पंजाब कांग्रेस में कल होगा बड़ा फैसला

0
0


Image Source : INDIA TV
सिद्धू से मुलाकात के बाद हरीश रावत ने कहा- पंजाब में शुक्रवार को होगा बड़ा फैसला

नई दिल्ली। पंजाब में कांग्रेस को लेकर शुक्रवार को बड़ा फैसला लिया जा सकता है। पार्टी के संगठन महासचिव के सी वेणुगोपाल और प्रदेश प्रभारी हरीश रावत ने नवजोत सिंह सिद्धू से करीब 40 मिनट बातचीत की। इंडिया टीवी के साथ बातचीत में हरीश रावत ने कहा कि सिद्धू से कांग्रेस संगठन को मजबूत करने के लिए कहा गया है। जब उनसे पूछा गया कि क्या आपने ये कहा कि वो अध्यक्ष पद पर रहेंगे? हरीश रावत ने कहा, मैंने ऐसा नहीं कहा, कल तक आपको स्थिति और साफ हो जाएगी।

सिद्धू के साथ बैठक के बाद हरीश रावत ने कहा, ‘सिद्धू ने आपसे स्पष्ट कहा है कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी का जो आदेश होगा, वह उन्हें मान्य होगा और वह उसका पालन करेंगे। आदेश बिल्कुल साफ है कि वह पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष के तौर पर अपना काम पूरी शक्ति से करें और सांगठनिक ढांचे को मजबूत करें। कल आपको इससे बड़ी सूचना विधिवत तरीके से मिल जाएगी।’

आलाकमान पंजाब के हित में फैसला लेगा- सिद्धू

कांग्रेस नेताओं से बातचीत के बाद सिद्धू ने कहा मुझे प्रियंका गांधी पर पूरा भरोसा है। राहुल और प्रियंका सही फैसला लेंगे। आलाकमान पंजाब के हित में फैसला लेगा। नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि ‘मैंने पंजाब के प्रति, पंजाब कांग्रेस के प्रति जो भी मेरी चिंताएं थी वो पार्टी हाईकमांड को बताई हैं। मुझे कांग्रेस अध्यक्ष पर, प्रियंका जी पर और राहुल जी पर पूरा भरोसा है। वे जो भी निर्णय लेंगे वो कांग्रेस और पंजाब के हित में होगा, उनके हर आदेश का पालन करूंगा।’ 

बता दें कि, सिद्धू ने 28 सितंबर को कांग्रेस की पंजाब इकाई के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को लिखे पत्र में सिद्धू ने कहा था कि वह पार्टी की सेवा करना जारी रखेंगे। उन्होंने पत्र में लिखा था, ‘‘किसी भी व्यक्ति के व्यक्तित्व में गिरावट समझौते से शुरू होती है, मैं पंजाब के भविष्य और पंजाब के कल्याण के एजेंडे को लेकर कोई समझौता नहीं कर सकता हूं।’’ कांग्रेस आलाकमान ने अब तक सिद्धू का इस्तीफा स्वीकार नहीं किया है। सूत्रों का कहना है कि 14 अक्टूबर की बैठक के बाद कुछ बिंदुओं पर सहमति बनेगी और फिर सिद्धू अपना इस्तीफा वापस लेने की घोषणा कर सकते हैं। 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पंजाब कांग्रेस में नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और सिद्धू के बीच भी खटपट की खबरें सामने आयी हैं।





Source link

पिछला लेखआर्यन के लिए मन्नत: गौरी खान ने नवरात्रि में रखा चीनी और मिठाई न खाने का व्रत, बेटा जेल से जल्दी छूट जाए इसलिए कर रहीं प्रार्थना
अगला लेखrealme ui 3.0 device list and features: Realme के इन स्मार्टफोन्स में आ रहे नए और धांसू फीचर्स, देखें पूरी लिस्ट और जानें हर सवाल का जवाब – realme ui 3.0 features and realme ui 3.0 device list check roll out schedule
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।