ब्रिटेन में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश के मामले में भारत दूसरे स्थान पर पहुंचा

0
5


Photo:AP FILE

India now second biggest investor in UK

नई दिल्ली। ब्रिटेन में भारत निवेश करने वाले देशों में अमेरिका के बाद दूसरे पायदान पर पहुंच गया है। उसने 2019 में यहां 120 परियोजनाओं में निवेश किया और 5,429 नये रोजगार के अवसरों का सृजन किया। ब्रिटेन सरकार के शुक्रवार को जारी सरकारी आंकड़े से यह पता चला। आंतरिक व्यापार विभाग के 2019-20 में देश में आये निवेश के बारे में जारी आंकड़ों के अनुसार भारत तीसरे स्थान से दूसरे स्थान पर पहुंच गया है। ब्रिटेन के लिये अमेरिका प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) के मामले में पहला स्रोत बना हुआ। उसने 462 परियोजनाओं में निवेश किया और 20,131 रोजगार सृजित किये। उसके बाद क्रमश: भारत, जर्मनी, फ्रांस, चीन और हांगकांग का स्थान रहा। आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड ने 72 परियोजनाओं में निवेश किया। नार्डिक और बाल्टिक क्षेत्र की हिस्सेदारी 134 रही।

आंकड़ों के अनुसार 2018 में भारतीय परियोजनाओं की संख्या 106 थी और इससे 4,858 रोजगार पैदा हुए थे। वहीं 2019 में परियोजनाओं की संख्या बढ़कर 120 हो गयी जबकि रोजगार के अवसर 5,429 पर पहुंच गए। ब्रिटेन की अंतरराष्ट्रीय व्यापार मंत्री लिज ट्रस ने डिजिटल माध्यम से शुक्रवार को इंडिया ग्लोबल वीक, 2020 को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘कोविड-19 संकट के दौरान हम भारत के साथ मिलकर काम करते रहे ताकि आपूर्ति व्यवस्था बनी रहे और व्यापार मार्ग कायम रहे। यह महत्वपूर्ण है कि हम संरक्षणवाद की ओर नहीं बढ़े।’’





Source link

पिछला लेखमवेश‍ियों से बचने की कोशिश में पलट गई कार, विकास दुबे ने की भागने की कोश‍िश : पुलिस, 10 अहम बातें…
अगला लेखHariyali Teej 2020: 23 जुलाई को है हरियाली तीज का पावन पर्व, जानें मुहूर्त और पूजा विधि
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।