डाइट में शामिल करें 6 फूड्स, जल्द ठीक होगा मंकीपॉक्स और मजबूत होगी इम्यूनिटी

0
2


Food for Monkeypox recovery: मंकीपॉक्स का खतरा रोजाना दुनियाभर में बढ़ता जा रहा है. भले ही यह नया वायरस कोविड-19 (coronavirus) के तरह तेजी से नहीं फैल रहा लेकिन एक अध्ययन को अनुसार, पांच में से एक अमेरिकी मंकीपॉक्स होने से चिंतित हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) का कहना है कि यह बीमारी धीरे-धीरे दुनिया भर में फैल रही है और इसका कोई टीका भी नहीं है. इसलिए मंकीपॉक्स से बचने के लिए आपको पौष्टिक आहार सहित कई एहतियाती उपायों का पालन करना चाहिए. एक अच्छी डाइट न केवल आपको मंकीपॉक्स से बचाएगा, बल्कि वायरस से लड़ने और ठीक करने में भी मदद करेगा.

रिच प्रोटीन फूड (rich protein food)
प्रोटीन आपकी अच्छी सेहत के निर्माण के लिए जरूरी है. कम इम्यूनिटी के कारण आपको अपने शरीर की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए अधिक प्रोटीन खाना चाहिए. यह आपकी इम्यूनिटी को मजबूत और खराब सेल्स (damaged cells) को ठीक करेगा. मंकीपॉक्स के मरीजों के लिए सोया, पनीर, स्प्राउट्स, दही, बीज, मेवा, दाल और अन्य प्रोटीन वाले फूड्स का सेवन फायदेमंद होता है.

अंडे
रिच प्रोटीन के साथ अंडे में कई अन्य पोषक तत्व भी होते हैं, जो आपके स्वास्थ्य में काफी सुधार ला सकते हैं. अंडा विटामिन ए, डी, ई, कोलीन, आयरन और फोलेट जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं, जो मांसपेशियों के स्वास्थ्य और इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाने में मदद करता है. इसके अलावा, अंडे में सेलेनियम पाया जाता है, जो एक आवश्यक पोषक तत्व है. यह शरीर को ऑक्सीडेटिव डैमेज और संक्रमण से बचाता है.

विटामिन-सी से भरपूर फल
विटामिन सी एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट के साथ सफेद रक्त कोशिकाओं (white blood cells) के विकास में मदद करता है, जो इम्यून सिस्टम के लिए जरूरी है. ये बीमारी और संक्रमण के खिलाफ शरीर की रक्षा में भी सहायता करते हैं. नींबू, संतरा, कीवी, स्ट्रॉबेरी, आंवला, पपीता और चेरी जैसे हाई विटामिन सी वाले फल इम्यूनिटी के निर्माण और सेलुलर फंक्शन को बनाए रखने में मदद करते हैं.

पुदीना
पुदीना एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन सी, ई, और ए जैसे अन्य खनिज पोषक तत्वों से भरपूर होता है, जो मुक्त कणों (free radicals) से होने वाले नुकसान को रोकने में मदद करता है. पुदीने में मेथनॉल भी होता है, जो मांसपेशियों और पाचन तंत्र (digestive system) को आराम देने में मदद करता है. पुदीना खांसी अस्थमा जैसी अन्य सांस संबंधी बीमारियों के इलाज में भी मदद करता है.

तुलसी
तुलसी की पत्तियां एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटी बैक्टीरियल और एंटीऑक्सीडेंट होती हैं, जो आपके इम्यूनिटी सिस्टम को बूस्ट करने में मदद करती हैं. तुलसी सामान्य फ्लू के लक्षणों के लिए भी फायदेमंद साबित होता है.

गट हीलिंग प्रोबायोटिक्स (Gut-healing probiotics)
लहसुन, प्याज और केला जैसे गट हीलिंग प्रोबायोटिक्स फूड आपके पूरे हेल्थ में सुधार करता है. आप किशमिश, दही, लो फैट पनीर जैसे फूड आपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं. यह एक कूलेंट की तरह काम करते हैं.

Disclaimer:
इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है. हालांकि इसकी नैतिक जिम्मेदारी ज़ी न्यूज़ हिन्दी की नहीं है. हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें. हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है.





Source link

पिछला लेख​​Visva Bharati Recruitment 2022: विश्व भारती यूनिवर्सिटी में निकली बम्पर पदों पर वैकेंसी
अगला लेखलास्ट चांस बचा है BIBA, W और Indya के पार्टी वियर सूट 80% तक के डिस्काउंट पर खरीदने का
लेटेस्त भारतीय ब्रेकिंग न्यूज़, अंतर्राष्ट्रीय न्यूज़, भारत से नवीनतम हिंदी समाचार और विदेश से ट्रेंडिंग न्यूज़ केवल और केवल सतर्क न्यूज़ पर पढ़ें। धर्म, क्रिकेट, व्यवसाय, तकनीक, शीर्ष कहानियों, मौसम, मनोरंजन, राजनीति और अधिक तर जानकारी प्राप्त करें।