पत्नी का सिर काटने पर केवल 8 साल की सजा: ईरान की सड़कों पर सिर लेकर घूमा था, लड़की के घरवालों ने ही माफ कर दिया

0
0


तेहरान10 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

यह वीडियो मोना का सिर लेकर घूम रहे उसके पति की है।

ईरान ने 17 साल की महिला का सिर काटकर सड़क पर हीरो की तरह घूमने वाले उसके पति को केवल 8 साल की सजा दी है। अदालत के प्रवक्ता ने इतना घिनौना अपराध करने वाले व्यक्ति को कम सजा देने की वजह बताई है। उसने कहा कि लड़की मोना के घरवालों ने ही आरोपी को कड़ी सजा दिलवाने की बजाय उसे माफ करने का फैसला किया था। जिसके चलते उसकी सजा को कम कर दिया गया।

BBC के मुताबिक अदालत के प्रवक्ता ने बताया कि जानबूझ कर की गई हत्या के मामले में ईरान में मौत की सजा दी जाती है। हालांकि, अगर मृतक का परिवार आरोपी को माफ कर दे तो सज कम कर दी जाती है। मोना की हत्या के मामले में उसके पति का भाई भी शामिल था। इसलिए उसे भी 45 महीने की सजा दी गई है।

यह तस्वीर ईरान की मोना हैदरी की है जिसकी उसके पति ने गला काटकर हत्या कर दी थी।

यह तस्वीर ईरान की मोना हैदरी की है जिसकी उसके पति ने गला काटकर हत्या कर दी थी।

12 साल की उम्र में शादी हुई थी
मृतक महिला मोना की केवल 12 साल की उम्र में ही आरोपी सज्जाद हैदरी के साथ शादी हो गई थी। BBC के मुताबिक 14 साल की उम्र तक उसे 2 बच्चे भी हो गए थे। सज्जाद हैदरी लगातार मोना के साथ घरेलू हिंसा करता था। उसे मारता-पीटता था। जिसके चलते मोना उससे काफी परेशान थी और अलग होना चाहती थी।

यह तस्वीर मोना की हत्या कर उसके सिर को लेकर सड़कों पर घूमते हुए उसके पति की है।

यह तस्वीर मोना की हत्या कर उसके सिर को लेकर सड़कों पर घूमते हुए उसके पति की है।

तलाक नहीं मिलने पर तुर्की भाग गई थी मोना
ईरान की लोकल मीडिया के मुताबिक मारपीट से परेशान मोना लगातार तलाक की मांग कर रही थी। जिसे सज्जाद हैदरी नकार रहा था। इससे परेशान होकर मोना ईरान छोड़कर तुर्की भाग गई थी। हालांकि, कुछ ही दिन बाद परिवार ने उसे वापस ईरान आने के लिए मजबूर कर दिया। मोना को परिवार के लोगों ने आश्वासन दिया गया था कि उसे कुछ नहीं होगा। उसे तलाक भी दिलवा दिया जाएगा।

पिछले साल सिर काटकर कर दी हत्या
परिवार के आश्वासन के बाद मोना पिछले साल यानी 2022 के फरवरी के महीने में वापस लौट आई। जिसके कुछ ही दिन बाद उसके पति ने उसका गला काटकर हत्या कर दी थी। मोना का सिर लेकर घूमते हुए उसके पति के वीडियो और फोटो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुए थे। जिसके बाद ईरान के लोगों ने घरेलू हिंसा के लिए सख्त कानून बनाने की मांग की थी।

ईरान से जुड़ी ये खबरें भी पढें…

मेरी मौत पर कुरान मत पढ़ना, जश्न मनाना:ईरान में सजा से पहले हिजाब विरोधी का आखिरी मैसेज, सरेआम फांसी दी गई

ईरान में दिसंबर में हिजाब का विरोध कर रहे 23 साल के लड़के को सरेआम फांसी दी गई। लड़के को फांसी पर लटकाए जाने से पहले का एक वीडियो सामने आया था। जिसमें वो लोगों से कुरान नहीं पढ़ने और अपनी मौत पर जश्न मनाने के लिए कह रहा था। पढ़ें पूरी खबर…

विरोध का अंजाम:ईरान ने हिजाब के खिलाफ प्रदर्शन करने वाले को दी मौत की सजा

ईरान में 8 दिसंबर, 2022 को सरकार के खिलाफ काम करने का दोषी पाए जाने पर मोहसिन शेखरी नाम के एक युवक को फांसी की सजा दी गई है। शेखरी पर 25 सितंबर को तेहरान के मेन रोड पर दंगे करने और बासिज फोर्स के एक सदस्य को चाकू मारकर घायल करने का आरोप था। पढ़ें पूरी खबर…

ईरान प्रदर्शन रोकने के लिए हद पार कर रहा:पुलिस आंखें फोड़ रही तो लोग पब्लिक में किस कर रहे, एंबुलेंस अस्पताल नहीं जेल पहुंचा रही

ईरान में हिजाब के खिलाफ जारी प्रदर्शनों से निपटने के लिए वहां की सरकार अलग-अलग तरीके अपना रही है। कहीं प्रदर्शनकारियों की आंखों को निशाना बनाया जा रहा है तो कहीं उन्हें डिटेन करने के लिए एंबुलेंस का इस्तेमाल किया जा रहा है। पढ़ें पूरी खबर..

खबरें और भी हैं…



Source link

पिछला लेखएग्जाम की तैयारी करने वाले 5 गलतियां कभी न करें: अपनी क्षमता कम न आंके, दूसरों के साथ तुलना न करें
अगला लेखSSC MTS Recruitment 2023: एसएससी एमटीएस और हवलदार पदों पर आवेदन शुरू, 10वीं पास के लिए करीब 11,000 पदों पर भर्ती
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।