देश-दुनिया में कोरोना का खतरा: चीन की 64% आबादी संक्रमित; भारत में पिछले 24 घंटे में 174 नए मामले मिले

0
0


  • Hindi News
  • International
  • China US (Coronavirus) Outbreak Updates | Japan South Korea France COVID Active Cases Latest Update

16 मिनट पहले

चीन में कोरोना के मामले बढ़ने के साथ ही भारत, जापान और अमेरिका जैसे देशों में भी नई लहर का खतरा मंडराने लगा है। इसी बीच चीन की पेकिंग यूनिवर्सिटी की रिसर्च के मुताबिक, 11 जनवरी तक देश की 64% आबादी यानी 90 करोड़ लोग संक्रमित हो चुके हैं। इस रिपोर्ट में ये भी कहा गया कि गांसु प्रांत की 91% आबादी, हेनान प्रांत की 89% आबादी, युनान की 84% आबादी और किंघाई प्रांत की 80% आबादी संक्रमित है।

भारत में पिछले 24 घंटे में 174 नए मामले सामने आए। एक मौत दर्ज की गई। हेल्थ मिनिस्ट्री के आंकड़ों के मुताबिक, देश में अभी 1,336 एक्टिव केस हैं। कोरोना के शुरुआती दौर से अब तक देश में 5 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है।

पहले जानिए भारत में क्या है कोरोना की स्थिति…

अब जानिए दुनिया में कोरोना की क्या स्थिति है…

चीन : 8-12 जनवरी तक 4 लाख से ज्यादा एंट्री और एग्जिट ट्रिप हुईं
चीन ने 8 जनवरी को तीन साल से बंद सभी बॉर्डर को खोल दिया। इसके बाद से 4 लाख से ज्यादा लोगों चीन आए और यहां से दूसरे देश गए। लोगों के लिए क्वारैंटाइन जैसा बड़ा प्रोटोकॉल भी खत्म कर दिया गया है। एक अधिकारी ने कहा- 8 जनवरी से 12 जनवरी के बीच 4 लाख 90 हजार एंट्री और एग्जिट ट्रिप हुईं। इसमें से 2 लाख 50 हजार लोग चीन आए और 2 लाख 40 हजार लोग चीन से दूसरे देश गए।

ये जीरो कोविड पॉलिसी हटाए जाने से पहले की अवधि से 48.9% ज्यादा है। चीन में लूनर न्यू ईयर 21 जनवरी से शुरू हो जाएगा। ऐसे में अगले 40 दिन में देश में 200 करोड़ लोगों के आने-जाने की संभावना है।

हेल्थ एक्सपर्ट बोले- 2 से 3 महीने रहेगा पीक
चीन के ही हेल्थ एक्सपर्ट जेंग गुआंग ने दावा किया कि कोरोना की पीक 2 से 3 महीने तक रहेगी। गुआंग के मुताबिक, कोरोना अब वहां के गांवों में भी हाहाकार मचाएगा। गांव में कोरोना के फैलने की वजह चीन में 21 जनवरी से शुरू होने वाली लूनर न्यू ईयर की छुट्टियों को बताया है।

WHO ने भी चीनी नियू ईयर पर संक्रमण के तेजी से फैलने की चेतावनी दी थी।

WHO ने भी चीनी नियू ईयर पर संक्रमण के तेजी से फैलने की चेतावनी दी थी।

एक रिपोर्ट में गुआंग ने लिखा है कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में अभी तक शहर पर फोकस रखा गया है। अब समय आ गया है कि गांव की ओर भी ध्यान दिया जाए। लूनर न्यू ईयर की छुट्टियों लोग अपने गांव में जाकर समय बिताते हैं। एक्सपर्ट के मुताबिक, शहरों के लोग कोरोना को गांव तक लेकर जाएंगे। वहां स्वास्थ्य सेवाओं की कमी के कारण हालात और भी खराब होंगे।

चाइना कम्युनिस्ट पार्टी पर नजर रखने वाली ह्यूमन राइट्स एक्टिविस्ट जेनिफर जेंग के मुताबिक संक्रमण गांव में फैलने लगा है। उन्होंने सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया है। इसके साथ उन्होंने लिखा- शहरों में श्मशानों के बाहर गाड़ियों की लाइन लगी रहती है। लेकिन गांव में ऐसा नहीं है, यहां लोग श्मशानों के बाहर ताबूत में शवों को लेकर लाइन में लगे हैं।

