भाद्रपद मास कब समाप्त हो रहा है, अब हिंदू कैलेंडर का कौन सा महीना आरंभ होगा, जानें

0
1


Hindu Calendar 2021: हिंदू धर्म में भाद्रपद मास को विशेष माना गया है. भाद्रपद मास को भादो का महीना भी कहते हैं. धार्मिक दृष्टि से भाद्रपद मास को बहुत ही विशेष माना गया है. चातुर्मास का ये दूसरा मास माना गया है, वहीं हिंदू कैंलेडर के अनुसार भाद्रमास को छठा महीना माना गया है.

मान्यता है कि भाद्रपद मास में पड़ने वाले पर्व और व्रत जीवन में सुख समृद्धि प्रदान करते हैं. इस माह में एकादशी का व्रत महत्वपूर्ण माना गया है. भाद्रपद मास में ही श्रीकृष्ण जन्माष्टमी और गणेश चतुर्थी जैसे पर्व मनाए जाते हैं. इसके साथ ही भादो मास की एकादशी, प्रदोष व्रत, पूर्णिमा और अमावस्या को भी विशेष महत्व प्रदान किया गया है.

भाद्रपद मास कब समाप्त होगा
पंचांग के अनुसार 22 अगस्त 2021 को भाद्रपद मास का आरंभ हुआ था. 20 सितंबर 2021, सोमवार को भाद्रपद मास समाप्त होगा. पंचांग के अनुसार इस दिन पूर्णिमा की तिथि रहेगी. इस दिन नक्षत्र पूर्वाभाद्रपद रहेगा. चंद्रमा का गोचर कुंभ राशि में रहेगा.

भाद्रपद के बाद कौन सा महीना आता है
भाद्रपद मास के बाद आश्विन मास प्रारंभ होता है. हिंदू कैलेंडर के अनुसार आश्विन मास सातवां महीना है. चातुमार्स का ये तीसरा महीना माना गया है. पंचांग के अनुसार आश्विन मास 21 सितंबर 2021 से आरंभ होगा. आश्विन मास का समापन 20 अक्टूबर 2021 को होगा. आश्विन मास को धार्मिक दृष्टि से महत्वपूर्ण माना गया है. पितृ पक्ष का समापन आश्विन मास में ही होता है. नवरात्रि का पर्व और विजय दशमी का पर्व भी इसी महीने में मनाए जाते हैं. आश्विनी मास की एकादशी तिथि, प्रदोष व्रत और चतुर्थी की तिथि को विशेष माना गया है. मान्यता है कि इस मास की गई पूजा और साधना का विशेष पुण्य प्राप्त होता है.

यह भी पढ़ें
Ganesh Visarjan 2021: गणेश उत्सव के छठे दिन गणपति बप्पा की पूजा का बन रहा है विशेष संयोग, जानें गणेश विसर्जन की तिथि

‘शनि’ के साथ ‘गुरु’ भी हैं वक्री, मकर राशि में गुरु-शनि की युति इन राशियों की बढ़ा सकती हैं परेशानी, भूलकर भी न करें ये काम

Chanakya Niti: धन की देवी लक्ष्मी जी का आशीर्वाद चाहिए तो भूलकर भी ये कार्य नहीं करने चाहिए

 



Source link

पिछला लेखकिस दिन है भाद्रपद पूर्णिमा श्राद्ध, जानें तिथि, महत्व और पूजन विधि
अगला लेखलॉन्च हुआ Apple iPhone 13, नये iPad और Watch Series 7 भी पेश
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।