मानसून में भूलकर भी न करें ये 10 गलतियां वरना पड़ सकते हैं बीमार

0
12


मानसून (Monsoon) के सीजन में प्राकृतिक सुंदरता (Natural beauty) बढ़ने के साथ कई तरह की मौसमी बीमारियां भी बढ़ जाती हैं. सर्दी-खांसी जुकाम, बुखार जैसी बीमारियां मानसून के मौसम में आम हैं, जो बड़ी बीमारियों का कारण बनती हैं. आज हम इस आर्टिकल में आपको कुछ ऐसी चीजों के बारे में बता रहे हैं, जिनको करना आपके लिए खतरनाक है. इससे आप बीमार् पड़ सकते हैं. आइए इन 10 चीजों के बारे में जानते हैं जो आपको नहीं करना चाहिए…

1. बारिश में भीगने से बचें
बारिश में बच्चों को भीगना अच्छा लगता है. यही कारण है कि बच्चे घरों के बाहर आकर बारिश में भीगने लगते हैं. लेकिन ये बारिश स्वास्थ को नुकसान पहुंचाती है. इससे आप या आपके बच्चे गले में खराश, नाक बहने, बुखार, सर्दी- खासी का शिकार हो सकते हैं. इसलिए आपको बारिश में भीगने से बचना चाहिए. घर से बाहर जाने पर छाता साथ लेकर जाएं.

2. रोड साइड स्टॉल में खाना न खाएंमिड लाइफ की खबर के अनुसार   बारिश के मौसम में तेलीय और मसालेदार भोजन करने की इच्छा होती है, लेकिन हर तरह से, फास्ट फूड और स्ट्रीट स्टॉल में खाने से बचें, क्योंकि ये गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याओं को आकर्षित करने का सबसे आसान तरीका है. इस मौसम में केवल अच्छी तरह से पका हुआ घर का बना भोजन और स्नैक्स ही खाएं.

3.गीले होने पर एसी रूम में न जाएं
यदि आप भीगकर घर या धफ्तर में आ रहे हैं तो किसी भी कीमत पर अपने वातानुकूलित कार्यालय या कमरे में प्रवेश न करें. यह बुखार, खांसी और का कारण भी बन सकता है. एसी रूम में काम शुरू करने से पहले खुद को पूरी तरह से सुखा लें.

डिलीवरी के बाद डिप्रेशन की शिकार हैं तो ये 5 तरीके उबरने में मदद करेंगे

4.गंदे हाथों से अपना चेहरा न छुएं
बाहर से जब आप घर लौटते हैं तो आपके हाथों में सैकड़ों रोगाणु होते हैं. इसलिए कभी भी अपने गंदे हाथों से अपना मुंह, आंख, कान को न छुएं. ऐसा करने से सूक्ष्मजीव आपके शरीर में प्रवेश कर सकते हैं. इसलिए हैंड वाश या साबुन से अपने हाथों को जरूर धोएं.

5. खुद को मच्छरों से बचाएं
मच्छर बारिश के दिनों का हिस्से होते हैं. ऐसे में मच्छरों को भगाने वाली क्रीम लगाएं. रात में सोते समय मच्छरदानी का प्रयोग करें और अपने घर के दरवाजों और खिड़कियों पर मच्छरदानी लगाएं.

6. घर के आसपास पानी जमा न होने दें
जल जमाव एक सामान्य चीज है, जिसे हम मानसून में देख सकते हैं. आसपास के खाली पड़े टैंक, टायर, कचरा के डिब्बे, बोतल, फूलों के बर्तन में पानी में जमा हो सकता है. ऐसे में साफ सफाई रखें. आसपास कोई ऐसी चीज न रखें जिसमें पानी भरें और मच्छर पैदा हों.

7. बच्चों को पोखरों में खेलने ना जाने दें
मानसून के दौरान बच्चे पानी के पोखरों में खेलना पसंद करते हैं, लेकिन इसके साथ ही बुखार, सर्दी और गले में खराश का खतरा बना रहता है. क्योंकि यहां संक्रामण हो सकता है जो दस्त, हैजा, टाइफाइड और अन्य जल जनित रोगों का कारण बनते हैं. बच्चों को पोखर में खेलने जाने देना सही नहीं है.

Skin Care Tips: गर्मियों में आम से बढ़ेगा चेहरे पर ग्लो, दही के साथ ऐसे करें इस्तेमाल

8. नाखून को दांतों से ना काटें
नाखून के भीतर कई तकह के कीटाणु जमा होते हैं, इसलिए लिए नाखून को दांतों से नहीं काटना चाहिए. ऐसा करने से कीटाणु मुंह के जरिए पेट में चले जाते हैं. इससे आप बीमार हो सकते हैं. इसलिए
नेल कटर का उपयोग करके नाखूनों को काटें.

9. एलर्जी से बचें
यदि आपको धूल और धुएं के कणों से एलर्जी है, तो बारिश के मौसम में इनसे बचें. यदि आप उनके संपर्क में आते हैं और एलर्जी की प्रतिक्रिया का शिकार होते हैं, तो बीमार पड़ने की अधिक संभावना होती है.

10 बीमार लोगों से बचें
आप मानसून के मौसम में सभी तरह की सावधानियों को बरतते हैं, लेकिन अगर आप बीमार व्यक्ति से दूरी नहीं बनाते तो सबकुछ बेकार है. क्योंकि बीमार व्यक्ति से संपर्क में आने से वायरस या कोई बीमारी आपको भी हो सकती है. बीमारी से बचने और संक्रमण को रोकने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग भी जरूरी है.





Source link

पिछला लेखस्ट्रेस के कारण रात में नहीं आ रही नींद तो पानी में मिलाएं ये 2 चीजें, मिलेगा फायदा
अगला लेखजयपुर में पानी पीने रूके युवक से बाइक सवार बदमाश छीन ले गए बैग
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।