पत्नी पर लगे आरोपों पर निशिकांत दुबे बोले-जमीन बेनामी नहीं, जितनी हिम्मत है उतनी जांच करिए

0
4


रांची: झारखंड में जमीन का मामला शांत होने का नाम नहीं ले रहा है. अब बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे की पत्नी पर नियम विरुद्ध देवघर में 20 करोड़ की जमीन महज 3 करोड़ में खरीदने का आरोप लगा है. इस पर जेएमएम बीजेपी सांसद पर निशाना साधा रही है.

इस बीच, झारखंड बीजेपी अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया है. दीपक प्रकाश ने कहा ने कहा कि, सच ये है की 14 करोड़ में सम्पत्ति खरीदी थी, जिसके तीन करोड़ राजस्व का भुगतान किया है. जमीन उनकी पत्नी के नाम है. कोई बेनामी सम्पत्ति नहीं है.

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि, पूरे ठोक-ठाक के सरकार जांच करवाएं. अगर सारी चीजें ठीक निकलती है तो, राज्य सरकार को माफी भी मांगना पड़ेगा, इसका भी विचार करें. सत्ता उनके पास, जांच ब्यूरो उनके पास, जांच करवाने चाहिए. आरोप लगे हैं तो बीजेपी भी चाहती है सच्चाई सामने आए.

वहीं,  गोड्डा सांसद निशिकांत दुबे ने भी ट्वीट के जरिए अपनी प्रतिक्रिया देते हुए लिखा, ‘देवघर की सम्पत्ति बेनामी नहीं है. मेरे पत्नी के नाम की है. झारखंड सरकार को एक करोड़ 60 लाख का राजस्व चेक से भुगतान किया है. जितनी हिम्मत है उतनी जांच करिए.’

दरअसल, शिकायतकर्ता ने इसकी शिकायत मुख्यमंत्री कार्यालय में कर राजस्व घाटे का आरोप लगाते हुए, जांच की मांग की है. शिकायतकर्ता देवघर के ही रहने वाले हैं. सीएम ऑफिस भेजे गए शिकायत में बताया गया है कि, देवघर में एलओकेसी धाम की रजिस्ट्री 29 अगस्त 2019 को हुई है. जिसकी रजिस्ट्री संख्या 770 है. इसमें आरोप लगाया गया है कि, सांसद ने अपने राजनीतिक प्रभाव के बल पर करीब 20 करोड़ की कीमत वाली प्रॉपर्टी सिर्फ तीन करोड़ में अपनी पत्नी के नाम खरीदी है. इससे झारखंड सरकार को लाखों रुपये के राजस्व का घाटा हुआ है.

इस शिकायत के साथ पैमेंट की रसीद और सभी डॉक्यूमेंट भी भेजा गया है. रसीद में इस बात का उल्लेख है कि, प्रॉपर्टी खरीदने के लिए सांसद की पत्नी की तरफ से तीन करोड़ नगद रुपये दिए गये, जो कि नियम के विरुद्ध हैं. इस मामले को लेकर झारखंड हाईकोर्ट (Jharkhand High Court) के अधिवक्ता राजीव कुमार ने कहा कि, वो आज कोर्ट में पीआईएल (PIL) दायर कर जांच की मांग करेगें.

वहीं, सांसद पर लग रहे आरोप पर जेएमएम प्रवक्ता मनोज पांडेय ने कहा कि, निशिकांत दुबे कॉरपोरेट के दलाल हैं, जो मामले सरकार और सीएम के संज्ञान में आए हैं, सरकार संज्ञान में लेगी और जांच होगी. कई शिकायत आ रहे हैं. 20 करोड़ की जमीन तीन करोड़ में कैश खरीदना क्या कानून जुर्म नहीं है. क्या उन्होंने नियम का उल्लंघन नहीं किया, वो तीन करोड़ आए कहां से, सब कुछ उनको बताना होगा. अब कई कारनामे उनके आ रहे हैं, अब तो उनको जवाब देना होगा.





Source link

पिछला लेखजानिए- किशमिश और शहद के हैरान कर देने वाले फायदे, शादीशुदा पुरुष को ऐसे पहुंचाते हैं लाभ
अगला लेखCM योगी ने दिये निर्देश- यूपी में बिना मास्क बाहर निकलने पर बढ़ सकती है जुर्माना राशि 
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।