बच्चों की बढ़ेगी इम्यूनिटी, अपनाएं सेलिब्रिटी डाइटिशियन रुजुता दिवेकर के ख़ास टिप्स

0
0


किसी भी वायरस और बीमारी से बचने के लिए सबसे ज्यादा ज़रूरी है इम्यूनिटी (Immunity) का स्ट्रांग होना. कोरोना के इस दौर में जब इसकी तीसरी लहर आने की बात की जा रही है और जिसे बच्चों के लिए काफी खतरनाक बताया जा रहा है. ऐसे में ज़रूरी है कि बच्चों की इम्यूनिटी को स्ट्रांग करने के लिए उनकी डाइट में कुछ चीजों को शामिल किया जाये. इस बारे में सेलिब्रिटी न्यूट्रिशनिस्ट (Nutritionist) और डायटिशियन (Dietician) रुजुता दिवेकर ने हाल ही में एक वीडियो शेयर किया, जिसमें उन्होंने न्यूट्रिशनिस्ट सौम्या के साथ बच्चों की इम्यूनिटी बढ़ाने वाले फूड्स के बारे में बात की. साथ ही देसी डाइट की मदद से बच्चों की इम्यूनिटी बढ़ाने के तरीके बताये. आइए जानते हैं इसके बारे में.

मुरब्बा-अचार-चटनी

बच्चों की इम्यूनिटी स्ट्रांग करने के लिए आंवला, नींबू, करौंदा जैसी चीजों का इस्तेमाल किया जा सकता है. बच्चों की डाइट में इनको शामिल करने के लिए इन चीजों को मुरब्बा, अचार और चटनी के रूप में खिलाएं. बच्चों को इनके खट्टे-मीठे स्वाद तो पसंद आएंगे ही साथ ही बच्चों की एनर्जी और इम्यूनिटी भी स्ट्रांग होगी.

ये भी पढ़ें: बच्चों के लिए खिलौने खरीदते समय इन बातों का रखें ध्यान

सीजन के फल-सब्ज़ी 

बच्चों की इम्यूनिटी किसी टेबलेट के ज़रिये बढ़ाने से बेहतर है कि फलों और सब्ज़ियों के ज़रिये इसको स्ट्रांग किया जाये. गर्मी के मौसम में अमरूद, आम, करौंदा, आंवला और कटहल जैसी चीजें आसानी से मिल जाती हैं. इनको बच्चों की डाइट में शामिल किया जाना चाहिए. ये इम्यूनिटी को तो स्ट्रांग करती ही हैं साथ ही उनकी ग्रोथ को बेहतर करती हैं और बोन्स को भी मजबूती देती हैं.

शाम को दें ऐसा नाश्ता 

बच्चों को शाम होते-होते भूख लगने लगती है. ऐसे में बच्चों को मैगी, पास्ता, बर्गर खिलाने से बेहतर है कि उनको घी और गुड़ के साथ रोटी, हलवा, बेसन और राजगीरा के लड्डू खाने को दें. शाम का समय ऐसा होता है जब और शरीर में कॉर्टिसोल हार्मोन्स का स्तर कम होता है. इसलिए उनको थोड़ी एनर्जी देने और उनका मूड बूस्ट करने लिए डाइट में इन चीजों को शामिल करें.

ये भी पढ़ें: बच्चों के कमरे में कभी न रखें ये चीजें, हो सकती हैं खतरनाक

चावल भी शामिल करें डाइट में

बच्चों में इम्यूनिटी के साथ एनर्जी लेवल को बढ़ाने के लिए बच्चों की डाइट में चावल शामिल करें. अगर हो सके तो दही के साथ चावल खाने को दें जिसमें सेंधा नमक मिलाना बेहतर होगा. इसके साथ ही बच्चों को दाल और घी के साथ भी चावल खाने के लिए दें. अमीनो एसिड से भरपूर चावल विटामिन बी का भी बेहतर सोर्स है जो बच्चों में चिड़चिड़ापन कम करने में भी मदद करेगा.





Source link

पिछला लेखENG vs NZ 1st Test Day 4 Highlights: रोरी बर्न्स की शतकीय पारी पर भरे पड़े टिम साउदी के छह विकेट, न्यूजीलैंड को बड़ी बढ़त
अगला लेखmi 11 lite 5g launch price specs india: जान लीजिए! लॉन्च से पहले ही Xiaomi Mi 11 Lite 4G की कीमत लीक, फुल स्पेसिफिकेशंस भी देखें – xiaomi upcoming smartphone mi 11 lite 4g india price leaked before launch, see specifications
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।