‘दशहरा रैली’ उद्धव और शिंदे गुट के लिए बनी वर्चस्व की लड़ाई, जानें पूरा मामला

0
0


महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे और पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (फाइल फोटो).

खास बातें

  • एकनाथ शिंदे गुट को बीकेसी में रैली की इजाजत मिली
  • शिंदे गुट ने शिवाजी पार्क में भी अपना दावा बरकरार रखा
  • बीजेपी का दावा- महाराष्ट्र में मौजूदा सरकार हिंदुत्ववादी

मुंबई:

मुंबई (Mumbai) के शिवाजी पार्क (Shivaji Park) में दशहरा रैली (Dussehra rally) के आयोजन को लेकर दावे पर विवाद जारी है. शिवसेना (Shiv Sena) के एकनाथ शिंदे गुट ने बीकेसी में रैली की इजाजत मिलने के बावजूद शिवाजी पार्क में भी अपना दावा बरकरार रखा है. शिवाजी पार्क को लेकर बीएमसी ने अभी तक कोई फैसला नहीं लिया है, लेकिन शिवसेना शिवाजी पार्क पर ही अपनी परंपरा का हवाला देते हुए अड़ी हुई है. 

यह भी पढ़ें

जानकारों का मानना है कि अगर उद्धव ठाकरे गुट को शिवाजी पार्क में दशहरा रैली आयोजित करने की इजाजत मिल जाती है तो राज्य भर में यह संदेश जाएगा कि शिवसेना की असली विरासत उद्धव ठाकरे गुट के पास है. इसलिए सरकार की तरफ से मामले को उलझाए रखा गया है.

महाराष्ट्र बीजेपी का दावा है कि महाराष्ट्र में मौजूदा सरकार हिंदुत्ववादी है. राज्य के पर्यटन मंत्री मंगलप्रभात लोढ़ा ने एक कार्यक्रम में कहा कि जिस तरह से औरंगाबाद जिले का नाम बदलकर संभाजी नगर किया वैसे ही दौलताबाद किले का नाम बदलकर देवगिरी किया जाएगा.

महाराष्ट्र बीजेपी ने उनके इस बयान को ट्वीट करते हुए लिखा है कि, हां ये हिंदुत्ववादी सरकार है.

दशहरा रैली पर शिवसेना में उद्धव गुट और शिंदे गुट में हो सकता है टकराव





Source link

पिछला लेखदिवाली से पहले चमकाना है घर? ये हैं Amazon पर सबसे ज्यादा बिकने वाले बेस्ट 5 वैक्यूम क्लीनर
अगला लेखMP News: इंदौर में पुलिस के सामने एक व्यक्ति ने खुद को लगाई आग, 41% झुलसा अस्पताल में भर्ती
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।