मासिक पंचांग: कब है चंद्र ग्रहण, गुरु-पूर्णिमा, कामिका एकादशी, कर्क संक्रांति, हरियाली तीज और नाग पंचमी, यहां जानें

0
7


July 2020 Festival Calendar: पंचांग के अनुसार जुलाई माह की शुरूआत 1 जुलाई को देवशयनी एकादशी की तिथि से हुई है. जो एक शुभ तिथि है. इसके बाद 2 जुलाई को प्रदोष व्रत है. इस समय चातुर्मास आरंभ हो चुके हैं. चातुर्मास भी एक जुलाई से ही आरंभ हुए हैं. देवशयनी एकादशी की तिथि से चातुर्मास में भगवान शिव पृथ्वी के सभी कार्य देखते हैं. एक प्रकार से चातुर्मास में भगवान शिव के हाथों में पृथ्वी की बागडोर होती है. मान्यता है कि चातुर्मास में भगवान शिव पृथ्वी का भ्रमण करते हैं.

जुलाई माह में पड़ने वाले तीज त्योहारों का विशेष महत्व है. हिंदू धर्म में जुलाई माह में पड़ने वाले त्योहारों के पीछे वैज्ञानिक महत्व भी छिपा हुआ है. जुलाई के माह में व्यक्ति को अनुशासित जीवन शैली को अपनाना चाहिए. जुलाई के महीने में ही हरियाली तीज का पर्व पड़ रहा है जिसका महिलाएं वर्ष भर इंतजार करती हैं. आइए जानते हैं कि जुलाई में कौन कौन से त्योहार पड़ रहे हैं-

2 जुलाई 2020 प्रदोष व्रत (शुक्ल)

इस दिन भगवान शिव की विशेष पूजा की जाती है. चातुर्मास का यह पहला प्रदोष व्रत है.

5 जुलाई 2020 गुरु-पूर्णिमा

यह बेहद पवित्र त्योहार है. बिना गुरु के जीवन अधूरा माना जाता है. गुरु का आर्शीवाद मिलने से जीवन सरल और सुगम बन जाता है. यह दिन गुरु को समर्पित है.

5 जुलाई चंद्र ग्रहण

इस दिन धनु राशि में चंद्र ग्रहण लग रहा है. ये साल का चौथा ग्रहण है. बीते माह यानि 5 जून को भी चंद्र ग्रहण लगा था. इस ग्रहण को उपछाया चंद्र ग्रहण कहा जा रहा है. इस चंद्र ग्रहण में सूतक काल नहीं लगेगा.

5 जुलाई 2020 आषाढ़ पूर्णिमा व्रत

आषाढ़ पूर्णिमा का आषढ़ माह का समापन होगा. इसके बाद 6 जुलाई से सावन का महीना आरंभ होगा.

8 जुलाई 2020 संकष्टी चतुर्थी

यह दिन भगवान गणेश जी को समर्पित है. इस दिन भगवान गणेश जी की विशेष पूजा का विधान है. गणेश जी की पूजा करने से सुख समृद्धि प्राप्त होती है.

16 जुलाई 2020 कामिका एकादशी

इस एकादशी को पवित्रा एकादशी के नाम से भी जाना जाता है. कामिका एकादशी को भगवान विष्णु की पूजा होती है और तुलसी का पत्र अर्पण  किया जाता है.

16 जुलाई 2020 कर्क संक्रांति

इस दिन सूर्य देव मिथुन राशि से निकलकर कर्क राशि में प्रवेश करेंगे. सूर्य का कर्क राशि में परिवर्तन को ही कर्क संक्रांति कहा जाता है.

18 जुलाई 2020 मासिक शिवरात्रि

यह दिन भगवान शिव को समर्पित है. इस दिन भगवान शिव की विशेष पूजा की जाती है. सावन में मासिक शिवरात्रि का महत्व बढ़ जाता है.

18 जुलाई 2020 प्रदोष व्रत (कृष्ण)

इस दिन प्रदोष व्रत भी है. मासिक शिव रात्रि और प्रदोष व्रत एक साथ होने से यह दिन शिव भक्तों के लिए विशेष है.

20 जुलाई 2020 श्रावण अमावस्या

श्रावण अमावस्या के दिन पवित्र नदी में स्नान और दान का विशेष महत्व बताया गया है. इस दिन को पितृ पूजा के लिए भी महत्वपूर्ण माना गया है. जिन लोगों की जन्म कुंडली में राहु केतु अशुभ हैं या फिर पितृ दोष है उनके लिए इस दिन की पूजा विशेष फलदायी मानी गई है.

23 जुलाई 2020 हरियाली तीज

हरियाली तीज पर्व का सुहागिन स्त्रियां पूरे साल इंतजार करती हैं. हरियाली तीज पर स्त्रियां सोलह श्रंगार करती हैं और अपने पति की लंबी आयु और सुख समृद्धि की कामना करती हैं. यह पर्व हर साल श्रावण शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाया जाता है.

25 जुलाई 2020 नाग पंचमी

श्रावण मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को नाग पंचमी मानने की परंपरा है. इस दिन नाग देवता की पूजा की जाती है. जिन लोगों की जन्म कुंडली में कालसर्प दोष है उन्हें इस दिन नाग पूजा से विशेष लाभ मिलता है.

Lunar Eclipse 2020: चंद्र ग्रहण 5 जुलाई को लगेगा, सूतक नहीं होगा मान्य लेकिन ये गलती न करें



Source link

पिछला लेखसंजना सांघी ने इंस्टाग्राम स्टोरी पर कहा- मैंने हमेशा के लिए मुंबई नहीं छोड़ा है, हम सबको वापस आना है
अगला लेखअमित शाह ने योगी आदित्यनाथ से कहा, यूपी में और अधिक कोरोना वायरस जांचें करने की जरूरत
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।