बच्चों के पेट में कीड़े हैं तो खुरासानी अजवाइन से बनाएं ये औषधि, पेट दर्द भी होगा दूर

0
9


चॉकलेट, मिठाई खाने से अक्सर बच्चों के पेट में कीड़े (Stomach Worms) पड़ जाते हैं, जिन्हें कृमि कहते हैं. कई बार बच्चों को समझाना बेहद मुश्किल होता है, ऐसे में पेट के कीड़ों को मारने के लिए ऐलोपैथिक दवाइयों (Allopathic Medicines) का इस्तेमाल किया जाता है. अगर इन दवाओं का ज्यादा इस्तेमाल किया जाए तो बच्चों की सेहत (Health) के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है. इस परिस्थितियों में घरेलू नुस्खे (Home Remedies) के तौर पर खुरासानी अजवाइन से दवा तैयार करके बच्चों की दी जा सकती है.

पेट के कीड़ों का उपचार
www.myupchar.com से जुड़े डॉ. लक्ष्मीदत्ता शुक्ला के अनुसार घरेलू नुस्खों में अजवाइन बहुत गुणकारी है. खासतौर पर पेट के लिए इससे अच्छा इलाज नहीं है. बता दें कि अजवाइन दो प्रकार की होती है. एक जो घर के मसालों में इस्तेमाल की जाती है और दूसरी खुरासानी अजवायन, जो जड़ी-बूटी के रूप में इस्तेमाल की जाती है. खुरासानी अजवाइन का पौधा कांटेदार होता है. इसके फूल सफेद और गुच्छेदार होते हैं.ऐसे करें खुरासानी अजवाइन का उपयोग

वहीं खुरासानी अजवाइन बच्चों के लिए लाभकारी है. बच्चों के पेट के कीड़े दूर करने के लिए उन्हें सुबह पहले 5 ग्राम गुड़ खिलाएं, फिर खुरासानी अजवाइन का 1-2 ग्राम चूर्ण खिलाएं और पानी पिला दें. आंतों में लगे कीड़े बाहर निकल जाएंगे और मर जाएंगे.

दांत के दर्द, मसूड़ों का इलाज
दांत की पीड़ा से छुटकारा पाने में खुरासानी अजवाइन का इस्तेमाल काफी अच्छा होता है. इसके लिए अजवाइन को चबाकर दांतों में रखने से दांत के दर्द में राहत मिलती है. यदि मसूड़ों से खून आता है तो खुरासानी अजवाइन के पत्तों का काढ़ा बनाकर इसका कुल्ला करना चाहिए.

लीवर व छाती के दर्द में सहायक

सीने और लीवर के रोगियों के लिए भी खुरासानी अजवायन गुणकारी होती है. खुरासानी अजवाइन तेल का पेट और सीने पर मालिश या लेप लगाने से दर्द से राहत मिलती है. मांसपेशियों में खिंचाव भी दूर होता है.

कान दर्द में ऐसे करें उपचार
कान के दर्द से राहत पाने के लिए खुरासानी अजवाइन को तेल में तड़काकर इस तेल को ठंडा कर लें. फिर इस तेल की 2-4 बूंदें कान में डालने से दर्द दूर होता है. इसके अलावा भी कान से संबंधित अन्य रोगों में इसके इस्तेमाल से लाभ मिलता है.

आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए खाएं चटनी
आंखों की रोशनी बढ़ाने में भी खुरासानी अजवाइन मदद करती है. इसकी चटनी बनाकर नियमित खाने से आंखों की कमजोरी दूर होती है, साथ ही आंखों की रोशनी बढ़ाती है. कई शोध में यह भी पता चला है कि इसके नियमित सेवन करने से चश्मे के नंबर में भी सुधार आ जाता है.

दूर करे पेट दर्द
myUpchar के अनुसार पेट दर्द के इलाज के लिए खुरासानी अजवायन काफी लाभकारी होती है. इसके लिए 12 ग्राम अजवाइन के चूर्ण में 250 मिलीग्राम काला नमक मिलाकर खाने से पेट दर्द की शिकायत दूर होती है. इसके अलावा खुरासानी अजवायन के तेल की 24 बूंदें 10 ग्राम सौंठ के साथ मिलाकर खाने से पेट की पीड़ा से राहत मिलती है. इसके अलावा खुरासानी अजवायन के काढ़े में गुड़ मिलाकर पीने से भी पेट दर्द ठीक होता है.

ये भी पढ़ें – Breasts Sagging: ब्रेस्ट सैगिंग से हैं परेशान, अपनाएं ये घरेलू टिप्‍स

यूरिन संबंधित परेशानी का इलाज
खुरासानी अजवायन यूरिन संबंधित परेशानियों को ठीक करने में सहायक होती है. खुरासानी अजवायन के बीजों का अर्क 15 से 20 की मात्रा दिन में तीन-चार बार पीने से यूरिन संबंधी परेशानी दूर होती है. पथरी के रोगियों को अक्सर यूरिन करते समय पीड़ा झेलनी पड़ती है. उन्हें इसका नियमित रूप से करना चाहिए.

अधिक जानकारी के लिए हमारा आर्टिकल, अजवाइन के फायदे और नुकसान, किन रोगों में आता है काम पढ़ें।

न्यूज18 पर स्वास्थ्य संबंधी लेख myUpchar.com द्वारा लिखे जाते हैं। सत्यापित स्वास्थ्य संबंधी खबरों के लिए myUpchar देश का सबसे पहला और बड़ा स्त्रोत है। myUpchar में शोधकर्ता और पत्रकार, डॉक्टरों के साथ मिलकर आपके लिए स्वास्थ्य से जुड़ी सभी जानकारियां लेकर आते हैं।





Source link

पिछला लेखराजीव गांधी अस्पताल में 1000वें कोरोना पेशेंट को मिली छुट्टी, केजरीवाल ने किया सम्मानित
अगला लेख32 देशों के 239 वैज्ञानिकों का दावा- हवा से भी फैलता है कोरोना, WHO से की ये मांग
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।