डायबिटीज और इन 4 हेल्थ कंडिशंस से पीड़ित लोगों को नहीं करना चाहिए हरे मटर का सेवन

0
0


हाइलाइट्स

हरे मटर में डाइट्री फाइबर, स्टार्च और फाइटोकेमिकल्स होते हैं.
हरे मटर के कई हेल्थ बेनिफिट्स और कुछ नुकसान भी हो सकते हैं.
डायबिटीज, ब्लोटिंग, किडनी प्रॉब्लम, मोटापा में इन्हें सीमित मात्रा में खाना चाहिए.

Green peas: हरे मटर न केवल स्वादिष्ट होते हैं बल्कि इसके कई हेल्थ बेनिफिट्स भी हैं. यही कारण है कि लोग इन्हें अपनी डाइट में शामिल करना पसंद करते हैं. ऐसा माना जाता है कि इनमें डाइटरी फाइबर, स्टार्च, प्रोटीन, विटामिन और लाभदायक फाइटोकेमिकल्स होते हैं. जिसके कारण इन्हें खाना हेल्दी के लिए बहुत फायदेमंद है. लेकिन, कई हेल्थ कंडिशंस में इसका सेवन बेनेफिशियल नहीं माना गया है जैसे डायबिटीज. डायबिटीज पेशेंट्स को इनका सेवन करने से बचना चाहिए, क्योंकि इनमें कार्बोहाइड्रेट्स की मात्रा बहुत अधिक होती हैं, जिससे शुगर लेवल बढ़ सकता है. डायबिटीज के अलावा कुछ अन्य हेल्थ कंडिशंस से पीड़ित लोगों को भी हरे मटर का सेवन नहीं करना चाहिए. आइए जानें इन हेल्थ कंडिशंस के बारे में.

ये भी पढ़ें: क्या है हियरिंग लॉस और ऑटिज्म स्पेक्ट्रम डिसऑर्डर? जानें इनके बीच का लिंक

इन हेल्थ कंडिशंस पेशेंट्स को हरे मटर नहीं खाने चाहिए
हेल्थलाइन के अनुसार हरे मटर एक महत्वपूर्ण सब्जी है. इसमें फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट होते हैं. इसके कुछ लाभ हैं, लेकिन कुछ नुकसान भी हो सकते हैं. आइए जानते हैं कि किन हेल्थ कंडिशंस के पेशेंट्स को इन्हें नहीं खाना चाहिए या सीमित मात्रा में खाना चाहिए:

ब्लोटिंग- अगर आपको ब्लोटिंग, कब्ज या गैस की समस्या है, तो अधिक मात्रा में हरे मटर का सेवन करने से आपकी कंडिशन बदतर हो सकती है. ऐसे में, इन समस्याओं से पीड़ित लोगों को इनका सेवन करने से बचना चाहिए.

किडनी प्रॉब्लम्स- हरे मटर में हाई प्रोटीन कंटेंट होता है. इसलिए, इसका अधिक मात्रा में सेवन करने से किडनी की फंक्शनिंग में प्रभाव पड़ता है और किडनी प्रॉब्लम्स बढ़ सकती हैं. किडनी के रोगी को भी इन्हें सीमित मात्रा में लेना चाहिए.

ये भी पढ़ें: क्या है कफ वैरिएंट अस्थमा, जानिए कारण, लक्षण और बचाव के उपाय

मोटापा- अगर आप वजन कम करना चाहते हैं, तो भी आपको हरे मटर का सेवन नहीं करना चाहिए या इन्हें कम खाना चाहिए . हरे मटर का अधिक सेवन करने से अचानक वजन बढ़ सकता है और फैट बिल्ड हो सकता है.

जोड़ों में दर्द- अगर किसी को हाई यूरिक एसिड की समस्या है, तो उन्हें भी इसे नहीं खाना चाहिए. क्योंकि, ज्यादा हरे मटर खाने से यूरिक एसिड लेवल बढ़ सकता है, जो जोड़ों में दर्द का कारण बन सकता है.

Tags: Health, Lifestyle



Source link

पिछला लेखहो जाएं तैयार ! इलेक्ट्रिक बाइक्स और स्कूटर्स की नई रेंज लाएगी OLA
अगला लेखउर्वशी रौतेला ने अब ऋषभ पंत और उनके परिवार के लिए किया ट्वीट! फैन्स बोले- ये होता है सच्चा प्यार
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।