पेट फूलने की परेशानी से तुरंत निजात दिलाएगा 1 गिलास गर्म पानी, जानें अन्य टिप्स

0
1


पेट फूलना एक आम समस्या है, जिसके कारण असहजता और दर्द हो सकता है। पेट फूलने के कारण आपका पेट टाइट व फूला हुआ दिखता है। अक्सर गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल ट्रैक्ट में गैस इकट्ठी होने के कारण आपको पेट फूलने की समस्या होती है। लेकिन शरीर में फ्लूइड रिटेंशन की वजह से भी ब्लोटिंग (पेट फूलना) हो सकती है। पेट फूलने की समस्या का इलाज करने के लिए सबसे पहले हमें इसके कारण का पता लगाना चाहिए कि क्या यह पाचन संबंधी समस्याओं के कारण हो रही है या डाइट के कारण हो रही है या फिर इसके पीछे हॉर्मोन में बदलाव कारण हैं। पेट फूलने की समस्या काफी समय तक बनी रहे या गंभीर हो रही हो, तो डॉक्टर को दिखाना जरूरी होता है। लेकिन कुछ घरेलू उपायों का इस्तेमाल करके इससे तुरंत राहत पाई जा सकती है।

ये भी पढ़ें: शॉवर लेते समय कभी ना करें ये गलतियां, उठाना पड़ सकता है भारी नुकसान

चहलकदमी करें
आमतौर पर पेट फूलने के पीछे का कारण पेट में अतिरिक्त गैस का इकट्ठा होना होता है। जब हमारा शरीर फिजिकल एक्टिविटी (शारीरिक गतिविधि) कम कर देता है, तो पाचन तंत्र ढंग से कार्य नहीं कर पाता। इसलिए खाना खाने के बाद कुछ देर चहलकदमी जरूर करें। इससे पाचन तंत्र की मांसपेशियां मजबूत हो जाएंगी और अतिरिक्त गैस व मल को आसानी से निकाल पाएंगी।

योगासन
अगर आपको पेट फूलने की समस्या रोजाना हो रही है, तो कुछ योगासनों की मदद से आप इससे राहत पा सकते हैं। बालासन, आनंद बालासन और स्क्वैट्स जैसी एक्सरसाइज पेट की मांसपेशियों पर इस तरह से असर डालती हैं कि वो पेट से अतिरिक्त गैस निकालने में सक्षम बनती हैं और पेट फूलने की समस्या से निजात मिलती है।

ये भी पढ़ें: स्किन इंफेक्शन के इलाज में कपूर है कारगर, जानें इसके आकर्षक फायदे

च्यूइंग गम को न खाएं
च्यूइंग गम में मौजूद शुगर एल्कोहॉल के कारण कुछ लोगों को पेट फूलने की परेशानी हो सकती है। इसलिए आप च्यूइंग गम को चबाने से बचें। हां, अगर आप अपनी सांसों को फ्रैश रखने के लिए कुछ खाना चाहते हैं, तो आप पेपरमिंट, सौंफ आदि का सेवन कर सकते हैं।

ज्यादा न खाएं
धीरे-धीरे खाना चबाने से आहार के छोटे टुकड़े करने में मदद मिलती है। इन छोटे टुकड़ों को हमारा पाचन तंत्र आसानी से पचा पाता है और डायजेशन संबंधित प्रॉब्लम्स नहीं होती है। लेकिन जब आप जल्दी-जल्दी खाते हैं या फिर ज्यादा खा लेते हैं, तो पाचन तंत्र को ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है और पचाने में समस्या होती है। जिसकी वजह से पेट में अतिरिक्त गैस बनने लगती है।

गुनगुना पानी पीएं
कम पानी पीने से शरीर में डिहाइड्रेशन होने लगता है और इस स्थिति में आपका शरीर पानी का संग्रह करना शुरू कर देता है। जिसके कारण पेट फूल जाता है। पर्याप्त पानी पीने से ना सिर्फ आप हाइड्रेट रहते हैं, बल्कि ब्लोटिंग की दिक्कत से भी राहत प्राप्त करते हैं। ठंडे पानी की जगह गुनगुना पानी पीएं, जिससे पाचन तंत्र भी बेहतर होता है। खाना खाने के बाद 1 गिलास गर्म पानी पीने से गैस बनने व पेट फूलने की आशंका कम हो जाती है।

यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं पर आधारित है। इसका हम दावा नहीं करते हैं।





Source link

पिछला लेखShare Market Today : मॉनेटरी पॉलिसी की घोषणा के बीच मामूली बढ़त के साथ खुले शेयर बाजार
अगला लेखजेल से कैदी को मिली पैरोल, फिर भी घर जाने से किया इनकार, जानिए क्यों?
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।