मध्यप्रदेश : मकर संक्रांति के मेले में चाट खाने से बिगड़ी 100 से ज्यादा की तबीयत, बीमारों में महिलाएं और बच्चे ज्यादा

0
0



मध्यप्रदेश के सीधी जिले में संक्रांति के मेले में खराब खाने की वजह से काफी संख्या में लोग लोग बीमार पड़ गए. बीमारों की संख्या 100 से ज्यादा बताई जा रही है. इसकी जानकारी मिलने के बाद मेले में अफरा-तफरी का माहौल हो गया. बीमारों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रामपुर नैकिन में भर्ती कराया गया है. बताया जा रहा है कि बीमारों में महिला और बच्चे ज्यादा हैं. करीब 20 लोगों को बड़े अस्पताल में रेफर किया गया है.

जानकारी के मुताबिक, मामला सीधी जिले के रामपुर नैकिन की ग्राम पंचायत खेड़ा में सोन नदी के पास का है. यहां संक्रांति का मेला लगा हुआ है. शनिवार को बड़ी संख्या में लोग पहुंचे थे. अस्पताल में पहुंचे लोगों का कहना है कि सभी बीमारों ने मेले में चाट खाई थी. इसके कुछ देर बाद उनकी तबीयत बिगड़ने लगी. कुछ लोग तो बेहोश होकर गिर भी गए. कुछ लोगों को दूसरों ने तो कुछ खुद ही अस्पताल तक पहुंचे. 

बीमारों में ग्राम पंचायत क्षेत्र कुआं, भीतरी, ममदर व झलवार के लोग ज्यादा है. 

एक साथ इतने बीमार होने से अस्पताल में जगह कम पड़ गई. मरीजों को फर्श पर लिटाकर उपचार दिया गया.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सीधी के रामपुर नैकिन के भीतरी गांव में हुई फूड प्वाइजनिंग मामले का संज्ञान लिया है. मुख्यमंत्री ने फूड प्वाइजनिंग से प्रभावित लोगों के समुचित इलाज और कुशलता के निर्देश कलेक्टर को दिए हैं. मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से पूरे मामले की मॉनिटरिंग की जा रही है.

कलेक्टर सहित जिले के बड़े अधिकारी रामपुर नैकिन अस्पताल पहुंच गए है और रामपुर नैकिन से इलाज संबंधित पूरी व्यवस्थाएं देख रहे है.

फूड प्वाइजनिंग से प्रभावित लोगो का प्राथमिक उपचार सीएचसी रामपुर नैकिन, सीएचसी चुरहट व सीएचसी सेमरिया में चल रहा है. इनमें से किसी की स्थिति गंभीर नहीं बताई जा रही है. बताया जा रहा है कि अधिकतर लोग यहां से प्राथमिक इलाज लेकर घर चले गए है.

भितरी, कुंवा, बड़खरा, मामदार, झालवाड़ गांव से कुल 7 लोगों को रीवा शिफ्ट किया गया है और सभी की हालत पहले से बेहतर है.

मुख्यमंत्री खुद पूरे मामले पर नजर बनाए हुए है, सीधी कलेक्टर और रीवा कमिश्नर को बेहतर इलाज की व्यवस्थाओं हेतु निर्देशित किया गया है.



Source link

पिछला लेख‘नड्डा मैं तुमको पतला करके छोड़ूंगा’, जानिए पीएम मोदी के साथ संबंधों पर बीजेपी अध्यक्ष ने क्या कहा
अगला लेखसाल 1949 के बाद पहली बार सेना दिवस परेड का आयोजन होगा दिल्ली के बाहर
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।