जेंग ने ये वीडियो शेयर किया। हालांकि उन्होंने ये नहीं बताया कि वीडियो कहां का है और कब बनाया गया है।

जेंग ने ये वीडियो शेयर किया। हालांकि उन्होंने ये नहीं बताया कि वीडियो कहां का है और कब बनाया गया है।

जापान : एक लाख 44 हजार मामले आए
जापान टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, शुक्रवार (13 जनवरी) को 1 लाख 44 हजार 77 मामले दर्ज किए गए। राजधानी टोक्यो में 11,241 मामले सामने आए। मौत का कुल आंकड़ा 480 रहा। 695 नए लोग अस्पताल में भर्ती हुए। एक्सपर्ट्स का कहना है कि जापान में 15 जनवरी के बाद कोरोना के मामलों में उछाल आ सकता है।

दुनिया में 67 करोड़ से ज्यादा मामले

worldometer के मुताबिक, दुनिया के 64 करोड़ 16 लाख 8 हजार 915 लोग कोरोना से ठीक चुके हैं।

worldometer के मुताबिक, दुनिया के 64 करोड़ 16 लाख 8 हजार 915 लोग कोरोना से ठीक चुके हैं।

कोरोना worldometer के मुताबिक, दुनिया में अब तक 67 करोड़ 5 लाख 62 हजार 18 मामले सामने आ चुके हैं। 11 जनवरी 2020 को चीन के वुहान में 61 साल के बुजुर्ग की मौत हुई थी। ये दुनिया में कोरोना से होने वाली पहली मौत थी। इसके बाद मौत का सिलसिला बढ़ने लगा। अब तक 67 लाख 24 हजार 996 मौतें हो चुकी हैं।

इन देशों ने चीन के यात्रियों पर लगाया प्रतिबंध
चीन से आने वाले यात्रियों पर स्वीडन, जर्मनी, मलेशिया, कतर, बेल्जियम, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, मोरक्को, फ्रांस, ब्रिटेन, स्पेन, अमेरिका, जापान, इजराइल, भारत, इटली और साउथ कोरिया ने प्रतिबंध लगाए हैं। यहां चीन से आने वाले यात्रियों को नेगेटिव कोरोना रिपोर्ट दिखानी होगी। मोरक्को ने तो चीन के यात्रियों को बैन ही कर दिया है। ताइवान ने भी चीन से आने वालों के लिए कोविड टेस्टिंग कंपलसरी की है। पाकिस्तान और फिलीपींस भी मॉनिटरिंग कर रहे हैं। थाईलैंड और न्यूजीलैंड ने कोई भी प्रतिबंध लगाने से मना कर दिया है।

देश-दुनिया में कोरोना से जुड़ी ये खबरें भी पढ़ सकते हैं…​​​​​

23 जनवरी को चीन में कोरोना से 25 हजार मौतें होंगी; 3 हफ्ते में 18% आबादी संक्रमित हुई

चीन में कोरोना से हालात बेकाबू हो चुके हैं। HK पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक, दिसंबर के शुरुआती तीन हफ्ते में ही यहां 25 करोड़ लोग कोरोना से संक्रमित हो गए हैं। यह आबादी का 18% है।​​​​​​ पढ़ें पूरी खबर…

क्या कोरोना में चीन की सख्ती सिर्फ दिखावा थी; 5 दावों की पड़ताल ताकि आज उसकी बदहाली की वजह मिले

चीन में संक्रमण के हालात 2020 की याद दिला रहे हैं। तब से अब तक शी जिनपिंग सरकार ने इससे निपटने के लिए सख्त नियम लागू किए। जीरो कोविड पॉलिसी लाई गई। बेहद सख्त लॉकडाउन लगते रहे। तमाम दावों और वादों के बावजूद कोरोना कंट्रोल नहीं किया जा सका। पढ़ें पूरी खबर…

खबरें और भी हैं…



Source link

पिछला लेखहिंदी बोलने वाले सूरीनाम के राष्ट्रपति बॉलीवुड फिल्मों और पुराने गानों के दीवाने, NDTV से की चर्चा
अगला लेखHoroscope Today 14 January 2023: मेष में एक नहीं बन रहे हैं 3 राजयोग, सभी राशियों का जानें आज क
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।