फल का फायदा तभी है जब उसे सही समय पर खाया जाए, जानें फ्रूट्स खाने का Right Time

0
2


नई दिल्ली: जब बात हेल्दी डाइट की आती है तो उसमें फ्रूट्स को जरूर शामिल किया जाता है. इसका कारण ये है कि मिनरल्स, विटामिन्स और फाइबर से भरपूर फलों में ढेर सारे पोषक तत्व होते हैं, कैलोरीज की मात्रा भी बेहद कम होती है और फलों (Fruits) में नैचरल शुगर होता है जिसे हेल्दी माना जाता है और बिना किसी साइड इफेक्ट के आप आराम से फल खा सकते हैं. लेकिन फलों के सेवन को लेकर कई तरह के मिथक (Myths about fruits) भी होते हैं. जैसे- फल खाली पेट खाना चाहिए या नहीं, फल को भोजन के साथ खाना चाहिए या नहीं, रात में सोने से पहले फल खाना चाहिए या नहीं? अगर आपके मन में भी हैं इस तरह के सवाल तो यहां जानें इन सभी का जवाब.

मिथक 1: दिन का समय फल खाने के लिए सबसे अच्छा समय है
हकीकत:
आपने कई लोगों को यह कहते सुना होगा कि सुबह की तुलना में दिन का समय (Afternoon time) फल खाने के लिए सबसे अच्छा होता है. लेकिन इस दावे को साबित करने के लिए कोई वैज्ञानिक तथ्य मौजूद नहीं है. लेकिन इसके पीछे ये तर्क दिया जाता है कि दिन के समय शरीर का मेटाबॉलिज्म धीमा हो जाता है और फल में नैचरल शुगर की मात्रा अधिक होती है और इसलिए अगर इसे दिन के समय खाया जाए तो यह ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाकर पाचन तंत्र को उत्तेजित करता है. लिहाजा फल को दिन में ही खाना चाहिए इस बात में कोई सच्चाई नहीं है. आप इसे सुबह के समय भी खा सकते हैं.

ये भी पढ़ें- अगर आप भी खाते हैं ये 8 फल तो तुरंत बंद कर दें, वरना…

मिथक 2: सोने से पहले फल नहीं खाना चाहिए
हकीकत:
सोने से पहले (Before bed) या फिर बीच रात में अगर कुछ स्नैकिंग करने का मन हो तो प्रोसेस्ड फूड की जगह फ्रूट्स खाना एक अच्छा ऑप्शन हो सकता है. अमेरिका के नैशनल स्लीप फाउंडेशन की मानें तो सोने से ठीक पहले अगर एक केला खाया जाए तो नींद अच्छी आती है और बीच रात में पैरों में ऐंठन की समस्या भी दूर होती है क्योंकि केले में पोटैशियम होता है. इसके अलावा ऐप्रिकॉट्स और डेट्स जैसे फल जिनमें मैग्नीशियम अधिक होता है, अगर इनका सेवन सोने से पहले किया जाए तो शरीर रिलैक्स हो जाता है और नींद अच्छी आती है.

ये भी पढ़ें- फल के छिलके छीलकर न खाएं, फल से भी ज्यादा फायदेमंद है उसका छिलका

मिथक 3: खाली पेट फल खाना चाहिए
हकीकत:
बहुत से लोगों का यह मानना है कि अगर खाली पेट फल खाया जाए (Empty Stomach) तो वह ज्यादा फायदेमंद होता है. इसके पीछे ये तर्क दिया जाता है कि अगर फल को भोजन के साथ खाया जाए तो पाचन की प्रक्रिया धीमी हो जाती है और इस वजह से पेट में गैस, पेट फूलना और बदहजमी जैसी दिक्कतें हो सकती हैं. हालांकि फ्रूट्स में फाइबर होता है और पचने में देर लगने की वजह से फल खाने के बाद लंबे समय तक भूख नहीं लगती, जिससे आप बाइंज इटिंग करने से बच जाते हैं. लिहाजा आप खाली पेट फल खा सकते हैं इसमें कोई दिक्कत नहीं है लेकिन अगर आप भोजन के साथ या भोजन के बाद फल खाते हैं तो उसमें भी कोई हानि नहीं है.

कुल मिलाकर ये कहा जा सकता है कि फल खाने का कोई फिक्स टाइन नहीं होता. फल हेल्दी, पोषक तत्वों से भरपूर और वेट लॉस में मदद करने वाले होते हैं इसलिए इन्हें आप दिन के किसी भी समय खा सकते हैं.

सेहत से जुड़े अन्य लेख पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.





Source link