब तक 44 हजार मौतें हुई हैं, जिनमें से 20 हजार लोग केयर होम्स में भर्ती थे।

ब्रिटेन के वाटरलू स्टेशन पर सोमवार को लोगों को जागरूक करने के लिए बोर्ड लगाता एक कर्मचारी।

चीन: बीजिंग में बीते एक महीने में पहली बार नए मामले नहीं

बीजिंग में बीते एक महीने  में पहली बार मंगलवार को कोई नया मामला सामने नहीं आया। जून के पहले सप्ताह में यहां के शिनफैडी होलसेल मार्केट में नए मामले मिले थे। इसके बाद से अब तक 335 लोग संक्रमित मिले हैं। नया क्लस्टर मिलने के बाद संक्रमण का दूसरा चरण शुरू होने का डर था। इस बीच, वहां पर मंगलवार को नेशनल कॉलेज परीक्षा को मंजूरी दी गई थी। कोरोना की वजह से पहले परीक्षा टाली गई थी।

बीजिंग में मंगलवार को नेशनल कॉलेज एग्जाम के लिए जाने से पहले एक स्टूडेंट को सैनिटाइजर देता कर्मचारी।

पाकिस्तान: 50% लोगों की या तो नौकरी गई या सैलरी कम हुई

महामारी की वजह से पाकिस्तान में 50% से ज्यादा लाेगों की या तो नौकरी गई या उनकी सैलरी कम की गई। डन एंड ब्रैडस्ट्रीट (डी एंड बी) पाकिस्तान और गैलअप पाकिस्तान की रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है। सर्वे में 1,200 लोगों को शामिल किया गया था। इनमें से करीब 18% लोगों ने बताया कि लॉकडाउन की वजह से उन्हें नौकरी से निकाला गया। वहीं, 59% लोगों ने आशंका जाहिर कि यही स्थिति रही तो उनकी नौकरी जा सकती है। अध्ययन में पाया गया कि कम कमाई वाले लोगों की नौकरी पर इसका ज्यादा असर हुआ है। 

पाकिस्तान के क्वेटा में शिफ्ट शुरू करने से पहले दुआ करते सरकारी अस्पताल के कर्मचारी। (फाइल)

ब्राजील: राष्ट्रपति बोल्सोनारो में कोरोना के लक्षण

ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो में कोरोना के लक्षण मिले हैं। बोल्सोनारो ने एक इंटरव्यू में यह बात कही। 65 साल के बोल्सोनारो का टेम्परेचर 38° से और खून में ऑक्सीजन लेवल 96% पाया गया। उन्होंने अपनी सारी मीटिंग्स कैंसिल कर दी है और हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा ले रहे हैं। उन्होंने एक दिन पहले ही अपना कोरोना टेस्ट कराया था। इसके बाद अपने स्वस्थ होने का दावा भी किया था। 

ब्राजील के रियो डे जेनेरियो स्थित एक चर्च में मास्क पहनकर मास प्रेयर में हिस्सा लेते चर्च के पादरी।

अमेरिका: अटलांटा की मेयर संक्रमित

  • अमेरिका के अटलांटा स्टेट की मेयर किशा लांस बॉटम्स कोरोना संक्रमित पाई गई हैं। किशा ने ट्वीट किया कि मुझ में कोरोना के कोई लक्षण नहीं थे, लेकिन फिर भी मैं पॉजिटिव पाई गई हूं। अटलांटा में सभी सावधानी बरतने के बावजूद वायरस का आना बताता है कि वायरस कितना फैलता है। अमेरिका में अब तक 29 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं।
  • अमेरिका में मौतों का आंकड़ा 1.30 लाख के पार हो गया है। जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के मुताबिक, यहां मंगलवार को 325 नए मामले सामने आए। बढ़ते मामलों को देखते हुए 50 में से कम से कम 24 राज्यों ने लॉकडाउन में दी गई राहत रोक दी है या वापस ले ली है। सबसे ज्यादा 4 लाख 22 हजार 851 मामले न्यूयॉर्क में सामने आए हैं। 
अमेरिका के न्यूयॉर्क स्थित सलून में मास्क पहनकर हेयर कट करवाता एक व्यक्ति। यहां इसी हफ्ते सलून खोलने की मंजूरी दी गई है।

ग्रीस: सर्बिया से आने वाले लोगों पर रोक

ग्रीस ने महामारी को देखते हुए सर्बिया से आने वाले लोगों पर 15 जुलाई तक रोक लगा दी है। हालांकि, ग्रीस सरकार ने ब्रिटेन से आने वाली इंटरनेशनल फ्लाइट्स को सभी एयरपोर्ट पर उतरने की इजाजत दे दी है।  सर्बिया पर्यटन पर आधारित देश है। इसने ज्यादातर देशों से पर्यटकों को आने की इजाजत दे दी है। वैसे लोगों को देश में आने की मंजूरी देने के नियमों में जरूरत पड़ने पर बदलाव किया जा सकता है।

यूएई: दुबई से 58 जगहों के लिए फ्लाइट्स शुरू होगी

यूएई सरकार की ओर से विदेशी पर्यटकों पर लगी पाबंदी हटाए जाने पर ऐतिहाद एयरलाइन्स ने कहा है कि यह जुलाई और अगस्त के बीच दुबई से 58 जगहों के लिए फ्लाइट्स शुरू करेगी। अमेरिका, यूरोप, एशिया और ऑस्ट्रेलिया के लिए सेवाएं शुरू की जाएंगी।

ऑस्ट्रेलिया: दो राज्यों के बीच बॉर्डर सील होगा

ऑस्ट्रेलिया अपने दो राज्यों विक्टोरिया और न्यू साउथ वेल्स (एनएसडब्ल्यू) के बीच बॉर्डर सील करेगा। दो हफ्तों में यहां देश के 95% संक्रमण के मामले सामने आए हैं। विक्टोरिया के प्रीमियर डेनियल एंड्र्यूज ने कहा कि प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन और एनएसडब्ल्यू के प्रीमियर ग्लैडिज बेरेजिक्लियन ने साथ मिलकर यह फैसला किया। दोनों राज्यों के बीच सिर्फ परमिट के आधार पर लोग आ-जा सकेंगे।

ऑस्ट्रेलिया की राजधानी मेलबर्न में सोमवार को कोरोना संक्रमित मिलने के बाद सील की गई बिल्डिंग के बाहर स्वास्थ्यकर्मी।



Source link

पिछला लेखगालवान घाटी में दो किमी पीछे हटे चीनी सैनिक, नई सैटेलाइट इमेज से हुआ खुलासा
अगला लेखआंकड़ों में समझिए दुनिया के बाकी देशों के मुकाबले भारत में कैसी है coronavirus को लेकर स्थिति
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।