बजट से पहले पेट्रोल डीजल होगा सस्ता? तेल की कीमतों में कमी को लेकर पेट्रोलियम मंत्री ने कही ये बात

0
0


Photo:FILE Petrol Diesel

आगामी 1 फरवरी को देश का आम बजट पेश होने जा रहा है। संभव है कि इससे पहले महंगाई की मार झेल रही आम जनता को पेट्रोल और डीजल के मोर्चे पर कुछ राहत मिल जाए। देश के पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने आज इस ओर इशारा किया है। पुरी ने पेट्रोलियम कंपनियों से कहा है कि कच्चे तेल की कीमतों में नरमी आने के बाद उनसे उम्मीद है कि वे तेल की कीमतों में कमी करें। 

बता दें कि देश में पेट्रोल डीजल के दाम बीते साल अप्रैल से स्थिर हैं। बीते एक साल में कच्चे तेल की कीमतें 80 डॉलर प्रति बैरल से 140 डॉलर प्रति बैरल होते हुए वापस 75 डॉलर पर आ चुकी हैं। 130 से 140 डॉलर कीमतें पहुंचने पर जहां तेल कंपनियां भयंकर घाटा झेल रही थीं, वहीं बीते 3 से 4 महीने में कीमतें 90 डॉलर से नीचे आने के बाद कंपनियां अपने घाटे को काफी हद तक पाट चुकी हैं। 

क्या कहा पुरी ने 

पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि मैं तेल कंपनियों से अनुरोध करता हूं कि अगर अंतरराष्ट्रीय तेल की कीमतें नियंत्रण में हैं और उनकी कंपनियों की अंडर-रिकवरी बंद हो गई है तो भारत में भी तेल की कीमतें कम करें। कच्चे तेल की कीमत अप्रैल में 102.97 डॉलर प्रति बैरल थी, जो जून में बढ़कर 116.01 डॉलर प्रति बैरल तक पहुंच गई। यह कीमत इस महीने 78.09 डॉलर तक गिर गई।

राज्यों से एक्साइज ड्यूटी घटाने की मांग

पुरी ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तेल की कीमतों में वृद्धि के बावजूद, हमने तेल की कीमतों का नहीं बढ़ने दिया। इतना ही नहीं केंद्र ने नवंबर 2021 और मई 2022 को उत्पाद शुल्क घटा दिया था। लेकिन कुछ राज्य सरकारों ने इसके बावजूद वैट कम नहीं किया और वहां भी अब भी तेल की कीमत अधिक है।

कंपनियां का हर लीटर में 10 रुपये का मुनाफा

ताजा रिपोर्ट के अनुसार तेल कंपनियों को पेट्रोल पर 10 रुपये प्रति लीटर का मुनाफा हो रहा है, लेकिन पिछले घाटे की भरपाई करने के लिए खुदरा कीमतों में कमी नहीं की गई है। इसके साथ ही एक रिपोर्ट में बताया गया कि डीजल की बिक्री पर कंपनियों को 6.5 रुपये प्रति लीटर का नुकसान हो रहा है। 24 जून 2022 को समाप्त सप्ताह में पेट्रोल पर 17.4 रुपये प्रति लीटर और डीजल पर 27.7 रुपये प्रति लीटर के रिकॉर्ड नुकसान के बाद, तीसरी तिमाही (अक्टूबर-दिसंबर 2022) में पेट्रोल की बिक्री पर 10 रुपये प्रति लीटर की दर से मुनाफा हुआ। दूसरी ओर डीजल पर नुकसान घटकर 6.5 रुपये प्रति लीटर रह गया।” तीनों कंपनियों ने छह अप्रैल 2022 से पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बदलाव नहीं किया है।

Latest Business News





Source link

पिछला लेखकाजू-बादाम से ज्‍यादा हेल्‍दी हैं तिल-मूंगफली, कैंसर को भी रोकने की है क्षमता
अगला लेखहरी सब्जियों में छिपे कीड़े कैसे निकालें? अपनाएं ये आसान किचन हैक्स
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।