पैगंबर पर टिप्‍पणी को लेकर हुई हिंसा के विरोध में देशव्‍यापी प्रदर्शन करेगा बजरंग दल

0
4


प्रतीकात्‍मक फोटो

नई दिल्‍ली:

विश्व हिंदू परिषद (VHP) ने मंगलवार को घोषणा की कि पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ की गई कथित आपत्तिजनक टिप्पणी को लेकर देश के कुछ हिस्सों में हाल ही में हुई हिंसक घटनाओं के विरोध में बजरंग दल के कार्यकर्ता इस सप्ताह देशव्यापी प्रदर्शन करेंगे.राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) से संबद्ध संगठन ने कहा कि उसकी युवा शाखा के कार्यकर्ता बृहस्पतिवार को देशभर के जिला प्रशासन मुख्यालय में ‘‘इस्लामिक जिहादी कट्टरपंथियों द्वारा बढ़ती चरमपंथी घटनाओं” के खिलाफ धरना देंगे और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को एक ज्ञापन सौंपेंगे.

यह भी पढ़ें

गौरतलब है कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) के पूर्व नेताओं नुपुर शर्मा और नवीन जिंदल द्वारा पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ की गई कथित आपत्तिजनक टिप्पणियों के विरोध में 10 जून को दिल्ली की जामा मस्जिद के बाहर प्रदर्शन किए गए थे. इसके अलावा देश के कई हिस्सों में भी प्रदर्शन किए गए थे. विवाद बढ़ने के बाद भाजपा ने दोनों नेताओं को पार्टी से निकाल दिया था.झारखंड में, प्रदर्शनकारियों को नियंत्रित करने के प्रयास में कुछ पुलिसकर्मी घायल हो गए थे, जबकि जम्मू में अधिकारियों ने कुछ क्षेत्रों में कर्फ्यू लगाया. उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में, प्रदर्शनकारियों ने कथित तौर पर पुलिस पर पथराव किया, जिसके बाद बल को उन पर लाठीचार्ज करना पड़ा और आंसू गैस के गोले दागने पड़े.

विश्व हिंदू परिषद के महासचिव मिलिंद परांडे ने एक बयान में कहा, ‘‘ देश में इस्लामिक जिहादी कट्टरपंथियों द्वारा बढ़ती चरमपंथी घटनाओं के खिलाफ विहिप की युवा शाखा बजरंग दल अब सड़कों पर उतरेगी.”उन्होंने कहा, ‘‘ जिहादी कट्टरपंथियों द्वारा हिंदुओं पर लगातार हो रहे हमलों के खिलाफ बजरंग दल के कार्यकर्ता बृहस्पतिवार को सभी जिला मुख्यालयों पर धरना देंगे और राष्ट्रपति को एक ज्ञापन सौंपेंगे.”परांडे ने मांग की कि उन मस्जिदों पर कड़ी निगरानी रखी जाए, जहां से भीड़ कथित तौर पर जुमे की नमाज के बाद निकली थी और 10 जून को देश के कुछ हिस्सों में इन्होंने हिंसा की थी.

उन्होंने कहा, ‘‘जिन लोगों ने भीड़ को उकसाया, उन्हें तुरंत गिरफ्तार किया जाना चाहिए और उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए. जिन्हें धमकी दी गई है, उनकी सुरक्षा सुनिश्चित की जानी चाहिए. धमकी देने वालों को गिरफ्तार किया जाए और उनके खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज किया जाए.”विश्व हिंदू परिषद (विहिप) की दिल्ली इकाई ने देश के कई हिस्सों में 10 जून को हुई हिंसा के विरोध में शहर के लोगों से मंगलवार को मंदिरों में एकत्र होने और हनुमान चालीसा के सामूहिक पाठ में भाग लेने का सोमवार को आह्वान किया था.

* जब इस नई फिल्म की स्क्रीनिंग के बाद रोने लगे कर्नाटक के मुख्यमंत्री

* दिल्ली के मंत्री सत्येंद्र जैन की जमानत याचिका पर फैसला सुरक्षित, मनी लॉन्ड्रिंग से जुड़ा है मामला

* BJP ने प्रज्ञा ठाकुर को मध्य प्रदेश नगरीय निकाय चुनाव चयन समिति से क्यों किया बाहर?

राष्ट्रपति पद की रेस में नहीं होंगे शरद पवार : सूत्र

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Source link

पिछला लेखन्यूजीलैंड में हिंसक प्रदर्शन: PM जेसिंडा को 2 साल से मिल रहीं धमकियां, लोग कर रहे सख्त लॉकडाउन और वैक्सीनेशन का विरोध
अगला लेखईवी में बदले जाएंगे डीजल इंजन वाहन, स्पेसएक्स के पूर्व कर्मचारी ने भारतीय के साथ शुरू किया स्टार्टअप
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।