पेट से जुड़ी बीमारी IBS में विटामिन डी नहीं है कारगर- रिसर्च

0
1


BVitamin D ineffective in IBS: किसी-किसी इंसान की आंत में विकार पैदा हो जाता है. इसके कारण पेट में अक्सर मरोड़ (cramps) आना, पेट फूलने की बीमारी (bloating), डायरिया (diarrhoea) और कब्ज (constipation) आदि की समस्याएं हो जाती हैं. इसे इरीटेबल बाउल सिंड्रोम (Irritable Bowel Syndrome -IBS) कहते हैं. अभी तक विटामिन डी से इसका इलाज किया जाता है लेकिन एक नई रिसर्च में यह बात सामने आई है कि विटामिन डी से आईबीएस ठीक नहीं होता है.

एचटी की खबर के मुताबिक यूनिवर्सिटी ऑफ शेफिल्ड (University of Sheffield) के अध्ययन में यह बात सामने आई है. इस स्टडी के निष्कर्ष को यूरोपियन जर्नल (European Journal of Nutrition) में प्रकाशित किया गया है.

इसे भी पढ़ेंः ओमेगा-3 फैटी एसिड क्या है? जानें कैसे पहुंचाता है ये आपके शरीर को फायदा

12 सप्ताह तक विटामिन डी का सप्लीमेंट दिया
यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने पेट से संबंधित इस विकार से पीड़ित लोगों को अध्ययन में शामिल किया. शोधकर्ता यह देखना चाहते थे कि अध्ययन में शामिल पीड़ित लोगों की विटामिन डी के सप्लीमेंट देने से पेट की परेशानी खत्म होती है कि नहीं. इसके अलावा यह भी देखना चाहते थे कि इस सप्लीमेंट से परेशानी किस हद तक कम हुई है या फिर कोई फर्क नहीं पड़ा है.

इसके अलावा उन व्यक्तियों की जीवन की गुणवत्ता (quality of life)में सुधार हुआ या नहीं. शोधकर्ताओं ने इन लोगों को 12 सप्ताह तक विटामिन डी-3 का ओरल स्प्रे दिया लेकिन आईबीएस में किसी तरह का सुधार नहीं देखा गया. न ही इन लोगों की बीमारी की गंभीरता में कमी आई और न ही जीवन की गुणवत्ता में किसी तरह के सुधार के लक्षण देखे गए.

इसे भी पढ़ेंः कभी लिया है केले के फूल का स्‍वाद? कई बीमारियों को रखता है दूर

आगे भी रिसर्च की जरूरत
आईबीएस पेट से संबंधित गंभीर विकार है जो हमेशा के लिए बीमारी की तरह शरीर में लग जाता है. इससे हमेशा पेट से संबंधित समस्याएं रहती ही हैं. कुछ लोगों में यह कुछ दिनों के लिए ठीक हो जाता है लेकिन कुछ समय बाद फिर उसी स्थिति में बीमारी आ जाती है. मरीज अक्सर इस बीमारी से शर्मिंदगी महसूस करता है. इससे भारी मानसिक और शारीरिक परेशानी होती है.

कुल मिलाकर यह बीमारी व्यक्ति के जीवन की गुणवत्ता को बुरी तरह प्रभावित कर देती है. यूनिवर्सिटी ऑफ शेफील्ड के बर्नाड कॉर्फे (Bernard Corfe) ने बताया, दुर्भाग्य से आईबीएस से गंभीर रूप से पीड़ित व्यक्ति को विटामिन डी से कोई फायदा नहीं हुआ. हालांकि अब तक इसके कारणों के बारे में पता नहीं है और न ही इसका कोई इलाज है. इसलिए इस विकार को लेकर अभी और रिसर्च करने की जरूरत है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.



Source link

पिछला लेखcyber fraud helpline number: ऑनलाइन हो गया है लाखों-करोड़ों का फ्रॉड, तो वापस मिल सकता है पैसे! बस तुरंत डायल करें ये नंबर, हमेशा फोन में सेव रखें – lost your money to an online thief dial 155260 for prompt relief always keep it in the phone check details
अगला लेखsmartphone launched this week: इस सप्ताह लॉन्च हुए ये 5 स्मार्टफोन! लिस्ट में 15600mAh बैटरी वाले रग्ड फोन भी शामिल; देखें कीमत-फीचर्स – these 5 smartphone launched this week including samsung galaxy m32 5g motorola edge 2021 realme c21y oukitel wp15 rugged phone vivo y21
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।