दिल्ली के जंतर-मंतर पर किसानों की महापंचायत आज, पुलिस ने जारी की ट्रैफिक एडवाइजरी

0
0


ट्रैफिक पर पड़ेगा महापंचायत का असर

नई दिल्ली:

आज संयुक्त किसान मोर्चे के आह्वान पर दिल्ली के जंतर मंतर पर किसान महापंचायत है. जिसमें लोग बड़ी तादाद में हिस्सा लेंगे. संयुक्त किसान मोर्चा अराजनैतिक ने 22 अगस्त को दिल्ली के जंतर-मंतर पर किसान महापंचायत का ऐलान किया है. नतीजतन अलग-अलग राज्यों के किसान दिल्ली की तरफ रवाना हो चुके हैं. जानकारी के मुताबिक यह एक दिन का कार्यक्रम होगा, जो पूर्ण तौर पर शांति व अनुशासन के साथ आयोजित किया जाएगा. जंतर-मंतर पर आज किसानों के विरोध-प्रदर्शन के आह्वान से पहले सिंघू बॉर्डर पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है. साथ ही राजधानी में आने वाले वाहनों पर कड़ी नजर रखी जा रही है.

यह भी पढ़ें

जंतर मंतर पर यह पंचायत सुबह 11 बजे से शाम 4 बजे तक आयोजित की जाएगी. इस पंचायत के समापन के बाद महामहिम राष्ट्रपति जी को ज्ञापन सौंपा जाएगा. संयुक्त किसान मोर्चा ने जानकारी देते हुए बताया कि यदि सरकार किसी भी तरह का व्यवधान डालने का प्रयास करेगी तो उसके लिए सरकार स्वयं जिम्मेदार होगी. दरअसल किसान पंचायत की तरफ से कई मांगे की जा रही है. जिनमें एक प्रमुख मांग ये है कि लखीमपुर खीरी नरसंहार के पीड़ित किसान परिवारों को इंसाफ मिले, वहीं जेलों में बंद किसानों की रिहाई व नरसंहार के मुख्य दोषी केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी की गिरफ्तारी की जाए.

इसी के साथ मांग की गई है कि स्वामीनाथन आयोग के C2+50% फॉर्मूले के अनुसार MSP की गारंटी का कानून बनाया जाए और देश के सभी किसानों को कर्जमुक्त किया जाए. बिजली बिल 2022 रद्द किया जाए. किसानों की प्रमुख मांग ये भी है कि गन्ने का समर्थन मूल्य बढ़ाया जाए और गन्ने की बकाया राशि का भुगतान तुरन्त किया जाए. वहीं किसान आंदोलन के दौरान दर्ज किए गए सभी मुकदमे वापस लेने के साथ अग्निपथ योजना का मुद्दा भी काफी अहम है.

ये भी पढ़ें : भारतीय फुटबॉल टीम के पूर्व कप्तान बाइचुंग भूटिया ने फुटबॉल संघ मामले में लगाई हस्तक्षेप याचिका

ट्रैफिक पुलिस के मुताबिक, सोमवार सुबह 10 बजे से जंतर मंतर पर किसान महापंचायत शुरू होगी, जिसमें करीब 4-5 हजार लोगों के शामिल होने की संभावना है. नतीजतन टॉलस्टॉय मार्ग, संसद मार्ग, जनपथ, विंडसर प्लेस, कनॉट प्लेस, अशोक रोड, बाबा खड़क सिंह मार्ग, पंडित पंत मार्ग समेत आस-पास के कई रास्तों पर दिनभर कंजेशन रहने की संभावना है. साथ ही लोकल पुलिस भी कई जगह बैरिकेडिंग कर सकती है. इसलिए ट्रैफिक पुलिस ने लोगों से सुबह एक्स्ट्रा टाइम लेकर घर से निकलने और कंजेशन से बचने के लिए निजी वाहनों के बजाय मेट्रो का इस्तेमाल करने की सलाह दी है.

VIDEO: दिल्ली के एलटीजी सभागार में नाटक ‘मगध’ का हुआ मंचन





Source link

पिछला लेखगणेश चतुर्थी कब है? 10 दिन चलने वाला गणेश महात्सव इस दिन से होगा शुरू, नोट कर लें गणेश विसर्जन
अगला लेखराजस्थान हाईकोर्ट में 2756 पदों पर निकली भर्ती: 18 से 40 साल तक के कैंडिडेट्स 22 सितम्बर तक कर सकेंगे अप्लाई, 65,900 तक मिलेगी सैलरी
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।